हरीश बेकरी पर दीपक ने की थी फायरिंग

Bhiwadi News - हरीश बेकरी के बाहर फायरिंग व रंगदारी के लिए धमकी देने के मामले में मंगलवार को भौंडसी जेल से गिरफ्तार 3 बदमाशों ने...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:31 AM IST
Bhiwadi News - rajasthan news deepak had firing on harish bakery
हरीश बेकरी के बाहर फायरिंग व रंगदारी के लिए धमकी देने के मामले में मंगलवार को भौंडसी जेल से गिरफ्तार 3 बदमाशों ने अपने चौथे सहयोगी का नाम उगल ही दिया। यह उनका पुराना सहयोगी था और अब पुलिस उसकी तलाश में जुट गई है। ज्ञातव्य है कि अलवर बाइपास पर हरीश बेकरी पर 10 मई को फायरिंग कर बदमाश 30 लाख रुपए पहुंचाने की धमकी लिखी पर्ची पटक गए थे। पर्ची में दीपक यदुवंशी व सचिन उर्फ कच्छू का नाम लिखा था जो हत्या के मामले में भौंडसी जेल में बंद थे। इन दोनों को ही पुलिस 14 मई को भौंडसी जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाकर पूछताछ कर रही है। थाना प्रभारी बालाराम चौधरी ने बताया कि पहले दीपक व सचिन पुलिस को अलग-अलग नाम बताकर गुमराह कर रहे थे। अब बताया है कि बदमाश पवन ने जेल में उन्हें अपने गुर्गे के जरिये मोबाइल उपलब्ध करवाया था। जिसके माध्यम से उन्होंने अपने पूर्व सहयोगी सिंधरावली गांव निवासी बदमाश दीपक वाल्मीकि को हरीश बेकरी संचालक को रंगदारी की धमकी देने का जिम्मा सौंपा था। दीपक एक अन्य सहयोगी को लेकर भिवाड़ी पहुंचा था। उसे रंगदारी की धमकी की पर्ची देने और बाहर आकर फायरिंग करने के लिए कहा गया था। इतना करके वह फरार हो गया। बालाराम ने बताया कि दोनों को शनिवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक पुलिस को यह भी पता चला है कि बदमाशों जेल में बैठकर वसूली नेटवर्क तैयार करना चाहते थे, लेकिन इस बारे में पुलिस ज्यादा बताने को तैयार नहीं है। फायरिंग का आरोपी दीपक बिलासपुर थाने में हत्या के प्रयास के मामले में भी वांछित बताया गया है।

गज्जू गिरफ्तार, पुलिस ने पूछताछ की

शहर के गौरव पथ पर बीकानेर मिष्ठान भंडार (बीएमबी) के मालिक से 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने भौंडसी जेल से बदमाश गज्जू उर्फ गजराज निवासी मिलकपुर को प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया है। थाना प्रभारी बालाराम चौधरी ने बताया कि इस मामले में मिलकपुर निवासी गज्जू व सैदपुर निवासी चरणा दो बदमाशों के नाम सामने आए थे। अलवर जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर चरणा से पूछताछ की तो उसने पूरी साजिश खुलासा कर बताया था कि भौंडसी जेल में बंद गज्जू से वह तिजारा में पेशी के दौरान मिला। तभी दोनों ने रंगदारी की साजिश रची। चरणा ने अलवर जेल से बीएमबी संचालक को 20 लाख रुपए के लिए फोन किया। बीएमबी संचालक के मोबाइल नंबर उसे गज्जू ने दिए थे। चरणा को धमकी देने का जिम्मा दिया गया था। बाकी काम गज्जू अपने गुर्गों के मार्फत कराने वाला था। पुलिस ने गज्जू को अब एक दिन के रिमांड पर लिया है और बाहर घूम रहे उसके इन्हीं गुर्गों के बारे में पूछताछ करेगी। ज्ञातव्य है कि वर्ष 2017 में भी गज्जू ने बीएमबी संचालक को रंगदारी देने के लिए धमकी और फिर उसके प्रतिष्ठान पर दिनदहाड़े फायरिंग की थी।

गिरफ्तार बदमाश गज्जू।

X
Bhiwadi News - rajasthan news deepak had firing on harish bakery
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना