बीकानेर

--Advertisement--

2 दिन पहले लापता बुजुर्ग का शव नाले में मिला, 4:30 फीट पानी में गई अच्छे तैराक की जान

मेवाड़ा रोड पर थाना गांव में भोई सेड़ा नाले में मिला शव

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2018, 02:34 PM IST
संतु के शव को ले जाते हुए। संतु के शव को ले जाते हुए।

- अच्छा तैराक था

डूंगरपुर। शहर से छह किलोमीटर दूर थाणा गांव पास भोई सेड़ा नाले में 2 दिन से लापता बुजुर्ग का शव मिला। बुजुर्ग तैरना जानता था, इसके बावजूद उसका शव 4:30 फीट गहरे पानी में मिलने से कई सवाल भी खड़े हो रहे हैं। इस घटना के बाद गांव में सनसनी फैल गई और कई लोग इकट्ठा हो गए।

घटना का पता शनिवार सुबह चला जब गांव के कुछ लोग नाले के पास से गुजर रहे थे। उन्होंने नाले में शव देखा। शव की पहचान थाना गांव के सुनीला फला निवासी संतु (70) के रूप में की गई। लोगों ने इसकी खबर संतु के परिवार के लोगों को दी। इसका पता चलते ही गांव के लोग इकट्ठा हो गए। कोतवाली थाना से थाना अधिकारी राम सुमेर मीणा, एसआई बंशीलाल मय जाब्ता वहां पहुंचे। नाले में डूबे शव को ग्रामीणों की मदद से निकाला गया।

मृतक संतु के पैंट की जेब में चप्पल रखी हुई थी। पूरी तरह से पानी में डूबे रहने के कारण शव गल गया था। शव को जिला अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया गया। बताया जाता है कि संतु बरंडा बहुत अच्छा तैराक था। वह कुएं और नदी-नाले में भी अच्छा तैरना जानता था। बावजूद जिस नाले में उसका शव तैरता मिला, उसमें केवल 4:30 फीट पानी ही था।

संतु नौ अगस्त को खेतों की ओर निकला था। इसके बाद से ही वह नहीं लौटा। परिवार के लोग उसकी तलाश कर रहे थे। दो दिन की तलाश के बाद उसका शव पानी में मिलने से घर-परिवार में मातम का माहौल छा गया। संतु के दो बेटे और दो बेटियां हैं। इनकी शादी हो चुकी है। पुलिस केस दर्ज कर छानबीन कर रही है।

फोटो : चिंतन जोशी

X
संतु के शव को ले जाते हुए।संतु के शव को ले जाते हुए।
Click to listen..