Hindi News »Rajasthan »Bundi» अपने जन्मदिन से 2 दिन पहले आज ज्वॉइन करेंगे नए कलेक्टर

अपने जन्मदिन से 2 दिन पहले आज ज्वॉइन करेंगे नए कलेक्टर

बूंदी| पीएचईडी मंत्री के विशेष सहायक रहे महेशचंद्र शर्मा पहली बार कलेक्टर के तौर पर किसी जिले की कमान संभालेंगे। 5...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 03, 2018, 02:30 AM IST

अपने जन्मदिन से 2 दिन पहले आज ज्वॉइन करेंगे नए कलेक्टर
बूंदी| पीएचईडी मंत्री के विशेष सहायक रहे महेशचंद्र शर्मा पहली बार कलेक्टर के तौर पर किसी जिले की कमान संभालेंगे। 5 मई को अपना 53वां जन्मदिन मनाने जा रहे शर्मा के लिए यह सरकार की ओर से बर्थ-डे गिफ्ट कहा जा सकता है। वे 3 मई को बूंदी कलेक्टर का कार्यभार संभालेंगे। आईएएस प्रमोशन से पहले उन्होंने बतौर आरएएस कई विभागों में जिम्मा संभाला है। अहम विभागों में काम करने का अनुभव उन्हें कलेक्टर के तौर पर काम आएगा। मूल अलवर के निवासी शर्मा को बूंदी कलेक्टर के तौर पर कई चुनौतियों, मुद्दों से निबटना होगा।

भास्कर से बातचीत

प्रशासन के मुखिया के रूप में पहली बार संभालेंगे जिले की कमान, पानी संकट सरीखी चुनौतियों से पाना होगा पार

बूंदी के नए कलेक्टर महेशचंद्र शर्मा।

इन मुद्दों पर कार्यकुशलता ही आएगी काम

जलसंकट के बीच पानी से जुड़े प्रोजेक्ट की गति भी बढ़ाना।

जनता, जनप्रतिनिधियों, कर्मचारियों-प्रशासन के बीच संवादहीनता खत्म कर सबके लिए दरवाजे खोलना, सालभर में दूरी बढ़ गई थी।

मीरा साहब तक गाड़ियों की इजाजत का मसला सुलझाना।

शहर में सीवरेज, अतिक्रमण, सड़कों, सफाई, बेसहारा गायों, धरोहरों के संरक्षण पर काम करने की जरूरत।

बस अड्डे और पुरानी कृषि मंडी की जमीन के इस्तेमाल पर फैसला, मंडी में किसानों-व्यापारियों के लिए सुविधा बढ़ाना।

कलेक्ट्रेट में पार्किंग की व्यवस्था करवाना भी चुनौती।

फोरेस्ट में आनेवाले 8 गांवों में बिजली-पानी-रास्ते का बंदोबस्त, जहां आज भी लोग बीमारों को खाट पर ले जाते हैं।

प्रशासन-जनता के बीच दूरी कम करेंगे

भास्कर से बातचीत में नए कलेक्टर शर्मा ने अपनी प्राथमिकताएं बताई। जिनमें प्रशासन-जनता के बीच संवाद बढ़ाना, लोगों का प्रशासन में भरोसा कायम करना, उनके दुख-दर्द दूर करना, सरकारी योजनाएं लोगों तक पहुंचाना और पानी संकट कम करना।

प्रोफाइल : कलेक्टर महेशचंद्र शर्मा

जन्म-5 मई 1965, मूल निवास-अलवर, शिक्षा-एमए इंग्लिश। वे बीडीओ, एसडीएम, जिला परिषद सीईओ से लेकर दो बार सीकर एडीएम रह चुके हैं। पीएचईडी, पंचायतीराज और स्वायत्तशासन मंत्री के विशेष सहायक रह चुके हैं। कई विभागों में अहम जिम्मेदारी संभाली।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bundi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×