बिजयनगर

--Advertisement--

सिद्धाचल गिरिराज के दर्शन मात्र से जीवन सफल

साध्वी डॉ. नीलांजनाश्री जी म.सा. ने कहा कि सिद्धाचल शत्रुंजय गिरिराज शाश्वत तीर्थ है जिसके दर्शन मात्र से जीवन का...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 02:25 AM IST
सिद्धाचल गिरिराज के दर्शन मात्र से जीवन सफल
साध्वी डॉ. नीलांजनाश्री जी म.सा. ने कहा कि सिद्धाचल शत्रुंजय गिरिराज शाश्वत तीर्थ है जिसके दर्शन मात्र से जीवन का उद्धार हो सकता है। वे बुधवार को यहां संभवनाथ जैन मंदिर में आयोजित धर्मसभा को सम्बोधित कर रही थीं।

उन्होंने कहा कि सिद्धाचल के एक एक कण-कण, अणु-अणु व परमाणु में अनंता-अनंता सिद्ध आत्माएं हुई है। जिनकी गणना नहीं की जा सकती है। जिसे तीर्थंकर परमात्मा भी नहीं गिन सके। स्वयं परमात्मा ने कहा है कि ये सिद्धाचल गिरीराज तो ऐसा है कि यहां अनंत आत्माएं मोक्ष को प्राप्त हुई है। हम इतने उदार दिल बनें कि हमने सिद्धाचल तीर्थ की यात्रा जीवन में एक बार अवश्य करनी चाहिए।

साध्वी डॉ. नीलांजनाश्री म.सा. ने विविध धार्मिक, सामाजिक समारोह में जाने वाले जूठन पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि हमारे भीतर में इतना भी सामान्य ज्ञान नहीं है कि झूठा छोड़कर न केवल अन्न का अपमान कर रहे हैं बल्कि किसी जरूरतमंद को भी उस भोजन से वंचित कर देते है। उन्होंने भीख मांगकर पेट की भूख मिटाने वाले का उदाहरण प्रस्तुत करते हुए कहा कि उसे पूछें कि कितने जगह भीख मांगने के बाद कहीं जाकर दो निवाले नसीब होते हैं। साध्वी श्री ने कहा कि इतना ही नहीं हमारे द्वारा जूठन छोड़ने के बाद कितने जीवों की हिंसा होती है। इस अवसर पर उन्होंने उपस्थित धर्मावलंबियों को घर पर अथवा तो किसी भी समारोह में झूठा नहीं छोड़ने एवं भोजन में जरूरत से कम सामग्री का उपयोग करने की प्रेरणा प्रदान की।

बिजयनगर। संभवनाथ जैन मंदिर में धर्मसभा को सम्बोधित करते साध्वी डॉ. नीलांजनाश्री जी म.सा.।

X
सिद्धाचल गिरिराज के दर्शन मात्र से जीवन सफल
Click to listen..