Hindi News »Rajasthan »Bikaner» 13 आतंकी ढेर, बीकानेर के जवान सहित तीन शहीद; झड़पों में 90 लोग घायल

13 आतंकी ढेर, बीकानेर के जवान सहित तीन शहीद; झड़पों में 90 लोग घायल

सुरक्षा बलों ने रविवार को कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ 7 साल का सबसे बड़ा ऑपरेशन चलाया। तीन मुठभेड़ों में 13 आतंकी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:20 AM IST

13 आतंकी ढेर, बीकानेर के जवान सहित तीन शहीद; झड़पों में 90 लोग घायल
सुरक्षा बलों ने रविवार को कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ 7 साल का सबसे बड़ा ऑपरेशन चलाया। तीन मुठभेड़ों में 13 आतंकी मारे गए, एक को जिंदा पकड़ लिया गया। सुरक्षाबलों के 3 जवान भी शहीद हुए हैं। शहीदों में बीकानेर निवासी, सिपाही हेतराम, सुल्तानपुर यूपी निवासी गनर नितेश सिंह और होशियापुर पंजाब निवासी अरविंद्र शामिल हैं। 12 आतंकी शोपियां इलाके में मारे गए, जबकि एक अनंतनाग में ढेर हुआ। द्रगड़, कचधूरा व डायलगाम गांवों में मुठभेड़ के बीच आतंकियों को भगाने के लिए लोगों ने पथराव किया। क्रॉस फायरिंग में 4 लोग मारे गए। महज कुछ घंटे में एक के बाद एक 13 आतंकियों की मौत की खबर फैलते ही शोपियां, अनंतनाग, कुलगाम और पुलवामा में तनाव फैल गया। जगह-जगह लोग सड़कों पर उतर आए। उन्हें खदेड़ने के लिए आंसू गैस के गोले और पैलेट गन चलानी पड़ी। झड़पों में सेना, पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों सहित 90 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। इसी बीच, अफवाहें फैलने से रोकने के लिए घाटी में मोबाइल इंटरनेट बंद कर दिया गया। श्रीनगर-बनिहाल और जम्मू के बीच रेल सेवा भी बंद कर दी गई। अलगाववादियों ने दो दिन के बंद का ऐलान किया है। इसके चलते सोमवार को स्कूल-कॉलेजों सहित सभी शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे।

शहीद हेतराम।

अमरनाथ यात्रा पर हमले की साजिश रचने के लिए जमा हुए थे आतंकी

रात में एक साथ तीन जगह शुरू हुआ ऑपरेशन; शोपियां में 12 और अनंतनाग में एक आतंकी ढेर

सुरक्षा बलों को सूचना मिली थी कि शोपियां के द्रगड़ और कचधूरा के गांवों और अनंतनाग के पेठ डायलगाम में बड़ी संख्या में आतंकी मौजूद हैं। इन्हें अमरनाथ यात्रा, सुरक्षाबलों और राजनेताओं पर हमलों की साजिशों रचने के लिए बैठक करनी थी। इनमें हिजबुल और लश्कर दोनों के ही आतंकी शामिल थे। सुरक्षाबलों ने शनिवार रात करीब 1 बजे तलाशी और घेरेबंदी शुरू कर दी। आतंकियों की ओर से फायरिंग होने पर सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की। शोपियां के द्रगड़ में सात और कचधूरा में पांच आतंकी मारे गए। कचधूरा के जिस घर में आतंकी छिपे थे, वह ऑपरेशन में पूरी तरह तबाह हो गया। तीनों जवान कचधूरा में ही शहीद हुए। अनंतनाग के पेठ डायलगाम में एक आतंकी मारा गया। जबकि एक जिंदा पकड़ा गया।

लेफ्टिनेंट फैयाज के हत्यारे 2 आतंकी भी मारे

जम्मू कश्मीर के डीजीपी डाॅ. एसपी वैद्य ने बताया कि शोपियां के द्रगड़ में मारे गए सात आतंकियों में लेफ्टिनेंट उमर फैयाज के हत्यारे भी शामिल हैं। मारे गए आतंकी रईस ठोकर और इशफाक मलिक पिछले साल मई में की गई लेफ्टिनेंट फैयाज की हत्या में शामिल थे। पुलिस के अनुसार मारे गए सभी आतंकी स्थानीय हैं और उनकी पहचान भी हो चुकी है।

परिजन सरेंडर को कहते रहे, नहीं माना, ढेर

सेना की 15वीं कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्‌ट ने बताया कि अनंतनाग मुठभेड़ के दौरान एसएसपी ने आतंकियों से सरेंडर करवाने के लिए प्रयास किए। उसके परिजनों को बुलाया गया। वे लोग आधे घंटे तक आतंकियों से बातचीत कर उन्हें सरेंडर करने के लिए समझाते रहे। लेकिन आतंकी ने परिवार की बात नहीं मानी और जवाबी कार्रवाई में मारा गया। उसका साथी जिंदा पकड़ा गया।

देश की रक्षा के लिए शहीद होने वाला हेतराम श्रीडूंगरगढ़ का तीसरा लाल

बीकानेर/श्रीडूंगरगढ़ | देश की रक्षा के लिए शहीद होने वाला हेतराम श्रीडूंगरगढ़ कस्बे का तीसरा लाल है। पिछले माह की 25 तारीख को ही राकेश चोटिया अरुणाचल प्रदेश में शहीद हुआ था। इससे पहले 2003 में जम्मू कश्मीर में कैप्टन चंद्र चौधरी शहीद हो गए थे। सोनियासर निवासी 25 वर्षीय हेतराम गोदारा 9जाट रेजीमेंट का जवान था और इन दिनों राष्ट्रीय राइफल में तैनात था। 25 दिसंबर 2013 को वह फौज में भर्ती हुआ था। शहीद का शव सोमवार या मंगलवार को विशेष विमान से नाल हवाई अड्डे लाया जाएगा। वहां से उसके पैतृक निवास सोनियासर ले जाया जाएगा। शहीद परिवार के जानकारों के अनुसार हेतराम का जन्म 25 जनवरी 1993 को साधारण किसान हड़मानाराम के यहां हुआ था। हेतराम से छोटे दो भाई और एक बहिन भी है। तीन साल पहले ही उसकी शादी जसरासर की सुंदरी देवी से हुई थी। हेतराम के एक साल का बेटा भी है। शहीद के शहादत का समाचार मिलते ही गांव में शोक की लहर दौड़ गई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bikaner

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×