पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Kolayat News Rajasthan News 41 Thousand Workers Of 205 Mines Will Get Up To 25 Paid Holidays Soap And Masks Will Also Be Given

205 खदानों के 41 हजार श्रमिकों को 25 तक मिलेगा सवैतनिक अवकाश, साबुन व मास्क भी दिए जाएंगे

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
‘भास्कर’ की खबर पर पीएम मोदी की नसीहत मानी, रखा श्रमिकों के आर्थिक हितों का का ध्यान, अब सुरक्षा भी करेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कोरोना को लेकर जारी की गई नसीहत पर शनिवार को कोलायत तहसील में खदान संचालित कर रहे संचालकों ने भी अमल शुरू कर दिया। यानी अब वे अपने यहां काम करने वाले श्रमिकों को कोरोना महामारी को देखते हुए सवैतनिक अवकाश देने पर सहमत हो गए हैं। उन्होंने मजदूरों के आर्थिक हितों का ध्यान रखे जाने की घोषणा शनिवार को एसडीएम प्रदीप कुमार चाहर के सामने की।

शनिवार को ‘भास्कर’ में पेज 7 पर प्रकाशित ‘10 गांवों की 205 खदानों में 41 हजार श्रमिकों को कोरोना की नहीं भूख की चिंता, जीवन दाव पर लगाकर कर रहे काम’ शीर्षक से खबर प्रकाशित हुई थी। इसके बाद जिला कलेक्टर कुमार पाल गाैतम ने कोलायत एसडीएम प्रदीप कुमार चाहर को खदानों में काम कर रहे श्रमिकों के जीवन की सुरक्षा के लिए माइंस संचालकों को पाबंद करने के निर्देश दिए थे। इस पर एसडीएम ने माइंस संचालकों को शनिवार को एसडीएम कार्यालय में बैठक में आमंत्रित किया। वहां पर माइंस संचालकों ने देशहित में साथ देने का आश्वासन दिया। उन्होंने 25 मार्च तक खदानों को बंद रखने व उसमें कार्यरत सभी श्रमिकों को इस अवधि तक सवैतनिक अवकाश देने की सहमति दी। उन्हें साबुन व मास्क देने पर भी सहमति दी।

खदानों में होगा सोडियम हाईड्रोक्लाेराइड का स्प्रे

कोलायत तहसील के जिन दस गांवों में सफेद मिट्टी की 130 व बजरी की 75 खदानों है। जहां पर शुक्रवार तक श्रमिक काम कर रहे थे। उन सभी खानों में सोडियम हाईड्रोक्लाेराइड का स्प्रे किया जाएगा। यह निर्णय माइंस संचालकों व प्रशासन ने संयुक्त रूप से लिया। इस दौरान ब्लॉक सीएमओ डॉ. अनिल वर्मा ने सभी संचालकों को बताया कि किस तरह एहतियात बरत कर वे स्वयं और दूसरों को सुरक्षित रख सकते हैं।

माइंस संचालक चलाएंगे अभियान, पेम्फलेट बांटेंगे, 26 से जरूरतानुसार बुलाएंगे श्रमिक

एसडीएम के साथ हुई बैठक में माइंस एसोसिएशन के पदाधिकारी पहु्ंचे। उन्होंने इस संवेदनशील मुद़्दे पर उनका ध्यान आकर्षित करवाने पर ‘भास्कर’ का आभार जताया। इसके साथ ही घोषणा की कि 25 मार्च तक माइंस एसोसिएशन की तरफ से जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। बैनर, पोस्तर व पैम्फलेट का वितरण किया जाएगा ताकि इस क्षेत्र के गरीब व अशिक्षित मजदूर भी कोरोना की बीमारी को समझ सके। इसके लिए गांव-गांव कार्मिकों को आइसोलेटड कर भेजा जाएगा। बैठक में राजस्व तहसीलदार हनुमान सिंह देवल, माइंस एसोसिएशन के उपाध्यक्ष आशीष चांदना, पूर्व अध्यक्ष राजेश चूरा, संदीप चांदना, विजय डागा, श्याम रंगा, सौरभ चांदना, रोहित डागा, लक्ष्मण मोदी, एनके पांडे आदि संचालक व उनके प्रतिनिधि उपस्थित थे।

एक ही दिन में बदली तस्वीर } जहां शुक्रवार को काम कर रही थी महिलाएं, वहां शनिवार को एक भी नहीं मिली

‘भास्कर’ में 21 मार्च को पेज 7 पर प्रकाशित खबर। इसके प्रकाशित होने के बाद माइंस संचालक व जिला प्रशासन हरकत में आए।

भास्कर इम्पैक्ट

शनिवार की स्थिति

शुक्रवार की तस्वीर

एसडीएम आफिस में माइन्स संचालकों से चर्चा करते एसडीएम प्रदीप कुमार चाहर।
खबरें और भी हैं...