शौक-मौज के लिए आधी रात में लूटपाट करने लगे, नामजद तीन युवक शहर के ही

Chittorgarh News - भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़ शहर के ही तीन युवकों की गैंग अपने शौक मौज पूरे करने के लिए आधी रात में लूटपाट करने...

Oct 13, 2019, 08:06 AM IST
भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

शहर के ही तीन युवकों की गैंग अपने शौक मौज पूरे करने के लिए आधी रात में लूटपाट करने लगी है। गुरुवार रात एक एटीएम के बाहर लूट के प्रयास में युवक पर जानलेवा हमला और कुछ देर बाद हाईवे पर एक ऑटो चालक को लूटने में इनका एक साथी कनेरा का है, जो गिरफ्तार हो चुका है। उससे पूछताछ से ही तीनों नामजद हुए। कोर्ट ने इस आरोपी को दो दिन पुलिस रिमांड पर दिया है।

कोतवाली सीआई सुमेरसिंह राठौड़ ने बताया कि इन वारदातों के बाद त्वरित जांच से शुक्रवार रात निंबाहेड़ा क्षेत्र में पुलिस के हत्थे चढ़े कनेरा निवासी कपिल पुत्र रामेश्वरलाल धाकड़ को न्यायालय में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया है।

वारदातों में उपयोग ली कार कपिल की ही थी। जिसमें दो तलवारें, लूटी हुई तीन कंबलें मिली। कपिल से पूछताछ व मोबाइल लोकेशन की जांच में दोनों वारदातों में शामिल शहर के तेजाजी चौक क्षेत्र निवासी बल्लू उर्फ आबिद पुत्र मोहम्मद सिद्वीक, प्रतापनगर मोक्षधाम क्षेत्र निवासी वीरू उर्फ वीरेंद्र पुत्र केसरसिंह व पंचवटी कच्ची बस्ती निवासी राहुल खटीक को नामजद किया गया। अब तक की जांच में यह बात सामने आई कि ये मौज शौक का खर्चा उठाने के लिए बदमाश बन गए। सीआई सुमेरसिंह के अनुसार जानलेवा हमले के साथ लूट का प्रयास और लूट को लेकर चारों के खिलाफ कोतवाली व सदर थाने में दो मामले दर्ज किए गए।

ऐसे खुली परतें: पहली वारदात के बाद घेराबंदी में फसें, फिर कार और मोबाइल से मिला सुराग

सीआई सुमेरसिंह के अनुसार आधी रात में मीरानगर में वारदात का पता चलते ही एसपी अनिल कयाल के निर्देश पर शहर के तीनों थानों की पुलिस सक्रिय हो गई थी। यहां से भागे बदमाशों की लोकेशन ढूंढते हुए सुमेरसिंह व सदर सीआई विक्रमसिंह की टीमें हाईवे बाइपास पर आजोलिया का खेडा तक पहुंच गई। यहां एक होटल के पास चारों घेराबंदी में फंस गए। वे कार छोड़कर भाग गए। कार की जांच से उसके मालिक कनेरा निवासी को फोन किया तो पता चला कि उन्होंने यह कार अपने बेटे कपिल को दे रखी है। पुलिस ने पिता से ही फोन लगवाया तो कपिल ने उठा लिया। पुलिस लोकेशन ट्रैस कर उस तक पहुंच गई। इधर, बदमाश हड़बड़ाहट में कार में एक मोबाइल भी भूल गए थे। उस पर भी फोन घनघना रहे थे। इससे पुलिस की जांच और आगे बढ़ गई। मोबाइल जांच व कपिल से पूछताछ में बाकी तीनों आरोपी नामजद हो गए। इनकी तलाश की जा रही।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना