जामुनिया द्वीप... धूप सेंकने आया मगरमच्छ

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 03:45 AM IST

Bundi News - बूंदी| जिले में केशवरायपाटन के नजदीक चंबल नदी के बीच स्थित जामुनिया द्वीप में आधा दर्जन टापू जैव-विविधता का अनुपम...

Bundi News - rajasthan news jamuna island sunbathing came crocodile
बूंदी| जिले में केशवरायपाटन के नजदीक चंबल नदी के बीच स्थित जामुनिया द्वीप में आधा दर्जन टापू जैव-विविधता का अनुपम खजाना है। वर्ष भर कल-कल बहती चर्मण्यवती नदी का पानी जामुनिया द्वीप पर आकर यहां की प्राकृतिक खूबसूरती को देखकर मानो ठहर सा जाता है। यहां पर पानी की गहराई अधिक होने से एक बड़े दह का रूप ले लिया है। रविवार को धूप सेंकने एक विशाल मगरमच्छ निकल आया। इसे देखने के लिए पर्यटक लालायित रहते हैं। यदि इस स्थान को इको-टूरिज्म के रूप में विकसित किया जाए तो यह हाड़ौती का ही नहीं, अपितु राजस्थान का प्रमुख प्राकृतिक पर्यटन स्थल बन सकता है।

नाव पर निहार सकते हैं प्रकृति की मनोहारी छटा

चंबल नदी के बीच में नोताड़ा(बीरज) गांव के पास स्थित यह प्राकृतिक स्थल इको टुरिज्म का अनूठा संगम है। इसकी जीवन रेखा चंबल नदी की हरियाली वादियों के बीच नाव पर सवार होकर पानी के बीच टापुओं पर बैठे मगरमच्छों व पक्षियों का स्वच्छंद विचरण यहां पर्यटकों के लिए रोमांचकारी है।

बूंदी जिले के केशवरायाटन जामुनिया द्वीप में धूप सेंकते मगरमच्छ।

100 से अधिक मगरमच्छों व प्रवासी परिंदों के कलरव से आबाद: जामुनिया द्वीपों के कुंज में 100 से अधिक मगरमच्छ मौजूद हैं, जो क्षेत्र को आकर्षण का केंद्र बनाए हुए है। इस स्थान के अनुकूल वातावरण के चलते यहां सर्दियों में विभिन्न प्रजाति के प्रवासी पक्षियों का जमावड़ा लगा रहता है। यहां जांगील व ओपन बिल स्टोर्क जैसे स्थानीय पक्षियों का स्थाई बसेरा भी है, जो जामुन व देशी बबूल के पेड़ों पर नेस्टिंग करते हैं। स्थान टूरिज्म के साथ-साथ वन्यजीव प्रमियों व विद्यार्थियों के अध्ययन के लिए भी जैव-विविधता का अनूठा संगम है। देखरेख हो तो पर्यावरण संरक्षण के साथ आगामी पीढ़ियों के लिए भी उन्नत प्राकृतिक विरासत को सहेजकर रख सकेंगे।



X
Bundi News - rajasthan news jamuna island sunbathing came crocodile
COMMENT