विज्ञापन

विवाहिता ने पीहर में फांसी लगाई, परिवार ने जिसे दोषी बताया उसने भी चार घंटे बाद जहर खाया...दोनों की मौत

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 05:55 AM IST

Chittorgarh News - भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़ घोसुंडा कस्बे की एक विवाहिता छात्रा और एक युवक ने शनिवार को आत्महत्या कर ली। युवती...

Sanwariyaji News - rajasthan news married hanged in pehr the family who was convicted also eaten poison after four hours both died
  • comment
भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

घोसुंडा कस्बे की एक विवाहिता छात्रा और एक युवक ने शनिवार को आत्महत्या कर ली। युवती ने सुबह करीब नौ बजे पीहर के मकान में फांसी का फंदा लगाकर जान दी। उसके छोटे भाई ने गांव के ही एक युवक को इसका दोषी मानते हुए पुलिस में रिपोर्ट दी। इसके बाद युवक ने भी गांव से 22 किलोमीटर दूर शहर के एक पार्क में आकर जहर खा लिया। कुछ घंटे उपचार के दौरान उसकी भी मौत हो गई।

चंदेरिया थानांतर्गत घोसुंडा निवासी बाबूनाथ की 20 वर्षीय पुत्री चंदा प|ी महेंद्रनाथ की शादी डेढ़ दो वर्ष पूर्व बस्सी थानांतर्गत फागणिया गांव में हुई थी। चंदा स्वयंपाठी रूप में बीए कर रही है। इसलिए वह पीहर घोसुंडा में ही रहती थी। शनिवार को चंदा के माता-पिता अल सुबह ही खेत पर चले गए। चंदा व छोटा भाई निर्भयनाथ घर पर थे। करीब छह बजे निर्भय ने चंदा के कमरे में मोबाइल चार्ज पर लगाया।तब चंदा बाहर खाना बना रही थी। वह किसी काम से बाहर चला गया। करीब 8-9 बजे के बीच वापस लौटकर मोबाइल लेने गया तो चंदा का कमरा अंदर से बंद था। जोर से चिल्लाया, लेकिन दरवाजा नहीं खुला। पहले बाहर खाना बना रही बहन चंदा भी नजर नहीं आई।

चिंता में पड़े निर्भय ने पड़ोसियों की मदद से दरवाजा तोड़ा। अंदर देखा तो होश उड़ गए। चंदा छत में लगे लोहे के कड़े में रस्सी के फंदे पर लटकी हुई थी। उसे नीचे उतारा गया, लेकिन तब तक चंदा मर चुकी थी। पुलिस को सूचना दी। शव को शहर के सांवलियाजी चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया गया। घटन को लेकर परिजन व ग्रामवासी आक्रोशित हो गए। डिप्टी ऋषिकेश मीणा, चंदेरिया थाने के एएसआई विमल कुमार, सुभाषचंद्र, निर्भयसिंह मय जाब्ता पहुंचे। जहां चंदा के छोटे भाई निर्भय ने घोसुंडा निवासी लगभग 20 वर्षीय भूपेंद्र पुत्र महेंद्र नायक पर अपनी बहन को परेशान करने का आरोप लगाया। चंदा के शव की मोर्चरी में मेडिकल बोर्ड से पीएम करवाने की कार्रवाई चल रही थी। इसी बीच दोपहर साढ़े 12 बजे भूपेंद्र के गांधीनगर सेक्टर पांच स्थित शहीद भगतसिंह पार्क में विषाक्त सेवन कर लेने की खबर आ गई। उसे भी अस्पताल लाया गया। आईसीयू में उपचार के बाद उदयपुर रैफर किया गया, लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। परिजन शव को सीधे घर ले गए। पुलिस के पहुंचने पर परिवार ने किसी तरह की कार्रवाई से इनकार कर दिया।

घोसुंडा गांव के युवक ने शहर के गांधीनगर स्थित पार्क में आकर खा ली जहरीली गोलियां, उपचार के दौरान हुई मौत

भूपेंद्र ने जहर खाने के बाद चाचा को फोन कर खुद ही सूचना दी

बताया गया कि भूपेंद्र पढ़ाई छोड़ने के बाद वेल्डिंग का काम करता था। शनिवार को किसी टोल पर नौकरी के लिए रिज्यूम देने घर से निकला था। इसी बीच जब उसे चंदा के मरने और उसके पीछे उसका नाम आने का पता चला तो वह शहर के गांधीनगर स्थित एक पार्क पहुंचा और वहां सेल्फोस की गोलियां निगल ली। तबीयत बिगड़ने पर उसी ने अपने अंकल हरीश को घोसुंडा में फोन पर सूचना दी। हरीश के फोन पर घोसुंडा निवासी नीरज शर्मा मौके पर पहुंचा। सहयोगियों की मदद से भूपेंद्र को ऑटो में डालकर सांवलियाजी चिकित्सालय लेकर आया।

दोनों के आखिरी कथन जो सामने आए

चंदा का सुसाइड नोट: भूपेंद्र का नाम नहीं, पर ससुराल नहीं जाना चाहती... चंदा ने आत्महत्या करने से पहले एक सुसाइड नोट भी लिखा। जो पुलिस ने जांच के लिए अपने पास रख लिया। उसमें लिखा कि वह अपनी मर्जी से आत्महत्या कर रही है। मम्मी-पापा या अन्य किसी का कोई दोष नहीं है। वह ससुराल नहीं जाना चाहती है। इसलिए आत्महत्या कर रही है।

भूपेंद्र ने कहा, मेरा नाम क्यों?... शहर के गांधीनगर में भगतसिंह पार्क में जहर की गोलियां खाने के बाद भूपेंद्र सांवलियाजी अस्पताल पहुंचने तक परिचितों से बातचीत करता रहा। उनसे कहा कि चंदा की मौत के मामले में उसका नाम क्यों आ रहा है। इसी डर के मारे उसने जहर खा लिया।

विवाहिता की आत्महत्या के बाद मोर्चरी के बाहर जमा ग्रामीण

भाई ने कहा : दोस्ती करने के लिए बार-बार दबाव बना रहा था... पुलिस को दी रिपोर्ट में मृतका चंदा के भाई ने बताया कि 4-5 दिन पहले उसकी बहन ने उसे बताया था कि भूपेंद्र उसे परेशान कर रहा है। दोस्ती करने के लिए बार-बार दबाव बना रहा था। ससुराल में रहते हुए भी वह उसे परेशान करता था। परिवार को मारने की धमकी देता था। इसी कारण चंदा ने आत्महत्या कर ली।

कारणों की जांच कर रहे हैं


Sanwariyaji News - rajasthan news married hanged in pehr the family who was convicted also eaten poison after four hours both died
  • comment
Sanwariyaji News - rajasthan news married hanged in pehr the family who was convicted also eaten poison after four hours both died
  • comment
X
Sanwariyaji News - rajasthan news married hanged in pehr the family who was convicted also eaten poison after four hours both died
Sanwariyaji News - rajasthan news married hanged in pehr the family who was convicted also eaten poison after four hours both died
Sanwariyaji News - rajasthan news married hanged in pehr the family who was convicted also eaten poison after four hours both died
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन