जो खड़ा नहीं हो सकता था, वह चलकर पहुंचा घर

Bundi News - छोटूलाल जांगिड़ देई. जो आर्मी अफसर पैदल नहीं चल सकता था और कई अस्पताल में इलाज कराने के बावजूद ठीक नहीं हुआ, वह...

Feb 15, 2020, 08:10 AM IST
Dai News - rajasthan news one who could not stand walked home

छोटूलाल जांगिड़

देई. जो आर्मी अफसर पैदल नहीं चल सकता था और कई अस्पताल में इलाज कराने के बावजूद ठीक नहीं हुआ, वह कस्बे में नवनिर्मित बाबा श्याम मंदिर में मूर्ति प्राण-प्रतिष्ठा महाेत्सव में पूर्णाहुति के बाद स्वयं पैदल चलकर घर पहुंचा।

भीलवाड़ा के ग्राम जामौली (जहाजपुर) निवासी छाेटूलाल जांगिड़ (54) पुत्र भंवरलाल के अनुसार वह आर्मी आठवीं बटालियन में थ्रीस्टार अफसर के पद पर नियुक्त था। 32 वर्ष की नौकरी के दौरान 2015 में लेह में तैनात था। तब छह घंटे तक बर्फ में दबे रहने के कारण मस्तिष्क एवं पैर सुन्न हो गए थे और खड़ा भी नहीं हो सकता था। इसके चलते सेना से रिटायर्ड हो गया और चार साल तक दिल्ली, जयपुर, कोटा में इलाज करवाया, लेकिन कोई फायदा नहीं मिला। डॉक्टरों ने भी जवाब दे दिया। देई में हो रहे प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव की जानकारी मिली तो 6 फरवरी को आया। उस दिन दाे घंटे रुका तो थोड़ा आराम महसूस हुआ, लेकिन वापस गांव जाना पड़ गया। दुबारा यज्ञ शुरू होने पर 9 फरवरी को आया तो देई निवासी सुनील जांगिड़ के संपर्क में आया। उसने मुझे यज्ञशाला में बैठा दिया। शाम तक तो सहारे से खड़ा हो गया। रात देई में ही सुनील के घर रुक गया। दूसरे दिन 10 फरवरी को बिना सहारे खड़ा हो गया और सुनील के घर से स्वयं पैदल चलकर मंदिर परिसर गया। लगातार चार दिन यज्ञशाला में जाकर बैठने लगा। पूर्णाहुति के साथ पूर्णयता ठीक हो गया। पूर्व सैनिक छोटूलाल ने बताया कि 13 फरवरी को प्रसादी ग्रहण कर ही गांव लौटा। उसने इसे श्याम बाबा की कृपा बताई है।

X
Dai News - rajasthan news one who could not stand walked home
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना