11केवी के 370 फीडरों पर 40% से ज्यादा बिजली चोरी

Bundi News - बिजली छीजत को 15 फीसदी लाने का फीडर इंचार्जाे को हार्डटॉस्क मिला है। यह काम उन्हें 5 माह में पूरा करना है। जिले में 11...

Oct 13, 2019, 08:00 AM IST
बिजली छीजत को 15 फीसदी लाने का फीडर इंचार्जाे को हार्डटॉस्क मिला है। यह काम उन्हें 5 माह में पूरा करना है। जिले में 11 केवी के 370 फीडरों पर 40 फीसदी से अधिक बिजली (छीजत) चोरी हो रही है। पिछले दिनों जयपुर में डिस्कॉम चेयरमैन के साथ अधिकारियों की हुई मीटिंग में यह निर्देश दिए गए है। सभी जिलों में डिवीजन वाइज यह कार्यशाला रखी जा रही है, जिसमें फीडर इंचार्जो को चोरी में कमी लाने काे पाबंद किया जा रहा है। डिविजन फर्स्ट की कार्यशाला में डिस्कॉम इंजीनियराें ने फीडर इंचार्जो को निर्देश दिए कि वे इन फीडरों को चैक करे और ऐसे उपभोक्ताओं का पता लगाएं, जिन्होंने कनेक्शन नहीं ले रखे और वे चोरी-छिपे बिजली का उपभोग कर रहे हैं। इन उपभोक्ताओं को कनेक्शन के लिए समझाना है, ताकि बिजली चोरी पर रोकथाम हो सकें। हालांकि इसके बाद भी चोरी में कमी नहीं आती तो डिस्कॉम आखिरी उपाय विजिलेंस कार्रवाई करेगा।

डिस्कॉम की डिविजन फर्स्ट की कार्यशाला में इंजीनियरों ने बताए विभागीय लक्ष्य।

32 फीसदी उपभोक्ताअाें का सच जानेंगे कार्मिक

जिले में एक लाख 90 हजार उपभोक्ता हैं। इनमें से 32 फीसदी उपभोक्ता 50 यूनिट से भी कम बिजली का उपभोग कर रहे हैं। ये उपभोक्ता शक के दायरे में हैं। डिस्कॉम कर्मचारी इनके घर-घर जाकर सच्चाई जानेंगे। इसी तरह 27 फीसदी उपभोक्ता 100 यूनिट से कम बिजली इस्तेमाल कर रहे हैं। हालांकि चैकिंग के प्रथम फेज में जो उपभोक्ता 50 यूनिट से कम बिजली का उपभोग कर रहे हैं, उन्हें शामिल किया गया है।

छोटी इकाई से की गई शुरुआत

बिजली तंत्र की सबसे छोटी इकाई 11 केवी फीडर माने जाते हैं। जिले में 33केवी जीएसएस की संख्या 81 है, जिनसे 11केवी के 370 फीडर निकल रहे हैं। इनके माध्यम से घराें तक बिजली पहुंच रही है। 11 केवी के सभी फीडरों पर लगे इंचार्ज का काम मीटर बदलना, छीजत में कमी लाना, वसूली, रखरखाव, दुर्घटनाओं में कमी लाना है। ऐसे में 40 फीसदी से अधिक बिजली चोरी में कमी लाने का टॉस्क फीडर इंचार्जाे को दिया है।


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना