--Advertisement--

पट्टे की रजिस्ट्री करने की एवज में रिश्वत लेते ग्राम विकास अधिकारी रंगे हाथों गिरफ्तार

श्रीगंगानगर जिले के सादुलपुर शहर में एसीबी ने शुक्रवार को एक ग्राम विकास अधिकारी ने रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया।

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 07:36 PM IST

एसीबी ने सादुलपुर में की कार्रवाई, रिश्वत में मांगे थे पांच हजार रुपए

श्रीगंगानगर. जिले के सादुलपुर शहर में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने शुक्रवार को एक ग्राम विकास अधिकारी ने रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। यह कार्रवाई एसीबी श्रीगंगानगर के प्रभारी एडिशनल एसपी राजेंद्र प्रसाद के नेतृत्व में गठित टीम ने की। एएसपी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी सुखपाल सिंह श्रीगंगानगर के सादुलपुर में ग्राम पंचायत पन्नीवाली में ग्राम विकास अधिकारी है।

- इस संबंध में पन्नीवाली ग्राम पंचायत के डूडियां वाली ढाणी के रहने वाले सुरेंद्र कुमार ने एसीबी में मुकदमा दर्ज करवाया था। जिसमें बताया कि उसके पिता के नाम से आवासीय पट्‌टे की रजिस्ट्री करवाने के लिए ग्राम विकास अधिकारी सुखपाल सिंह से संपर्क किया था।

एसीबी के सत्यापन के वक्त लिए 500 रुपए, फिर मांगे तीन हजार रुपए

- इस पर आरोपी सुखपाल ने परिवादी सुरेंद्र कुमार से पांच हजार रुपए की रिश्वत मांगी। इस पर एसीबी ने शिकायत का सत्यापन करवाया। जिसमें आरोपी ने परिवादी सुरेंद्र से 500 रुपए ले लिए। शेष रकम की दूसरी किश्त में तीन हजार रुपए शुक्रवार को देने को कहा। तब एसीबी ने ट्रेप रचा।

-एसीबी ने परिवादी सुरेंद्र को रिश्वत की रकम लेकर ग्राम सेवक सुखपाल सिंह के पास भेजा। उसने ज्योंही रिश्वत की रकम लेकर अपने पास रखी। तभी उसे एसीबी ने रंगे हाथों धरदबोचा। एसीबी की कार्रवाई से ग्राम पंचायत में मौजूद कर्मचारियों में खलबली मच गई। एसीबी आरोपी से पूछताछ कर रही है।