--Advertisement--

ग्रहण के दिन 15 प्रतिशत बड़ा और 30 प्रतिशत ज्यादा चमकीला था चांद

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़ साल के पहले पूर्ण चंद्रग्रहण के बाद अब वापस 15 जुलाई को चंद्रग्रहण होगा। इसके तय...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:45 AM IST
भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

साल के पहले पूर्ण चंद्रग्रहण के बाद अब वापस 15 जुलाई को चंद्रग्रहण होगा। इसके तय समय की गणना की जा रही है। हालांकि तब बारिश का मौसम होने से चंद्रग्रहण देखने मेंं परेशानी रहेगी। बुधवार को चांद सामान्य से 15 प्रतिशत बड़ा और 30 प्रतिशत अधिक चमकीला था।

यह कहना है स्टारगेट आॅब्जरवेटरी सेंटर कोसानी की टीम का। बुधवार शाम 36 साल बाद हुए दुर्लभ चंद्रग्रहण को कवर करने के लिए चित्तौड़ आई यह टीम गुरुवार को लौट गई। टीम के सीटीओ अतिश अमन, खगोलविद‌् अभिनव सिंघई और वर्षा इससे पहले भास्कर कार्यालय आए। उन्होंने बताया कि तारामंडल परिवार की यह एजेंसी चंद्रग्रहण, सूर्यग्रहण पर शोध कर उनके दुर्लभ चित्र विभिन्न देशों की वेबसाइट पर डालने के साथ छात्र-छात्राओं को सौर मंडल की जानकारी देती है। उन्होंने कहा कि वायुमंडल के साथ ही हैरिटेज के हिसाब से ऐसी घटनाओं को कवर करने के लिए चित्तौड़ अच्छी जगह है। इसलिए वर्ष 2012 के पूर्ण सूर्यग्रहण में भी हमने यह स्थान चुना था।

स्कूलों में आकाशगंगा की जानकारी देने के लिए कार्यक्रम...खगोलविद‌् वर्षा व अभिवव सिंघई ने बताया कि स्टार गेट आॅब्जरवेटिव कोसानी देश में खगोल विज्ञान पर शोध और दुर्लभ घटनाओं के छाया चित्र कवर करने में बरसों से जुटी है। स्कूलों में भी कार्यक्रम कर बताया जाता है। हर साल पांच हजार छात्र-छात्राओं को इससे जोड़ा जा रहा है। ताकि भविष्य में ज्यादा से ज्यादा लोग खगोलीय घटनाओं के जानकार बन शोध करें।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..