• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • फर्जी तबादला प्रकरण भीलवाड़ा के तीन शिक्षकों को महंगी पड़ी मजाक
--Advertisement--

फर्जी तबादला प्रकरण भीलवाड़ा के तीन शिक्षकों को महंगी पड़ी मजाक

प्रारंभिक शिक्षा विभाग से संबंधित सोशल मीडिया पर वायरल हुए फर्जी तबादला आदेश प्रकरण का खुलासा हो गया है। फर्जी...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 03:10 AM IST
फर्जी तबादला प्रकरण भीलवाड़ा के तीन शिक्षकों को महंगी पड़ी मजाक
प्रारंभिक शिक्षा विभाग से संबंधित सोशल मीडिया पर वायरल हुए फर्जी तबादला आदेश प्रकरण का खुलासा हो गया है।

फर्जी तबादला आदेश किसी ओर ने नहीं बल्कि शिक्षा विभाग में ही कार्यरत तीन शिक्षकों की ओर से बनाए गए थे। मामला पकड़ में आने के बाद भीलवाड़ा के तीनों शिक्षकों को सस्पेंड कर दिया गया है। प्रारंभिक शिक्षा निदेशक के हस्ताक्षर से जारी भीलवाड़ा में कार्यरत पांच शिक्षकों के फर्जी तबादला आदेश 14 मई को सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे। फर्जी सूची पकड़ में आने के बाद प्रारंभिक शिक्षा निदेशक श्याम सिंह राजपुरोहित ने भीलवाड़ा डीईओ कन्हैयालाल भट्ट को जांच के आदेश दिए। डीईओ ने भीलवाड़ा राउप्रावि कोटड़ी में कार्यरत शिक्षक यदुराज सिंह से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसने और उसके दो साथ शिक्षक सत्येंद्र सिंह राउप्रावि होलीरड़ा, कोटड़ी और देवेंद्र सिंह राउप्रावि गोठड़ा कोटड़ी, भीलवाड़ा ने मजाक-मजाक में कूटरचित स्थानांतरण आदेश बनाया था। डीईओ कार्यालय भीलवाड़ा में गुरुवार को तीनों शिक्षकों ने उपस्थित होकर लिखित में इस बात को स्वीकार किया। इसके बाद तीनों शिक्षकों को निलंबित कर विभागीय जांच के आदेश दिए गए है।

तीनों शिक्षकों ने डीईओ के समक्ष पेश होकर कहा, मजाक में बनाया था फर्जी आदेश, सस्पेंड

यदुराज सिंह ने किया था ट्रांसफर का आवेदन

राउप्रावि कोटड़ी भीलवाड़ा में कार्यरत शिक्षक यदुराज सिंह भरतपुर का निवासी है। उसने तबादले के लिए आवेदन किया था। बताया जा रहा है कि साथी शिक्षकों ने यदुराज सिंह को सरप्राइज देने के लिए फर्जी आदेश बनाया। कूटरचित आदेश में यदुराज सिंह के अलावा जिन चार शिक्षकों का नाम है वे फर्जी है। उस नाम का कोई शिक्षक भीलवाड़ा में कार्यरत नहीं है।

शिक्षकों के विरुद्ध विभागीय जांच शुरू

प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय के अधिकारियों ने बताया कि फर्जी तबादला आदेश प्रकरण में दोषी कार्मिकों के खिलाफ विभागीय जांच शुरू कर दी गई है। एडीईओ प्रारंभिक भीलवाड़ा अशोक कुमार पारीक और बीईईओ पं.स.रायपुर प्रभुदयाल योगी को जांच के लिए नियुक्त किया गया है।


X
फर्जी तबादला प्रकरण भीलवाड़ा के तीन शिक्षकों को महंगी पड़ी मजाक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..