गांवों में बाल संरक्षण इकाइयां रखेंगी बालविवाह पर नजर

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 09:56 AM IST

Chittorgarh News - भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़ जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर चलाए जा रहे बाल विवाह प्रतिषेध अभियान के तहत एवं...

Rashmi News - rajasthan news child protection should be kept in villages
भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर चलाए जा रहे बाल विवाह प्रतिषेध अभियान के तहत एवं आगामी पीपल पूर्णिमा पर बाल विवाह रोकथाम के उद्देश्य को लेकर राशमी पंचायत समिति में बैठक हुई। मुख्य अतिथि प्राधिकरण के सचिव सुनीलकुमार ओझा थे। अध्यक्षता एसडीएम कपूरशंकर मान ने की तथा बीडीओ प्रदीपकुमार, तहसीलदार नीता वसीटा विशिष्ट अतिथि थी।

बैठक में मुख्य अतिथि ओझा ने कहा कि बाल विवाह की रोकथाम के लिए प्रशासन द्वारा जिम्मेदारी निर्धारित की गई है। उन्होंने प्रत्येक ग्राम पंचायत, पंचायत समिति व जिला स्तर पर बाल संरक्षण इकाइयों का गठन किए जाने के प्रावधान के बारे में जानकारी दी। ओझा ने बैठक में उपस्थित उपखण्ड अधिकारी को निर्देशित किया कि वे स्थानीय प्रिंटिंग प्रेस को पाबंद करें कि वे अपने संस्थान से मुद्रित होने वाले शादी विवाह कार्ड पर वर-वधू की आयु आवश्यक रूप से अंकित करें। विशिष्ट अतिथि ब्लाॅक विकास अधिकारी प्रदीपकुमार ने बच्चों के माता पिता से बाल विवाह नहीं करने का आह्वान किया। ताल्लुका विधिक सेवा समिति, राशमी के अध्यक्ष जफर अहमद ने कहा कि बाल विवाह में सम्मिलित होने वाले प्रत्येक सहभागी के लिए कानून में सजा के प्रावधान दिए गए हैं।

बाल विवाह की जानकारी पर किया पाबंद ... बैठक में उपस्थित एक व्यक्ति ने आगामी 20 मई को राशमी क्षेत्र में एक 12 वर्षीय नाबालिग बालिका का विवाह होने की शिकायत प्रस्तुत की। जिस पर मुख्य अतिथि ओझा ने बैठक में उपस्थित एसडीएम, तहसीलदार एवं थानाधिकारी रतनसिंह को उक्त बाल विवाह रुकवाकर बालिका व बालक के परिवारजनों को बाल विवाह नहीं करने के लिए पाबंद करने के निर्देश दिए।

X
Rashmi News - rajasthan news child protection should be kept in villages
COMMENT