--Advertisement--

प्रदेश स्तर पर सम्मान पाने वाली नर्स भ्रूण लिंग जांच के नाम पर 30 हजार रु. लेती पकड़ी गई

हनुमानगढ़ में कार्रवाई, चालक भी गिरफ्तार

Danik Bhaskar | Sep 05, 2018, 07:12 AM IST

हनुमानगढ़. राज्य पीसीपीएनडीटी दल ने मंगलवार को भ्रूण लिंग जांच के लिए 30 हजार रुपए लेने के आरोप में धन्नासर सब सेंटर की एएनएम सुजाता शर्मा एवं चालक भंवरदास को गिरफ्तार किया है। टीम ने बोलेरो गाड़ी एवं डिकॉय राशि के हूबहू नोट भी बरामद किए हैं।

हैरानी की बात है कि जिस एएनएम सुजाता शर्मा को भ्रूण लिंग जांच के नाम पर पैसे लेने के आरोप में गिरफ्तार किया है वह छोटे से सब सेंटर पर अकेले ही रिकॉर्ड डिलीवरी कराने के लिए उपखंड से लेकर प्रदेश स्तर पर कई बार सम्मानित हो चुकी है। इसी कारण उसे गांव के पांच हजार से अधिक बच्चे मां और बुआ के नाम से पुकारते हैं। उसके पकड़े जाने की सूचना से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी दंग रह गए। पीसीपीएनडीटी एवं मिशन निदेशक एनएचएम नवीन जैन ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि धन्नासर एएनएम सुजाता गर्भवती महिलाओं का भ्रूण लिंग परीक्षण करवाती है। सूचना का सत्यापन कराने के बाद डिकॉय दल तैयार कर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया गया।
एएनएम सुजाता ने डिकाय गर्भवती महिला को अपने घर बुलाया था। वहां से वह उसे खुद की बोलेरो में बिठाकर हनुमानगढ़ स्थित बॉम्बे अस्पताल के लिए लेकर रवाना हुई। गाड़ी को भंवरदास नामक ड्राइवर चला रहा थ। बॉम्बे अस्पताल में सामान्य सोनोग्राफी की फीस जमा कराकर सोनोग्राफी करवाई और सुजाता ने भ्रूण लिंग के बारे में जानकारी दी। इस दौरान टीम ने सुजाता व चालक भंवरदास को गिरफ्तार कर लिया।