--Advertisement--

एमएम ग्राउंड पर ताला / एक तरफ चल रहे टूर्नामेंट, दूसरी तरफ जिम्नास्टिक और तैराकी के अभ्यास बंद



  •  दो दिन बाद टीमें स्टेट चैम्पियनशिप के लिए रवाना होंगी
Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 02:37 PM IST

बीकानेर. राजकीय मोहता मूलचंद उच्च माध्यमिक विद्यालय के खेल मैदान पर मंगलवार को ताला लगा दिया गया। बिना अनुमति जिम्नास्टिक सेंटर संचालित करने के आरोप में विद्यालय प्रबंधन समिति ने खेल मैदान का एक हिस्सा सील कर दिया। विभिन्न खेलकूद प्रतियोगिताओं के चलते समिति के इस फैसले के कारण स्कूली बच्चों की प्रैक्टिस बंद हो गई है।

डेढ़ घंटे बच्चे बाहर खड़े रहे

  1. बच्चों के टूर्नामेंट के बीच सेंटर सील करना गलत : पीटीआई

    अभय जिम्नास्टिक केन्द्र में सेवाएं दे रहे पीटीआई भवानी शंकर पटवा का कहना है कि इन दिनों बच्चों के टूर्नामेंट चल रहे हैं। दो दिन बाद टीमें स्टेट चैम्पियनशिप के लिए रवाना होंगी। ताला लगाने से बच्चों की प्रेक्टिस बंद हो गई है। बकौल पटवा स्कूल प्रबंधन कमेटी ने एक छात्रा को सिखाने की सिफारिश की थी। लड़की ओवर वेट थी। इसलिए मना किया था। यदि पता होता कि इसका खमियाजा सभी बच्चों को उठाना पड़ेगा तो हम मना नहीं करते। यदि सेंटर अवैध था तो चलाने ही क्यों दिया।

  2. इजाजत नहीं ली : प्रिंसिपल

    एमएम स्कूल के प्रिंसिपल दुर्गा शंकर पुरोहित का कहना है कि ग्राउंड में अभय जिम्नास्टिक के नाम से एक केन्द्र अवैध रूप से चल रहा है। स्कूल से अनुमति नहीं ले रखी है। यहां सेवाएं देने वाले पीटीआई बच्चों से पैसे भी लेते हैं। हमारी स्कूल के बच्चे जाते हैं तो उन्हें सिखाते नहीं हैं। इसी प्रकार राजीव गांधी तरणताल के संचालक का ही पता नहीं है। यूआईटी कहती है शिक्षा विभाग को दे रखा है। जबकि विभाग को कोई अधिकारी नजर नहीं आता। तरणताल में पानी दुर्गंध मारता है। बच्चों के चर्म रोग होने लगे हैं।