• Home
  • Rajasthan News
  • Bundi News
  • अन्न का कण व सत्संग का क्षण कभी मत छोड़ाे: जैन मुनि
--Advertisement--

अन्न का कण व सत्संग का क्षण कभी मत छोड़ाे: जैन मुनि

बूंदी. चौगान जैन मंदिर में जैनाचार्य का बालिका मंडल की ओर से मंगलाचरण किया गया, धर्मसभा में मौजूद समाजबंधु।...

Danik Bhaskar | May 03, 2018, 02:25 AM IST
बूंदी. चौगान जैन मंदिर में जैनाचार्य का बालिका मंडल की ओर से मंगलाचरण किया गया, धर्मसभा में मौजूद समाजबंधु।

बूंदी. चौगान जैन मंदिर में जैनाचार्य का बालिका मंडल की ओर से मंगलाचरण किया गया, धर्मसभा में मौजूद समाजबंधु।

भास्कर न्यूज | बूंदी

आचार्य सुुकुमालनंदी महाराज ससंघ का बुधवार को शहर के चौगान जैन मंदिर में मंगल प्रवेश हुआ।

आचार्य ससंघ को गाजे-बाजे के साथ बड़ा रामद्वारा से दिगंबर जैन खंडेलवाल सरावगी समाज के पदाधिकारियों द्वारा शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए चौगान जैन मंदिर लाया गया। जुलूस में सबसे आगे सकल महिला मंडल का बैंड चल रहा था। इससे पहले आचार्य ससंघ ने जैन नसियांजी के दर्शन किए। जुलूस में समाजजन भजनों पर नृत्य करते हुए चल रहे थे। आचार्य ससंघ की समाजबंधुओं ने पाद प्रक्षालन कर आरती उतारी। आचार्य ससंघ के साथ मुनि सुनयनंदी महाराज, एेलक शुलोकनंदी महाराज व क्षुल्लिका सर्वतश्री माताजी मौजूद रही। जुलूस कागदी देवरा, चूड़ी बाजार, मल्लाशाह मंदिर, चौमुखा बाजार होता हुआ चौगान जैन मंदिर पहुंचा, जहां महाराजश्री की धर्मसभा हुई। इसमें उन्होंने कहा कि बूंदी के लोगों में बूंदी जैसी मिठास है।