बीकानेर

  • Hindi News
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • दो मोटरसाइकिलों पर सवार लुटेरों ने जौहरी से मारपीट कर लाखों रुपए के जेवरात लूटे
--Advertisement--

दो मोटरसाइकिलों पर सवार लुटेरों ने जौहरी से मारपीट कर लाखों रुपए के जेवरात लूटे

बीकानेर | दो मोटरसाइकिलों पर सवार लुटेरों ने उदासर से सागर गांव जा रहे जौहरी को रोका और उससे मारपीट कर लाखों रुपए के...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:30 AM IST
बीकानेर | दो मोटरसाइकिलों पर सवार लुटेरों ने उदासर से सागर गांव जा रहे जौहरी को रोका और उससे मारपीट कर लाखों रुपए के जेवरात लूटकर फरार हो गए। जौहरी के साथ उसके यहां काम करने वाले दो लोग भी थे, लेकिन वे लुटेरों को जेवरात से भरा बैग ले जाने से नहीं रोक सके।

सागर गांव निवासी मुरली मनोहर स्वामी ने उदासर स्थित मयूर विहार कॉलोनी में घर बना रखा है और वहीं दुकान बनाकर सोने-चांदी की घड़ाई और जेवरात का काम करता है। बुधवार की रात को करीब नौ बजे उसने दुकान बंद की और स्टॉफ के नवदीप व बजरंग के साथ बाइक पर सवार होकर सागर गांव में अपने घर के लिए रवाना हो गया। सागर रोड पर शराब के ठेके के पास पहुंचा तो मोटरसाइकिल पर सवार तीन लोग उससे आगे निकल गए और कुछ दूरी पर चलने लगे। सागर गांव की तरफ मुड़ने पर पीछे से एक और बिना नंबर की मोटरसाइकिल आई और टक्कर मार दी। जिससे जौहरी स्वामी सहित तीनों लोग गिर पड़े। दोनों मोटरसाइकिलों पर सवार लुटेरों ने स्वामी से मारपीट की और उससे बैग छीन लिया जिसमें करीब सात लाख रुपए के सोने-चांदी के जेवरात और 18,000 रुपए नकद थे। लुटेरे जेवरात-नकदी से भरा बैग लेकर भागने लगे तो स्वामी के एक साथी ने उनका पीछा किया। लुटेरों ने उसे गिरा दिया और बैग लेकर फरार हो गए। इत्तला मिलने पर व्यास कॉलोनी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और लुटेरों की खोजबीन शुरू की, लेकिन उनका पता नहीं चल पाया है। एसएचओ हरजिन्द्रसिंह ने बताया कि बताया कि कुछ स्थानों के सीसी टीवी फुटेज खंगाले हैं। इसके अलावा संदिग्ध लोगों से भी पूछताछ की जा रही है।

लुटेरों को थी जौहरी की जानकारी, योजना बनाकर की वारदात

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया गया है, उससे लगता है कि लुटेरों को जौहरी मुरली मनोहर स्वामी के बारे में जानकारी थी। उन्हें पता था कि जौहरी रात को दुकान बंद कर सागर गांव अपने घर जाता है। लुटेरों ने योजना बनाई और सागर रोड पर जौहरी को रोककर वारदात को अंजाम दिया। पुलिस को आशंका है कि लुटेरे स्थानीय थे और उनके पास हथियार भी हो सकते हैं।

X
Click to listen..