Hindi News »Rajasthan »Bhiwadi» मंत्री सहित भाजपा के 5 विधायकों का अलवर में मोर्चा, वहां डेढ़ लाख वोटों से हारे

मंत्री सहित भाजपा के 5 विधायकों का अलवर में मोर्चा, वहां डेढ़ लाख वोटों से हारे

भास्कर संवाददाता | भरतपुर/अलवर अलवर उपचुनाव की रिपोर्ट भरतपुर में काफी राजनीतिक उतार-चढ़ाव लाएगी। पर्यटन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 05:30 AM IST

भास्कर संवाददाता | भरतपुर/अलवर

अलवर उपचुनाव की रिपोर्ट भरतपुर में काफी राजनीतिक उतार-चढ़ाव लाएगी। पर्यटन मंत्री कृष्णेंद्र कौर सहित भाजपा के पांच विधायकों ने अलवर में अलग-अलग मोर्चा संभाला लेकिन सभी जगह भाजपा बुरी तरह पिछड़ी। कामां विधायक जगत सिंह को लक्ष्मणगढ़ विधानसभा में लगाया यहां तो हार का आंकड़ा 49 हजार पर पहुंच गया। कृष्णेंद्र कौर, विधायक बंसल, अनितासिंह व बच्चूसिंह के सभी के प्रभार वाले क्षेत्रों में भाजपा को शिकस्त खानी पड़ी। वहीं कांग्रेस से वैर विधायक भजनलाल जाटव व पूर्व जिलाध्यक्ष गिरीश चौधरी के नंबर बढ़ गए है। उनके प्रभार वाले क्षेत्रों में कांग्रेस काफी अच्छी स्थिति में रही। अलवर उपचुनाव में दोनों ही पार्टियों के जिला स्तर के नेताओं ने ताकत लगाई थी। संगठन पदाधिकारियों के साथ-साथ विधायकों ने भी कामकाज संभाला। कैंप किए थे। भाजपा के चुनाव प्रभारी ताे भरतपुर निवासी प्रदेश महामंत्री भजनलाल शर्मा थे। वहीं कांग्रेस में संगठन प्रभारी पूर्व जिलाध्यक्ष गिरीश चौधरी ने मोर्चा संभाला। भरतपुर भाजपा को जिस रामगढ़ की जिम्मेदारी मिली, वहां 35 हजार 990 वोटों से पार्टी हार हुई है।

भाजपा|जगतसिंह के प्रभार वाले इलाके में 49 हजार से पिछड़ी

विधायक जगतसिंह: इन्हें पार्टी ने लक्ष्मणमढ़ विधानसभा क्षेत्र में लगाया था। इसकी वजह ये थी कि जगतसिंह पहले यहां से विधायक रह चुके हैं। इसके अलावा जाट वोटरों की यहां अच्छी तादाद है, किंतु यहां भाजपा 49,164 वोटों से पिछड़ गई।

भरतपुर विधायक विजय बंसल: इन्हें पार्टी ने अलवर शहर में लगाया था, क्योंकि अलवर शहर में वैश्य जाति के बड़ी संख्या में वोट हैं। यहां के विधायक बनवारीलाल भी वैश्य समाज से हैं। यहां पार्टी बुरी तरह हारी है। यहां पार्टी को 24,457 वोट से हार मिली है।

पार्टी ने इनकी चुनाव ड्यूटी अलवर ग्रामीण इलाके में लगाई थी। यहां जाट वोटों का प्रभाव है। इसके अलावा उन्हें बड़ौदा मेव में सीएम सभा का प्रभारी बनाया गया था, किंतु पार्टी 32 हजार 273 वोटों से हार गई।

संगठन ने इन्हें भिवाड़ी क्षेत्र में लगाया गया था, क्योंकि यहां गुर्जर वोटों का दबदबा है। किंतु उनके प्रभाव का पार्टी को खास लाभ नहीं मिल पाया। तिजारा क्षेत्र से भाजपा 12,483 वोटों से पिछड़ गई। इस हार से भाजपा कार्यकर्ता काफी मायूस नजर आए।

मंत्री कृष्णेंद्र कौर दीपा

विधायक अनीता सिंह

बयाना विधायक बच्चूसिंह: बच्चूसिंह बंशीवाल जाटव समाज से हैं। इसलिए पार्टी ने रामगढ़ क्षेत्र में लगाया था। यहां दलित वोट अधिक है, किंतु विधायक बंशीवाल के प्रयास काम नहीं आए। रामगढ़ क्षेत्र से पार्टी को 35,990 वोटों से हार का सामना करना पड़ा।

कांग्रेस|भजनलालजाटव व गिरीश चौधरी के नंबर बढ़ेंगे

वैर विधायक भजनलाल जाटव: कांग्रेस पार्टी ने वैर विधायक भजनलाल जाटव को रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र में लगाया था, क्योंकि यहां दलित समाज के अच्छी खासी संख्या में वोट हैं। कांग्रेस पार्टी ने रामगढ़ विधानसभा सीट ने 35,990 वोटों से लीड ली है। इसका लाभ वैर विधायक भजनलाल जाटव को मिलेगा। अगले चुनाव के लिए प्लस प्वाइंट मिल गए हैं।

पूर्व जिलाध्यक्ष गिरीश चौधरी| अलवर के संगठन प्रभारी हैं। उन्हें पार्टी ने किशनगढ़बास क्षेत्र और विशेषकर कोटकासिम इलाके में लगाया था। यहां पार्टी ने 11,154 वोटों से जीत हासिल की है। इससे इनका पार्टी में ग्राफ बढ़ जाएगा। क्योंकि इस दौरान चौधरी पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट के नजदीक रहे।

नाक, कान व गला रोग निदान शिविर आयोजित

कायसा | कस्बे में गुरुवार को अटल सेवा केंद्र पर डॉक्टर ऋषभ जैन एवं सहयोगी विशेषज्ञ डॉक्टर्स व ग्राम पंचायत कायसा के संयुक्त तत्वावधान में नाक, कान व गला रोग निदान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में सैकड़ों मरीजों का रजिस्ट्रेशन किया गया। मरीजों का चिकित्सकीय परामर्श के साथ दूरबीन के द्वारा जांच की गई एवं सभी मरीजों को निशुल्क दवा भी दी गई। शिविर में सरस डेयरी एवं अमूल डेयरी के उपभोक्ताओं के लिए केसलैस की सुविधा दी गई। वहीं शिविर में नाक, कान, गला के 4 मरीजों को जयपुर इलाज के लिए रैफर किया गया। इस मौके पर सिद्धम कान, नाक, गला हॉस्पिटल जयपुर की चिकित्सकीय टीम एवं ग्रामवासी मौजूद रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhiwadi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×