• Home
  • Rajasthan News
  • Chittorgarh News
  • ओशो साहित्य केंद्र व लाइब्रेरी की शुरूआत, मिलेगी सुविधा
--Advertisement--

ओशो साहित्य केंद्र व लाइब्रेरी की शुरूआत, मिलेगी सुविधा

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़ शहर में ओशो का साहित्य पढ़ने व जानने के इच्छुक लोगों के लिए अच्छी खबर है।...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:15 AM IST
भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

शहर में ओशो का साहित्य पढ़ने व जानने के इच्छुक लोगों के लिए अच्छी खबर है। कुंभानगर रेलवे अंडरब्रिज के पास ओशो साहित्य केंद्र व लाइब्रेरी की शुरुआत की गई है। जहां हर तरह का ओशो साहित्य उपलब्ध होगा।

शुभारंभ कार्यक्रम में नई दिल्ली से प्रकाशित पत्रिका साधना पथ के मुख्य संपादक स्वामी शशिकांत भारती सदेव , भीलवाड़ा ओशो उपवन के संचालक स्वामी तीर्थदास, प्रकाश छाबड़ा, भवानीशंकर नंदवाना, विजयपुर निवासी शिवलाल शर्मा, शिवशंकर नंदवाना, स्वामी रमेश नेहरिया भीलवाड़ा,विजय नंदवाना, सत्यनारायण नंदवाना, रमेश दशोरा के साथ चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा व अजमेर आदि जगहों के ओशो प्रेमी उपस्थित थे। चित्तौड़ फिलिंग स्टेशन पर स्थापित इस केंद्र के संचालक भवानीशंकर नंदवाना ने बताया कि प्रतिदिन केंद्र खुलने का समय फिलहाल शाम 4 से 6 बजे तक रहेगा। यहां ओशो की पत्रिकाओं, पुस्तकों के साथ ओडियो व वीडियो सीडी भी उपलब्ध रहेगी। ओशो प्रेमियों के लिए विशेष छूट भी रहेगी। इसके तहत वे पुस्तक पढ़कर वापस भी जमा करा सकेंगे। स्वामी तीर्थदास ने बताया कि ओशो का साहित्य न केवल व्यक्ति का ज्ञान बढ़ाता है। बल्कि तनाव मुक्त रहने, डिप्रेशन कम करने, व्यायाम योगा सहित जीवन जीने की कला भी सिखाता है। ओशो के संदेश कई बड़े संत, स्टार व खिलाड़ी अपने उदबोधन में शामिल करते है।