• Home
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • पंच मंदिर में कथा की पूर्णाहुति, हुआ हवन
--Advertisement--

पंच मंदिर में कथा की पूर्णाहुति, हुआ हवन

बीकानेर | भागवत कथा का श्रवण मनुष्य को परम पद की प्राप्ति प्रदान कराने का सबसे सहज माध्यम होता है। परमात्मा की...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:15 AM IST
बीकानेर | भागवत कथा का श्रवण मनुष्य को परम पद की प्राप्ति प्रदान कराने का सबसे सहज माध्यम होता है। परमात्मा की निस्वार्थ भाव से की गई भक्ति से जीवन में श्रेष्ठता की प्राप्ति होती है। ये विचार थे महामंडलेश्वर स्वामी विशोकानंद भारती जी महाराज के। स्वामी जी रविवार को धनीनाथ गिरी मठ पंच मंदिर में श्रीमद्भागवत कथा ज्ञानयज्ञ की पूर्णाहुति के मौके पर भागवत कथा की महत्ता और परमात्मा की भक्ति के महत्व पर विचार रख रहे थे। इस मौके पर भवानी सिंह राठौड़ ने भागवत की आरती की। वहीं पूर्णाहुति के मौके पर पं.यज्ञ प्रसाद शर्मा और अशोक शास्त्री के संयोजन में हवन का आयोजन किया गया। हवन के दौरान शंकर सिंह और प्रताप सिंह ने आहुतियां दी। आयोजन के दौरान महाप्रसादी का आयोजन भी किया गया।