--Advertisement--

छह वर्षीय नीतिमा ने दी पिता को मुखाग्नि

देईखेड़ा| घाट का बराना रेलवे स्टेशन निवासी सरकारी कर्मचारी राजेंद्रकुमार बैरवा की कोटा के एमबीएस अस्पताल में...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:10 AM IST
देईखेड़ा| घाट का बराना रेलवे स्टेशन निवासी सरकारी कर्मचारी राजेंद्रकुमार बैरवा की कोटा के एमबीएस अस्पताल में उपचार के दौरान रविवार को मौत हो गई थी। पुत्र नहीं होने से पुत्री ने ही पिता की चिता को मुखाग्नि दी।

राजेंद्र बूंदी में एसडीएम कार्यालय में सूचना सहायक के पद पर कार्यरत थे। डेढ़ माह पहले उसे अटैक की शिकायत हुई थी तथा ब्रेन ट्यूमर के ऑपरेशन के बाद से ही उसका कोटा में उपचार चल रहा था उपचार के दौरान रविवार को मौत हो गई। शव को गांव लाया गया तो मुखाग्नि देने के मामले को लेकर बहस शुरू हुई तथा परिजनों, समाज के लोगों व थानाधिकारी हरिराम चौधरी के समझाने पर पुत्री द्वारा पिता की चिता को मुखाग्नि देने का निर्णय लिया गया। 6 वर्षीय पुत्री ईशु (नीतिमा) कुमारी ने अंतिम संस्कार की रस्म पूरी की। इस दौरान समाज के पूर्व सरपंच प्रभूलाल बैरवा, सुभाष बैरवा, हीरालाल बैरवा, बृजमोहन बैरवा सहित अन्य समाज के लोग मौजूद थे। मृतक के दो पुत्रियां हैं ईशु व एक पुत्री नवजात है। शेष|12 पर

देईखेडा . घाट का बराना रेलवे स्टेशन पर पिता को मुखाग्नि देती पुत्री ईशु।