फूट डाल कर परिषद के कार्यकर्ताअाें काे ताेड़ने की काेशिशें

Bikaner News - उन्हाेंने अागे यह लिखा कि, ...मैंने दाे क्षण साेच कर जवाब दिया कि यदि महाराजा साहब काे मेरे साथ अन्याय हाेने का यकीन...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 07:55 AM IST
Bikaner News - rajasthan news wishes to chastise council workers by splitting
उन्हाेंने अागे यह लिखा कि, ...मैंने दाे क्षण साेच कर जवाब दिया कि यदि महाराजा साहब काे मेरे साथ अन्याय हाेने का यकीन हाे गया है अाैर वे इसे सुधारने के लिए कृपालु है ताे फिर दरख्वास्त की क्या जरूरत है। प्रशासन ताे स्वयं नजरसानी करके गलती सुधार सकता है। इस पर वे बाेले, तुम अभी बच्चे हाे, बिना पीड़ित व्यक्ति की दरख्वास्त के प्रशासन द्वारा कानूनन स्वयं अपनी तरफ से सुअाे माेटाे नजरसानी करने सनद ताे बहाल की जा सकती है पर उस सूरत में महाराजा साहब अाैर उनके प्रशासन की प्रेस्टीज का भी ताे सवाल है। ...मैंने गंभीरता से साेचा कि इस सनदजब्ती से परिषद के इस अाराेप की पृष्टि हाेती है कि इस राज में अन्याय हाेता है ताे मैं परिषद के इस अाराेप काे ज्यादा मजबूत अाैर प्रमाणित हाेने देने में अधिक खुश हूं- बजाय इसके कि भीख मांग कर नाैकरी व सनद ले लूं। मैंने उनसे नम्रतापूर्वक निवेदन किया कि महाराजा साहब की प्रेस्टीज ताे बहुत बड़ी है, उसका क्या बनना-बिगड़ना है। पर प्रजा परिषद अाैर मेरी भी एक छाेटी सी प्रेस्टीज है जिसे मैं खाेने काे तैयार नहीं हूं। जिस मालिक ने जीवन दिया है वह राेटी भी देगा जिसने चूंच दी है वह चुग्गा भी देगा। इस घटनाक्रम की विवेचना से यह निष्कर्ष निकलता है कि परिषद के कार्यकर्ताअाें काे दबाव में लेने अाैर उन्हें परिषद से संबंध विच्छेद करने के लिए विवश करने हेतु हरसंभव प्रय| किये गये। एतदर्थ अपने स्त्राेताें काे इस्तेमाल करने के अलावा महाराजा ने देशी-परदेशी का मुद्दा उछाल कर उसके अाधार पर भी कार्यकर्ताअाें काे ताेड़ने की काेशिशें की यद्यपि वे उसमें सफल नहीं हाे पाए। (लगातार)

X
Bikaner News - rajasthan news wishes to chastise council workers by splitting
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना