--Advertisement--

सोमवती अमावस्या पर पीपल की पूजा, दान-पुण्य भी किए

केशरायपाटन. चंबल नदी के तट पर स्थित भगवान श्रीकेशवराय के मंदिर परिसर में परिक्रमा करती महिलाएंं। भास्कर न्यूज...

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 02:10 AM IST
सोमवती अमावस्या पर पीपल की पूजा, दान-पुण्य भी किए
केशरायपाटन. चंबल नदी के तट पर स्थित भगवान श्रीकेशवराय के मंदिर परिसर में परिक्रमा करती महिलाएंं।

भास्कर न्यूज |बूंदी

जिलेभर में सोमवार को सोमवती अमावस्या का पर्व धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर देवालयों में सुबह से शाम तक दर्शनों के लिए कतारें लगी रहीं। महिलाएं सज-धजकर मंदिरों में पहुंची। यहां पीपल की पूजा-अर्चना करने के बाद कथा सुनी। कई जगहों पर समाजसेवियों ने शीतल पेयजल की व्यवस्था भी की।

केपाटन:चर्मण्यवती नदी में श्रद्धालुओं ने किया स्नान

केशवरायपाटन.
सोमवती अमावस्या के पर्व पर श्रद्धालुओं ने पवित्र स्नान कर विष्णु अवतार भगवान केशवराय के दर्शनों का पुण्य लाभ प्राप्त किया। दानपुण्य के पर्व को देखते हुए सुबह से शहर व ग्रामीण क्षेत्र के श्रद्धालुओं के आने का क्रम शुरू हो गया था, जो दोपहर तक चलता रहा। महिला श्रद्धालुओं ने दर्शन के बाद मंदिर परिसर में तुलसी के पौधे व पीपल के पेड़ की पूजा-अर्चनाकर कथा कही। इस मौके पर महिलाओं ने श्रद्धानुसार फल, मेवे आदि एक-दूसरे को भेंट किए। अमावस्या के पर्व पर भगवान केशव का मनमोहक शृंगार किया। शहरवासियों ने भी श्रद्धालुओं के लिए जगह-जगह प्याऊ लगाकर सेवा की।

बसोली. सोमवती अमावस्या पर सिंधकेश्वर, दुर्वासा, सथूर के देवझर, नारायणपुर के धुंधलेश्वर महादेव आदि स्थानों पर आसपास के गांव से दर्शनों के लिए पैदल पहुंचे। महिलाओं ने व्रत रखकर पीपल के पेड़ की पूजा की एवं कथा सुनाई। साथी ही महिलाओं ने फल बांटे। वहीं श्रद्धालुओं के लिए जगह-जगह समाजसेवी लोगों ने शीतल पेय पिलाया। उधर, डाटूंदा बीजासन माताजी के यहां एक दिवसीय मेले का आयोजन किया गया। मेले में आसपास के सैकड़ों दुकानदारों ने पहुंचकर दुकानें लगाई। वहीं ग्रामीण महिलाओं ने जमकर खरीदारी की। दर्जनों गांव से महिला-पुरुषों ने पैदल पहुंचकर माता के दर्शन किए। भीड़ देखते हुए मेला समिति सदस्यों द्वारा बैरिकेड्स लगा कर दो पहिया और चौपहिया वाहनों को एक साइड में खड़ा करवाया। साथ ही पुलिस की निगरानी में मेला भरवाया गया मेले में सुबह से लेकर शाम तक दर्शनार्थियों की भीड़ लगी रही।

बसोली। दुर्वासा महादेव के दर्शनार्थ पैदल जाती महिलाएं।

X
सोमवती अमावस्या पर पीपल की पूजा, दान-पुण्य भी किए
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..