--Advertisement--

ब्राह्मण समाज ने मृत्युभोज कुप्रथाओं पर लगाया अंकुश

बिजयनगर| जयपुरविचार महाकुम्भ से प्रेरणा लेकर स्थानीय शाकद्वीपीय ब्राह्मण समाज द्वारा सूर्य मंदिर पर मृत्युभोज...

Danik Bhaskar | Jan 05, 2018, 02:25 AM IST
बिजयनगर| जयपुरविचार महाकुम्भ से प्रेरणा लेकर स्थानीय शाकद्वीपीय ब्राह्मण समाज द्वारा सूर्य मंदिर पर मृत्युभोज इससे संबंधित कुप्रथाओं पर अंकुश लगाने के अहम फैसले लिए। शाकद्वीपीय ब्राह्मण समाज सचिव सुरेश कुमार शर्मा ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि मृत्यु भोज एवं इससे संबंधित कुप्रथाओं पर अंकुश लगाने के लिए मिष्ठान आदि को निषेध किया है। वहीं बिजयनगर समाज बाहर जाने की स्थिति में मिष्ठान ग्रहण नहीं करेगा। उन्होंने बताया कि ऐसे मौको पर पाली समाज की तर्ज पर पूरे दिनों पर सात्विक भोजन बनाया जाएगा। समाज ने ओढ़वणी पहरावणी प्रथा बन्द करने एवं लेण लेना देना भी निषेध किया है। समाज द्वारा छह मासी बारह मासी या दिवंगत की स्मृति में अन्य प्रकार से किया जाने वाला भोज भी मृत्यु भोज की श्रेणी में शामिल किया गया है। सचिव शर्मा ने बताया कि बहरहाल ये नियम केवल बिजयनगर समाज पर आगामी 24 जनवरी से लागू होंगे। तत्पश्चात सूर्य सप्तमी पर बिजयनगर के आस-पास के समाज बंधुओं को आमंत्रित कर वहां पर भी ऐसी कुप्रथाओं पर अंकुश लगाने के प्रयास किए जाएंगे।