Hindi News »Rajasthan »Bijaynagar» अाग पर काबू पाने से पहले 5 बाड़ों में नुकसान

अाग पर काबू पाने से पहले 5 बाड़ों में नुकसान

देवलिया कलां। कस्बे में लगी भीषण आग मवेशियों का चारा जल गया। देवलियां कलां से कोटिया रोड स्थित मवेशियों के बाड़े...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 08, 2018, 03:40 AM IST

देवलिया कलां। कस्बे में लगी भीषण आग मवेशियों का चारा जल गया। देवलियां कलां से कोटिया रोड स्थित मवेशियों के बाड़े बने हुए हैं। दिन में करीब 2 बजे अचानक आग लग गई। ग्रामीणों ने समय रहते बाड़ों में बंधी गायों व मवेशियों को बाहर निकाला। गणपत सिंह राठौड़ ने उपखंड अधिकारी राजेंद्र सिंह शेखावत को सूचना दी।

इस पर बिजयनगर नगरपालिका व हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड आगूचा जिला भीलवाड़ा में संपर्क कर तत्काल फायर ब्रिगेड की व्यवस्था की गई। ग्रामीणों ने भिनाय पुलिस प्रशासन को सूचना दी। सूचना मिलते ही बीट प्रभारी हरिराम मीणा ने पहुंचकर जेसीबी से आग पर मिट्टी डलवाई। ग्रामीणों ने अपने टैंकरों से पानी की व्यवस्था की। इससे आग पर जल्द ही काबू पा लिया गया, लेकिन फिर भी 5 व्यक्तियों के बाड़ों में रखा मवेशियों का चारा जलकर खाक हो गया। मौके पर अधिकारियों ने नुकसान का जायजा लिया ओर मौका रिपोर्ट तैयारी कराई। इसमें करीब 15 ट्रॉली चारा चल कर राख हो गया। इस दौरान सरपंच फतहचंद महात्मा ने बताया कि प्रशासन सहयोग करे तो ग्राम पंचायत देवलिया कलां अपनी निजी आय से फायर ब्रिगेड की व्यवस्था ग्राम पंचायत स्तर पर कर सकती है।

देवलिया कलां. बाड़े में लगी भीषण आग को बुझाने में जुटे ग्रामीण।

मसूदा में चार ट्रॉली चारा हुआ स्वाहा

मसूदा । ग्राम सरश्या श्यामगढ़ में अज्ञात कारणों के चलते लगी आग से चार ट्रॉली चारा जलकर स्वाहा हो गया। जानकारी के अनुसार रोशन पुत्र नसीबा के बाड़े में अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई। महिलाओं ने बाड़े में बंधी बकरियों को खोलकर बाहर निकाला। ग्रामीणों ने अपने स्तर पर आग पर काबू पाने का प्रयास किया। सूचना पर मौके पर पहुंची दमकल एवं ग्रामीणों ने मशक्कत कर आग को बुझाया, लेकिन तब तक बाड़े में रखा 4 ट्रॉली चारा जलकर राख हो गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bijaynagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×