• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Bikaner News rajasthan news bikaner39s largest geshala spread over 148 bighas capacity of 10000 stray animals 3 compounders will remain at all times

148 बीघा में फैली बीकानेर की सबसे बड़ी गाेशाला, 10000 आवारा पशुओं की क्षमता, 3 कंपाउंडर हर वक्त रहेंगे माैजूद

Bikaner News - 148 बीघा में फैली बीकानेर की सबसे बड़ी गाेशाला तैयार हा़े गई है। इसमें 10 हजार पशुओं काे रखने की क्षमता है। तीन...

Oct 13, 2019, 07:51 AM IST
148 बीघा में फैली बीकानेर की सबसे बड़ी गाेशाला तैयार हा़े गई है। इसमें 10 हजार पशुओं काे रखने की क्षमता है। तीन कंपाउंडर हर वक्त मौजूद रहेंगे। वेटरनरी डॉक्टर की नियुक्ति की जाएगी, जाे अाॅन काॅल रहेगा। रविवार काे शुभारंभ के साथ ही इसमें पशुओं काे जमा करने का काम शुरू हा़े जाएगा।

जनप्रतिनिधियाें अाैर शहरवासियों के लंबे संघर्ष के बाद गाेशाला का निर्माण हुअा है। पशुओं काे रखने के लिए वार्डों की चार दीवारी हा़े चुकी है। पानी-चारे की खेली बन चुकी है। टीन शैड तैयार हा़े रहे हैं। चारा घर बनकर तैयार हा़े चुका है। पानी के लिए दाे ट्यूबवैल भी खाेदे गए हैं। नगर निगम की यह पहली गाेशाला है, जिसके संचालन का जिम्मा गाढ़वाला की सोहनलाल बुला देवी अाेझा गाेशाला समिति काे साैंपा गया है। निगम ने इस संस्था के साथ चार साल के लिए एमओयू किया है। निर्माण के लिए निगम पांच कराेड़ रुपए एडवांस देगा, जिसमें अब तक करीब एक कराेड़ की राशि दी गई है।


75x100 का चारा घर



300x150 के चारा वार्ड

गाेशाला एट-ए-ग्लांस

02 ट्यूब बैल

148 बीघा जमीन

10000 पशु क्षमता

अब तक कई घाव झेल चुका है बीकानेर

शहर की बड़ी समस्या है अावारा पशु

अावारा पशु शहर की बड़ी समस्या बने हुए हैं। अाए दिन इनकी चपेट में अाकर लाेग चाेटिल हाेते हैं। कुछ माह पूर्व गजनेर राेड पर एक महिला की माैत तक हा़े चुकी है। भास्कर करीब दाे साल से लगातार इस मुद्दे काे उठा रहा है। भास्कर के अभियान से प्रेरित हाेकर व्यापार मंडल ने इसके लिए जागरूकता अभियान भी चलाया अाैर भास्कर की खबर के बेनर शहर के प्रमुख स्थानों पर लगाए। नगर निगम ने साेहनाल बुलादेवी अाेझा गाेशाला समिति की गाढ़वाला में संचालित गाेशाला में निगम ने पिछले डेढ़ साल में छह हजार से अधिक अावारा सांड पकड़कर जमा कराए हैं।

सांड के साथ गायाें की भी धरपकड़ हाेगी

अावारा सांड के साथ अब गायाें की भी धरपकड़ की जाएगी। प्राइवेट डेयरियां दूध निकालने के बाद गायाें काे घर के बाहर खुला छाेड़ देती हैं। अब एेसी गायाें काे पकड़कर सहर नथानिया स्थित गाेशाला में जमा कराया जाएगा। गाय के मालिक जुर्माना भरकर अपनी गाय छुड़ा सकेंगे।

इधर विरोध के स्वर...गाेशाला पर श्रेय लेने की राजनीति कर रहे महापौर : नेता प्रतिपक्ष

बीकानेर | शहर के आवारा पशुओं के लिए सरह नथानिया में तैयार हुई गाेशाला काे लेकर एक बार फिर राजनीति गरमा गई है। महापाैर ने अचानक गाेशाला का शुभारंभ करने का फैसला कर लिया है, जिसे लेकर कांग्रेसी पार्षदों में नाराजगी है।

महापाैर की अाेर से सोशल मीडिया पर पाेस्टर डाले गए हैं, जिसमें रविवार सुबह दस बजे सरह नथानिया में गाेशाला का शुभारंभ हवन, पूजन अाैर पौधारोपण के साथ करने का संदेश दिया गया है। इस पाेस्टर पर निवेदक के स्थान पर नगर निगम आयुक्त प्रदीप गावंडे का नाम है। यह पाेस्टर वाट्स अप पर वायरल हाेते ही आयुक्त के पास पार्षदों के फाेन पहुंचने शुरू हा़े गए। पाेस्टर वाली बात काे टालते हुए आयुक्त ने इतना ही कहा कि जिस संस्था के साथ एमओयू हुअा है वही इसका शुभारंभ कर रही है। जबकि नेता प्रतिपक्ष जावेद पड़िहार से इस पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए महापाैर पर श्रेय लेने की राजनीति करने का अाराेप लगाया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी राज में मंत्री अजय किलक ने गाेशाला का शिलान्यास किया था। कांग्रेस का शासन अाने पर मंत्री बीडी कल्ला उद्घाटन का चुके हैं। अब शुभारंभ की नौटंकी किस लिए की जा रही है। निगम की तरफ से कांग्रेस के किसी पार्षद के पास इसकी अधिकृत सूचना नहीं है।

हवन, पूजन अाैर पौधरोपण के साथ हाेगा गोशाला का शुभारंभ


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना