• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Bikaner राहुल का लोकल कनेक्शन; बोले राफेल डील में घोटाले के 3 हजार करोड़ भुजिया रसगुल्ला इंडस्ट्री में लगाते तो शहर स्वावलंबी बन जाता

राहुल का लोकल कनेक्शन; बोले-राफेल डील में घोटाले के 3 हजार करोड़ भुजिया-रसगुल्ला इंडस्ट्री में लगाते तो शहर स्वावलंबी बन जाता

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पॉलिटिकल रिपोर्टर | बीकानेर

मेडिकल कॉलेज ग्राउंड में पहुंचे लोगों का मिजाज राहुल गांधी भांप गए। इसलिए उनकी दुखती रग को छुआ। किसानों से कहा, आपको पानी इसलिए पूरा नहीं मिलता क्योंकि इंदिरा गांधी नहर का फीडर जर्जर है। नहर के बुरे हाल हैं, इसलिए किसानों को अंतिम छोर तक पानी नहीं मिलता। युवाओं की बेरोजगारी की नब्ज को छूते हुए कहा, राफेल डील में जो 3000 हजार करोड़ का घोटाला हुआ, अगर इतनी राशि बीकानेर में भुजिया-पापड़ और रसगुल्ला इंडस्ट्री में लगाई जाती तो यहां के हजारों रोजगारों को न सिर्फ रोजगार मिलता, बल्कि बीकानेर का नाम और रोशन होता। शहर स्वावलंबी बन जाता। नहर-भुजिया-पापड़ का राहुल से जिक्र सुनते ही पांडाल तालियों से गूंज उठा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तरह अपने भाषण में राहुल गांधी भी भीड़ से संवाद करते नजर आए। सवाल पूछा, 15 लाख तो दूर 10 रुपए किसके खाते में आए। भीड़ ने कहा-नहीं आए। फिर पूछा-कितनों को रोजगार मिला। भीड़ बोली-नहीं मिला। राहुल ने कहा-दो करोड़ तो दूर 450 रोजगार प्रतिवर्ष लोगों को मिल रहा है।

भुजिया-रसगुल्ले का जायका लिया

भुट्‌टों के चौराहे के पास राहुल गांधी अपनी कार से उतरकर एक स्वीट शॉप पर पहुंचे जहां उन्होंने बीकानेरी भुजिया और रसगुल्ले का स्वाद चखा।

6 दिन पहले इसी ग्राउंड पर हुई थी भाजपा की सभा; पायलट बोले-शाह की रैली मैदान के कोने में सिमटी हुई थी

बैलेंस बनाने के लिए रामेश्वर डूडी के बाद बोले डॉ. बीडी कल्ला

राहुल गांधी के मंच पर आने के बाद सबसे पहले नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी का भाषण हुआ और उसके बाद अशोक गहलोत को बोलना था, लेकिन अचानक नेताओं की आपसी चर्चा के बाद पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ.बीडी कल्ला को संबोधन के लिए बुलाया। पूर्व मंत्री के नाते वीरेन्द्र बेनीवाल, विधायक भंवरसिंह भाटी को मंच पर जगह मिली। गोविंदराम मेघवाल, मंगलाराम गोदारा मंच पर नजर नहीं आए।

गहलोत के भाषण देते ही डूडी के नारे

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जैसे ही भाषण देना शुरू किया उसी वक्त नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी समर्थक डूडी-डूडी के नारे लगाने लगे। जब तक गहलोत का भाषण चला तब तक नारे लगते रहे। गहलोत नारेबाजी के बीच भाषण करते रहे। भाषण खत्म होने के बाद गहलोत ने डूडी से कहा, इनको शांत कराओ। डूडी ने माइक संभाला और लोगों को शांत कराया। सचिन पायलट के भाषण में नारे नहीं लगे।

देर हुई तो गहलोत घड़ी देखते रहे....और राहुल की नजरें मोबाइल फोन पर

राहुल गांधी के नाल एयरपोर्ट पहुंचने पर रामेश्वर डूडी, डॉ. बीडी कल्ला, गोपाल गहलोत, राष्ट्रीय सचिव काजी निजामुद्दीन, तरुण कुमार, रिछपाल मिर्धा ने स्वागत किया। गोविंदराम मेघवाल ने नाल थाने के पास राहुल का स्वागत किया। इसके बाद मेडिकल कॉलेज तक यूथ कांग्रेस पदाधिकारियों ने स्वागत किया। मंच पर यूथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष बिशनाराम सियाग ने व्यवस्था संभाली, तो मंच के नीचे प्रदेश कांग्रेस सचिव जियाउर रहमान आरिफ, राहुल जादू संगत, महिला कांग्रेस की कमला बिश्नोई, सुनीता गौड़, आनंदसिंह सोढ़ा, नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष जावेद पड़िहार, राजकुमार किराडू, शब्बीर अहमद, मकसूद अहमद, साले मोहम्मद, शबनम गोदारा, मकबूल मंडेलिया समेत 90 लोगों ने लाइनअप में रहकर राहुल से मुलाकात की। बज्जू से भागीरथ तेतरवाल सहित विभिन्न तहसीलों से ग्रामीण लवाजमे के साथ सभा स्थल पहुंचे।

सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज मैदान में सभा को संबोधित करते प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा-इसी मैदान में भाजपा अध्यक्ष शाह ने रैली की थी। मैदान का एक कोना भी नहीं भरा था, इस रैली में खड़े होने के लिए जगह नहीं। मंच पर जैसे ही राहुल गांधी समेत सभी नेता पहुंचे तो अपने-अपने नेताओं के पक्ष में नारे लगे। नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी के कटआउट लेकर लोग खड़े हो गए। सचिन पायलट, राहुल गांधी भीड़ को लेकर कुछ इशारा करते देखे गए। राजनीति के मंझे खिलाड़ी अशोक गहलोत ने कहा कि जो जोश अभी है, वो टिकट वितरण के बाद भी बनाए रखना। वोट उम्मीदवार को देखकर नहीं बल्कि कांग्रेस पार्टी को देना है।

देहात कांग्रेस की 3 साल कार्यप्रणाली के बुकलेट का मंच पर लोकार्पण

देहात कांग्रेस ने तीन साल में जितने धरना-प्रदर्शन किए, उसकी एक बुकलेट छपवाई गई। देहात अध्यक्ष महेन्द्र गहलोत और शहर अध्यक्ष यशपाल गहलोत ने राहुल से गुजारिश की तो उन्होंने इस फोल्डर का विमोचन किया।

खबरें और भी हैं...