पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Chittorgarh News Rajasthan News In Scout Camp Raver Ranger Removed The Frozen Ground On Cc Road In Two Hours To Save People From Accident

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्काउट कैंप में राेवर-रेंजर ने सीसी सड़क पर जमी काई दो घंटे में हटाई, लोगों को दुर्घटना से बचाने की कवायद

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

शहर में बडी संख्या में स्काउट-गाइड के रोवर-रेंजर ने रविवार को किला रोड पर श्रमदान कर एक अलग तरह का संदेश दिया। इस संदेश के तहत जहां पांच कराेड़ रुपए की लागत से बनी सीसी सड़क को बचाने की कवायद की गई। साथ ही नवरात्रा में आने वाले सैकडों श्रद्धालुओं व पर्यटकों को दुर्घटनाग्रस्त होने से बचाने का कार्य किया।

राजस्थान राज्य भारत स्काउट गाइड जिला मुख्यालय की ओर से पांच दिवसीय रोवर-रेंजर निपूर्ण प्रशिक्षण शिविर किला रोड पर स्काउट-गाइड संघ कार्यालय में शुरू हुअा है। शिविर में भाग ले रहे रोवर-रेंजर ने शिविर के दूसरे दिन ये प्रेरणादायी श्रमदान किया। सीओ स्काउट विनोद घारू ने बताया कि प्रशिक्षण शिविर की व्यवस्थाओं से जुड़े व स्थानीय संघ के सचिव देवकीनंदन वैष्णव ने शिविर में पहुंच कर सभी रोवर-रेंजर को बताया कि इस बार रिकाॅर्ड बारिश के चलते दुर्ग के गाेमुख कुंड से तीन माह से हर क्षण झरने से बह रहा हजारों लीटर पानी किला रोड से होकर नाले में जा रहा है। यूआईटी ने किला रोड को आकर्षक बनाने के लिए पांच करोड की लागत से जो सीसी सड़क बनाई थी, उस पर हर समय यह पानी बह रहा है। जिससे सड़क पर काई जम गई है तथा सड़क कमजोर हो रही है। सड़क पर काई जमने से किले पर अाने वाले सैकडों यात्री व वाहन अाए दिन दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं। प्रशिक्षण में भाग ले रहे 100 रोवर-रेंजर ने प्रतिज्ञा ली कि रविवार को नवरात्रा का पहला दिन यात्रियों व शहरवासियों के लिए सुकूनभरा होगा। सीओ स्काउट विनोद घारू सचिव देवकीनंदन वैष्णव, स्काउटर पंकज दशोरा, रोवर लीडर हेमेंद्र कुमार सोनी, प्रशिक्षक सत्यनारायण सोमानी के नेतृत्व में 15-15 रोवर-रेंजर की टोलियां बना कर मात्र दो घंटे में झरने के पानी का रास्ता बदल दिया। जिससे पाडनपोल से ओछड़ी दरवाजा तक पानी बंद होने से सड़क सूखने के बाद काई को खुरच कर साफ किया। पानी काे पास ही गड्ढा खाेदकर एकत्र किया अाैर उसे नाले से जाेड़ दिया।

किला रोड पर बह रहे पानी की दिशा को सही करते हुए रोवर्स।

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

शहर में बडी संख्या में स्काउट-गाइड के रोवर-रेंजर ने रविवार को किला रोड पर श्रमदान कर एक अलग तरह का संदेश दिया। इस संदेश के तहत जहां पांच कराेड़ रुपए की लागत से बनी सीसी सड़क को बचाने की कवायद की गई। साथ ही नवरात्रा में आने वाले सैकडों श्रद्धालुओं व पर्यटकों को दुर्घटनाग्रस्त होने से बचाने का कार्य किया।

राजस्थान राज्य भारत स्काउट गाइड जिला मुख्यालय की ओर से पांच दिवसीय रोवर-रेंजर निपूर्ण प्रशिक्षण शिविर किला रोड पर स्काउट-गाइड संघ कार्यालय में शुरू हुअा है। शिविर में भाग ले रहे रोवर-रेंजर ने शिविर के दूसरे दिन ये प्रेरणादायी श्रमदान किया। सीओ स्काउट विनोद घारू ने बताया कि प्रशिक्षण शिविर की व्यवस्थाओं से जुड़े व स्थानीय संघ के सचिव देवकीनंदन वैष्णव ने शिविर में पहुंच कर सभी रोवर-रेंजर को बताया कि इस बार रिकाॅर्ड बारिश के चलते दुर्ग के गाेमुख कुंड से तीन माह से हर क्षण झरने से बह रहा हजारों लीटर पानी किला रोड से होकर नाले में जा रहा है। यूआईटी ने किला रोड को आकर्षक बनाने के लिए पांच करोड की लागत से जो सीसी सड़क बनाई थी, उस पर हर समय यह पानी बह रहा है। जिससे सड़क पर काई जम गई है तथा सड़क कमजोर हो रही है। सड़क पर काई जमने से किले पर अाने वाले सैकडों यात्री व वाहन अाए दिन दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं। प्रशिक्षण में भाग ले रहे 100 रोवर-रेंजर ने प्रतिज्ञा ली कि रविवार को नवरात्रा का पहला दिन यात्रियों व शहरवासियों के लिए सुकूनभरा होगा। सीओ स्काउट विनोद घारू सचिव देवकीनंदन वैष्णव, स्काउटर पंकज दशोरा, रोवर लीडर हेमेंद्र कुमार सोनी, प्रशिक्षक सत्यनारायण सोमानी के नेतृत्व में 15-15 रोवर-रेंजर की टोलियां बना कर मात्र दो घंटे में झरने के पानी का रास्ता बदल दिया। जिससे पाडनपोल से ओछड़ी दरवाजा तक पानी बंद होने से सड़क सूखने के बाद काई को खुरच कर साफ किया। पानी काे पास ही गड्ढा खाेदकर एकत्र किया अाैर उसे नाले से जाेड़ दिया।

किसी मशीनरी ने नहीं सोचा कि क्या करें

किला रोड क्षेत्र के लोगों ने कहा कि जब ये सीसी सडक बन रही थी तब पीएचईडी आफिस के बाहर बने नाले में आने वाले पानी को लेकर आगे भी नाली बनाने को कहा था लेकिन उस समय एजेंसी के कार्मिक ये कहते थे कि अभी तो अकाल पड़ रहा है बारिश में इतना पानी कहां से आ जाएगा जो यहां बहेगा लेकिन बारिश में जब से प्राकृतिक झरने से पानी किला रोड पर बह रहा है वह सरकारी मशीनरीज की तकनीकी खामी और लापरवाही तो दर्शा ही रही है साथ ही जल शक्ति अभियान को भी ठेंगा दिखा रही है। इस विषय को गत दिनों जिले के दौरे पर आई राज्य विस की पर्यावरण समिति के सदस्यों ने भी अधिकारियों के ध्यान में लाया था लेकिन ध्यान नहीं दिया।

जिसने देखा उसने सराहा... नवरात्रा के प्रथम दिन रविवार को किले पर दर्शन करने के लिए जाने वाले यात्रियों व शहरवासियों ने जब स्काउट गाइड संगठन के कार्य को देखा तो उसकी प्रशंसा की आने जाने वाले यात्रियों व शहरवासियों ने कहा कि लगातार तीन माह से सड़क पर बहते रहे हजारों लीटर पानी से निजात दिलाने के लिए किसी ने इच्छा शक्ति नहीं जुटाई आज इन इन्होंने ये कर दिखा दिया इस कार्य में नगर परिषद से जेसीपी चालक राधेश्याम गुजर व सफाई कर्मचारी विष्णु लोट व वाहन सुपरवाइजर किशन सिंह का सहयोग प्राप्त हुआ। कार्य की प्रत्यक्षदर्शियों ने प्रंशसा की। रेंजर स्वातिका सुरभि विश्नोई, रोवर प्रियदर्शन सिंह चारण, दिव्यांशु कुमावत, पूरण मल केवट, लोकेश जाट ने सेवा कार्य किया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser