• Hindi News
  • National
  • Bundi News Rajasthan News The Case Of Assault By Volunteers In Sangh39s Branch Gumja In Jaipur Assembly

संघ की शाखा में स्वयंसेवकों से मारपीट का मामला जयपुर विधानसभा में गूंजा

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नवलसागर पार्क में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखा में स्वयंसेवकों से मारपीट का मामला गर्मा रहा है। गुरुवार को रामगंजमंडी विधायक मदन दिलावर ने यह मामला विधानसभा में उठाते हुए मारपीट करने वालों को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की। हरकत में आई कोतवाली पुलिस ने इस पर तीनों जनों को गिरफ्तार किया कर न्यायालय में पेश किया, जहां से दो को जेल भेजने के आदेश दिए गए।

स्वयंसेवकों से मारपीट के मामले में बुधवार रात बड़ी संख्या में लोग कोतवाली में पहुंच गए थे। इससे काफी देर तक गहमागहमी का माहौल बना रहा। गुुरुवार को कुछ संगठनों के पदाधिकारियों ने कार्रवाई की मांग को लेकर एडीएम राजेश जोशी को ज्ञापन भी दिया। इसमें लिखा कि बालचंदपाड़ा के नवलसागर पार्क में पिछले 50 सालों से भी अधिक समय से संघ की सुबह-शाम शाखा लगती है, जिसमें किशोर व बच्चे भी भाग लेते हैं। बुधवार शाम को भी शाखा चल रही थी। इसी दौरान कुछ महिलाएं और युवक आए। वे शाखा के बीच में पहुंच गए, जब उन्हें रोकना चाहा तो कहासुनी करने लगे। धक्का-मुक्की के बाद वे मारपीट पर उतारू हो गए। इससे तीन-चार स्वयंसेवकों के चोट आई। इसके बाद कोतवाली में रिपोर्ट दी गई।

स्वयंसेवकों से मारपीट करने के मामले में कुछ संगठनों की ओर से गुरुवार को एडीएम को ज्ञापन दिया गया।

इन्हाेंने दिया ज्ञापन: ज्ञापन देने वालों में विश्व हिंदू परिषद के नगर अध्यक्ष पीतांबर शर्मा, नगर मंत्री प्रशांत मोदी, नगर सहमंत्री संदीप शृंगी, संघ के विभाग संपर्क प्रमुख सुरेश पोखरा, विद्या भारती जिलाध्यक्ष सत्यनारायण गोस्वामी, जिलामंत्री महेंद्र शर्मा, भाजयुमो जिलाध्यक्ष लोकेश शर्मा, भाजपा प्रवक्ता अमित निंबार्क, पार्षद रमेश हाड़ा, भाजपा महामंत्री महावीर मोदी, महेश जिंदल, ओमेंद्रसिंह हाड़ा, भारतीय किसान संघ के जिलाध्यक्ष मोहनलाल नागर, सेवा भारती नगर अध्यक्ष देवेंद्र त्रिपाठी, शिक्षक संघ के जिलामंत्री बुद्धिप्रकाश व एबीवीपी के पदाधिकारी मौजूद थे।

इन्हें किया गिरफ्तार: कोतवाली सीआई घनश्याम मीणा ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में तीन जनों को गिरफ्तार किया है। इनमें टोंक निवासी सद्दाम, अहमदाबाद निवासी शाहिद व शफी मोहम्मद शामिल हैं। तीनों को न्यायालय में पेश किया, जहां से सद्दाम व शाहिद को जेल भेजने के आदेश दिए गए।

खबरें और भी हैं...