चित्तौड़गढ़

--Advertisement--

खड़गे की अध्यक्षता में पीएसी ने 102 रिपोर्ट तैयार की

नई दिल्ली | कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे की अध्यक्षता वाली संसद की लोक लेखा समिति (पीएसी) वित्त वर्ष 2017-18 में सबसे...

Danik Bhaskar

Apr 01, 2018, 06:00 AM IST
नई दिल्ली | कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे की अध्यक्षता वाली संसद की लोक लेखा समिति (पीएसी) वित्त वर्ष 2017-18 में सबसे अधिक सक्रिय संसदीय समिति रही है। इस अवधि में पीएसी ने 102 रिपोर्ट तैयार की। यह हाल के समय में संसद की किसी भी समिति की तुलना में सबसे अधिक है।

पीएसी के एक सीनियर सदस्य ने यह जानकारी देते हुए बताया कि अप्रैल 2017 से 31 मार्च 2018 तक पीएसी ने 65 पूर्ण रिपोर्ट आैर 37 एक्शन टेकेन रिपोर्ट पेश की। पीएसी के सीनियर सदस्य ने कहा कि इसका श्रेय सांसदों और पीएसी के सदस्यों को जाता है, जिन्होंने काम के बोझ और राजनीतिक दबाव के बावजूद विधायी कार्य को गंभीरता से अंजाम दिया। सीनियर सदस्य ने इसके लिए पीएसी चेयरमैन खड़गे को भी इसका श्रेय दिया। उन्होंने कहा कि मीडिया में पीएसी को लेकर राजनीतिक बातें की जाती हैं, इसके बावजूद इतना अधिक काम करना सराहनीय है। उन्होंने कहा कि सच यह है कि पीएसी की सभी रिपोर्ट आम सहमति से बनती है। खड़गे से पहले कांग्रेस के एमवी थॉमस पीएसी के चेयरमैन थे। पीएसी में इस अवधि में भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल और पूर्व वित्त एवं राजस्व सचिव हसमुख अढिया को भी समन किया गया था। पीएसी में भाजपा सदस्यों ने भी संवैधानिक पदों पर बैठे इन लोगों से सवाल किए।

Click to listen..