मनमुटाव दूर, अब साथ रहेंगे दंपती

Bundi News - राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष उमाशंकर व्यास के...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:45 AM IST
Bundi News - rajasthan news manamusha away now the couple will stay together
राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष उमाशंकर व्यास के मार्गदर्शन में जिला न्यायालय परिसर स्थित पार्क एवं न्यायिक अधिकारीगण आवासीय कॉलोनी में पौधारोपण किया गया।

इस पौधारोपण कार्यक्रम का उद्देश्य पौधे लगाने, पौधों को गोद लेने एवं पर्यावरण सुरक्षा के लिए कदम उठाने का संदेश आमजन तक पहुंचाना है। पौधारोपण कार्यक्रम का शुभारंभ जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष उमाशंकर व्यास ने पौधरोपण कर किया गया। इस दौरान नंदिनी व्यास, न्यायाधीश मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण क्र.सं. 01, केशव कौशिक, न्यायाधीश मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण क्रम संख्या-2, सुशील कुमार शर्मा (न्यायाधीश पारिवारिक न्यायालय बूंदी), दीपक दुबे (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश क्र.सं. 01 बूंदी), प्रमोद कुमार शर्मा (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश क्र.सं. 02 बूंदी), विनोद कुमार वाजा (सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बूंदी), गिरीजा भारद्वाज (मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट), हनुमान सहाय जाट (अति. मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट), निखिल कुमार नाड़ (न्यायिक मजिस्ट्रेट बंूंदी), माधवी मोदी (न्यायिक मजिस्ट्रेट क्र.सं. 01 बूंदी) तथा न्यायिक कर्मचारीगण, अधिवक्तागण, बैंक प्रबन्धक व पक्षकरान एवं आमजन उपस्थित रहें।

राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष उमाशंकर व्यास के मार्गदर्शन में बंूदी न्याय क्षेत्र के सभी न्यायालयों में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिला प्राधिकरण सचिव विनोदकुमार वाजा ने बताया कि यह लोक अदालत बूंदी न्याय क्षेत्र के सभी न्यायालयों में लगाई गई। इसमें बूंदी न्याय क्षेत्र में कुल 17 न्यायपीठों का गठन किया गया। लोक अदालत में दांडिक शमनीय प्रकरण, धारा 138, एनआई एक्ट प्रकरण, बैंक रिकवरी प्रकरण, एमएसीटी प्रकरण, बिजली बिल (अशमनीय मामलों के अतिरिक्त), वैवाहिक विवाद एवं अन्य सिविल मामलों के प्रकरणों को रखा गया। जिसमें इन सभी प्रकृति के कुल 4399 प्रकरणों को चिन्ह्ति किया गया जिनमें से 935 प्रकरणों का निबटारा किया गया, जिनमें कुल 5,63,74,994 राशि के अवार्ड पारित किए गए। इस राष्ट्रीय लोक अदालत में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष उमाशंकर व्यास व प्राधिकरण सचिव वाजा द्वारा पक्षकारान के मध्य समझाइश कर बैंक के प्री-लिटिगेशन प्रकरणों का निस्तारण किया गया। पारिवारिक न्यायालय में वैवाहिक विवादों के निस्तारण के लिए पक्षकारान से समझाईश की गई, जिससे पक्षकारान ने आपसी मनमुटाव को भुलाकर लोक अदालत की भावना से राजीनामे के द्वारा अपने विवाद का निस्तारण किया। एमएसीटी के प्रकरणों में भी पक्षकारान के मध्य राजीनामे करवाए गए।

नैनवां| तालुका विधिक सेवा समिति की अाेर से लगाई गई राष्ट्रीय लोक अदालत में राजीनामा से एक दंपती में चला आ रहा मनमुटाव दूर हो गया। लोक अदालत से पति-प|ी खुशी-खुशी एक साथ अपने घर के लिए रवाना हो गए। डेलपुरा निवासी शिक्षक भरतराज मीना व इसकी प|ी में आपस में मनमुटाव होने के बाद प|ी सुमित्राबाई अपने पीहर गांव आकर रहने लग गई थी। इस दंपती के दो संतान बेटा आजाद (12) व बेटी अनिता (8) मनमुटाव के बाद बेटा पिता के पास व बेटी अपनी मां के साथ रह रहे हैं। 29 जून 2018 को प|ी सुमित्रा ने न्यायालय में भरण पोषण का दावा किया था। इसके बाद 10 सितंबर 2018 को पति भरतराज मीना ने न्यायालय में दाम्पत्य वापस जुड़वाने का दावा कर रखा था। दोनों मामले न्यायालय में विचाराधीन चल रहे थे। शनिवार को अदालत परिसर में लगाए गई राष्ट्रीय लोक अदालत में आपसी समझाइश के बाद पति-प|ी ने राजीनामा हो गया और दोनों एक साथ लोक अदालत से अपने घर के लिए रवाना किया।

नैनवां: 88 केस निबटाए

नैनवां| तालुका विधिक सेवा समिति की अाेर से न्यायालय परिसर में राष्ट्रीय लोक अदालत लगाई गई। लोक अदालत के बाद न्यायालय परिसर में पौधरोपण किया गया। लोक अदालत के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा बैंच गठित की गई, जिसके अध्यक्ष एसीजेएम रविकांत मीना एवं सदस्य एडवोकेट नियुक्त किए गए। लोक अदालत में अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा 40 प्रकरणों का जरिए राजीनामा निस्तारण किया गया। बैक ऋण से सबंधित प्रि. लिटिगेशन प्रार्थना पत्र पर सुनवाई की गई। जिनमें 17 प्रकरणों में पक्षकारान में समझाइश कर 53 हजार के अवार्ड पारित किए गए। न्यायालय न्यायिक मजिस्ट्रेट के 31 प्रकरणों का राजीनामे से निस्तारण किया गया। कुल 88 प्रकरण निस्तारित किए गए। लोक अदालत में बेंच के सदस्य महेंद्र सिंह सिसोदिया मौजूद रहे। एसबीआई नैनवां, बीओबी नैनवां, करवर व बीआरकेजीबी नैनवां ,तलवास, जजावर एवं बीसीएनएल बूंदी के लेखाधिकारी भी मौजूद रहे। तालुका विधिक सेवा समिति सचिव जावेद अहमद ने बताया कि न्यायालय परिसर में एसीजेएम रविकांत मीना द्वारा पौधरोपण किया गया।

हिंडाैली में 43 मामलों में राजीनामा कराया

हिंडौली| न्यायालय सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट सुभाषचंद्र कोटिया की अध्यक्षता में किया गया। सचिव योगेश जैन ने बताया कि पक्षकारान लोक अदालत में आपसी मनमुटाव को बुलाकर राजीनामे के लिए आए। राष्ट्रीय लोक अदालत की भावना से अपने-अपने प्रकरणों का निस्तारण करवाया। जिसमें घरेलू हिंसा का एक विवाद रामकन्या बनाम भैरुलाल न्यायालय में काफी समय से लंबित था, जिसमें दोनों दंपती काफी समय से अलग अलग रह रहे थे। जिनको लोक अदालत की भावना से आपस में समझाया तथा एक साथ गृहस्थ जीवन जीने के लिए राजी किया गया। दोनों पक्षों ने आपस में गृहस्थ जीवन जीने का फैसला किया। वहीं नेशनल लोक अदालत में भी कुल 43 प्रकरणों का आपसी समझाइश से राजीनामा करवाया गया। 373776 रुपए के अवार्ड पारित किए गए। साथ ही एक 10 वर्ष पुराना प्रकरण भी आपसी समझाइश से निस्तारित किया गया। न्यायालय सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक शनिवार को 25- 30 पौधे लगाए गए, जिसमें आम नीम शीशम रुद्राक्ष सहित कई छायादार पौधे रोपित किए गए, जिनकी देखभाल करने का संकल्प लिया।

नैनवां. राष्ट्रीय लोक अदालत में राजीनामा करते दंपती, अब दोनों साथ रहेंगे।

हिंडौली. न्यायालय परिसर में पौधारोपण करते अतिथि।

Bundi News - rajasthan news manamusha away now the couple will stay together
X
Bundi News - rajasthan news manamusha away now the couple will stay together
Bundi News - rajasthan news manamusha away now the couple will stay together
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना