आफत; बेगूं में बाढ़ के हालात, ब्राह्मणी नदी का पानी बाजार में घुसा, आधे दिन टापू बना

Chittorgarh News - बारिश से बेगूं में भरा पानी। पेड़ गिरने से टूटे बिजली के तार। डोराई बांध की पाल पर मोहरी के पास जेसीबी से गड्ढा भरा।...

Bhaskar News Network

Sep 16, 2019, 07:16 AM IST
Begu News - rajasthan news disaster begun flood situation water from brahmani river entered the market became an island for half a day
बारिश से बेगूं में भरा पानी। पेड़ गिरने से टूटे बिजली के तार। डोराई बांध की पाल पर मोहरी के पास जेसीबी से गड्ढा भरा। फोटो| किशन शर्मा

क्षेत्र में रविवार शाम फिर से बारिश का दौर शुरू हुआ। इधर डोराई बांध की मोहरी के दूसरी तरफ और गड्ढा हो गया। सूचना पर अधिकारी और ग्रामीण मौके पर पहुंचे। बताया गया कि दोपहर बाद बारिश थमी लेकिन शाम सात बजे बेगूं में फिर से बारिश का दौर शुरू हो गया। डोराई बांध पर दिन में मोहरी के पास हुआ एक तरफ का खड्डा भरने से लोगों ने चैन की सांस ली। लेकिन शाम को मोहरी की दूसरी तरफ और गड्ढा पडऩे से फिर से चिंता बढ़ गई। डोराई बांध के एक और गड्ढा होने की ग्रामीणों ने प्रशासन को सूचना दी। जल संसाधन विभाग के अधिकारी, कर्मचारी और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। तेज बारिश के चलते भी ग्रामीण मौके पर पहुंचे और गड्ढा भरने में जुटे रहे। बारिश और बाढ़ के हालात के बीच रविवार सुबह डोराई बांध की मोहरी के पास बड़ा खड्डा पड़ने से सभी की सांसें फूल गई। क्योंकि यह बांध लबालब होकर एक फीट चादर चल रही है। जिस जगह यह गड‌्ढा हुआ, वहां पहुंचना भी आसान नहीं था। एसडीएम रमेश सीरवी पुनाडिय़ा के निर्देश पर जल संसाधन विभाग और प्रशासन के अधिकारी जेसीबी और नाव में बैठकर पहुंचे। खड्डे को रेत-सीमेंट डालकर पेक कर दिया गया। जेईएन कन्हैयालाल धाकड़, मेघपुरा सरपंच भंवरलाल धाकड़, पटवारी अंतिम कुमार मिर्जा सहित कर्मचारी और ग्रामीण मौजूद रहे।

लाइन के तार टूटने से कई जगह बिजली हुई गुल

बस स्टैंड पर नीम के पेड़ के साथ बिजली के तार भी टूटकर नीचे गिर गए। सुबह कई मोहल्लों में बिजली बंद होने के कारण जलापूर्ति भी नहीं हुई। रविवार सुबह समाप्त 24 घंटे में जिले में सर्वाधिक 6 इंच बारिश बेगूं में ही हुई। ओराई बांध पर तीन व भैसरोड़गढ़ में दो इंच बारिश हुई। यह पूरा इलाका जिले व प्रदेश का पूर्वी हिस्सा है। जिसमें व मप्र के सीमावर्ती क्षेत्रों में बारिश सितंबर में भी सितम ढाह रही है।

बरनियास पंचायत के संग्रामपुरा में ढहा मकान

बरनियास पंचायत के संग्रामपुरा में भोमा पुत्र सुवा रेबारी का कच्चा मकान शनिवार रात में ढह गया। गनीमत रही कि जनहानि नहीं हुई पर किसान का आशियाना ऊजड़ जाने से परिवार को भारी परेशानी हुई।

1747 एमएम बारिश, 50 साल में नहीं हुई इतनी

बेगूं में इस सीजन में रविवार सुबह तक कुल 1747 एमएम हो चुकी है। इतनी बारिश गत 50 साल में भी नहीं हुई। वर्ष 2010 में 1624 और 2016 में 1487 एम बारिश का रिकॉर्ड था। तीन साल पहले नगर में बाढ़ से बस स्टैंड पर करीब 8-9 फीट पानी भर गया था।

10 साल से है यह समस्या, हर बार कर लेते हैं इितश्री

ग्रामीणों के अनुसार डोराई बांध पर मोहरी के पास करीब 10 सालों से यह समस्या है। हर साल बारिश में खड्डा बड़ा हो जाता है। विभाग आनन फानन में पहुंचकर कुछ सीमेंट के कट्टे डालकर समस्या की इतिश्री कर देता है। समस्या के स्थायी समाधान पर ध्यान नहीं दिया। इससे कभी भी बड़े हादसे का अंदेशा है।

आनंद; 52 इंच बारिश के बाद नेचुरल वाटरपार्क बन गया पाडनपोल झरना

पांच स्टेप में गिर रहा है यह जलप्रपात

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

इन दिनों उफान मारती नदियों के साथ शहर का एकमात्र जलप्रपात पहली बार किसी वाटरपार्क और स्वीमिंग पुल में तब्दील हुआ दिख रहा है। वो भी प्राकृतिक और सुरम्य वातावरण में। लिहाजा रविवार को यह जगह शहरवासियों व पर्यटकों का हॉट स्पाट नजर आया। शहर में रविवार सुबह तक करीब 52 इंच बारिश हो चुकी है। इस कारण किले के गोमुख कुंड से पाडनपोल का झरना चरम वेग और आकार में गिर रहा है। कई लोग तो ऐसा पहली बार ही देख रहे। मौसम खुलने के साथ रविवार होने से जोरदार चहलकदमी रही। कई लोग सुबह से परिवार के साथ आ गए। जमकर नहाते, तैरते व अठखेलियां करते आनंदित दिखे।

100 से 150 फीट ऊंचाई से गिरता है यह झरना

किले के गोमुख कुंड पर बने ओवरफ्लो पाइंट से पानी करीब 100 फीट नीचे पहाड़ी में ही गिरता है। वहां चट्टानों से टकराते और दो-तीन जगह बल खाता झरना बन जाता है। पाडनपोल के ऊपर चंद्राकार घनी पहाड़ी के साथ कंदराओं से यह अभी अपने चरम रूप में फैलाव लिए हुए हैं।

ट्यूब व स्विमिंग कॉस्ट्यूम के साथ आ रहे परिवार...

इन दिनों झरना इतना वेग से गिर रहा है कि उसकी चार-पांच स्टेप बन गई। कोई ऊंचाई से गिर रही तेज धाराओं के नीचे खड़ा रहकर आनंद ले रहा है तो कोई सीढिय़ों या चट्टानों से गिरते पानी में। कई लोग ट्यूब, स्विमिंग कॉस्ट्यूम के साथ बच्चों को लेकर आए। ताकि वे यहां सुरक्षित तैरना भी सीख सके।

फोटो | रमेश टेलर

Begu News - rajasthan news disaster begun flood situation water from brahmani river entered the market became an island for half a day
Begu News - rajasthan news disaster begun flood situation water from brahmani river entered the market became an island for half a day
Begu News - rajasthan news disaster begun flood situation water from brahmani river entered the market became an island for half a day
X
Begu News - rajasthan news disaster begun flood situation water from brahmani river entered the market became an island for half a day
Begu News - rajasthan news disaster begun flood situation water from brahmani river entered the market became an island for half a day
Begu News - rajasthan news disaster begun flood situation water from brahmani river entered the market became an island for half a day
Begu News - rajasthan news disaster begun flood situation water from brahmani river entered the market became an island for half a day
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना