राजस्थान / दीपावली पर यहां आग के गोलों के साथ करतब दिखाते हैं बच्चों से लेकर बुजुर्ग, 100 साल पुरानी परम्परा

करतब दिखाते युवा।
Bannati Khel In Bikaner City on Diwali 2019
Bannati Khel In Bikaner City on Diwali 2019
X
Bannati Khel In Bikaner City on Diwali 2019
Bannati Khel In Bikaner City on Diwali 2019

  • इस हैरतअंगेज कर देने वाले खेल में खिलाड़ी अपने उस्ताद के सानिध्य में पहले पूर्वाभ्यास करते हैं

दैनिक भास्कर

Oct 28, 2019, 11:59 AM IST

बीकानेर(परिमल हर्ष). जिले के बारहगुवाड़ चौक में दीपावली पर बनाटी खेल का आयोजन हुआ। बनाटी खेल बारहगुवाड़ चौक में पिछले 100 सालों से अधिक समय से हो रहा है।  बनाटी खेल में खिलाड़ी एक लकड़ी जिसके दोनों छोर पर आग के गोले होते है उससे हैरतअंगेज कर देने वाले करतब दिखाते है। इस खेल में बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक हिस्सा लेते हैं।

 

बनाटी उस्ताद ईसर महाराज बताते हैं की शुरुआत में बनाटी खेल फागणिया मारजा के नेतृत्व में खेला जाता था। आज भी फागणिया मारजा को याद कर खेल को शुरू किया जाता है। इस हैरतअंगेज कर देने वाले खेल में खिलाड़ी अपने उस्ताद के सानिध्य में पहले पूर्वाभ्यास करते हैं उसके बाद इस कला को प्रदर्शित करते है। खिलाड़ियों का उतसाहवर्धन करने हेतु दर्शक " वाह बुढ़िया वाह" के नारे लगाते हैं। समाजसेवी दुर्गादास छंगाणी बताते हैं की यह आयोजन शहर की संस्कृति का हिस्सा है। जिसे युवा पीढी आगे बढ़ा रही है। छंगाणी बताते हैं की यह लुप्त होती कला है, जिसे सिर्फ बारहगुवाड़ चौक ने ही जीवंत बनाए रखा है।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना