पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Begu News Rajasthan News So Far 11 Inches Rain Sprayed Manal Waterfall In The First Week Of Monsoon

अब तक 11 इंच बरसात, मानसून के पहले सप्ताह में छलका मेनाल झरना

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बेगूं। मेनाल में जल प्रपात के ऊपर चट्टानाें के बीच नैसर्गिक वैभव का लुफ्त उठाते लाेग।

भास्कर संवाददाता | चित्तौड़गढ़

राजस्थान सहित कई प्रदेशों तक इस बार मानसून की दस्तक भले कुछ देर से हुई पर चित्तौड़गढ़ में इसका आगाज सुखद है। पहले सप्ताह में ही जिले में कुल औसत बारिश 261 एमएम हो गई है। शहर में तो यह 370 एमएम है। यहां प्री-मानसून में ही 11 से 12 इंच बारिश हो चुकी थी। जुलाई और मानसून के पहले सप्ताह में ही ऐसा बहुत कम बार हुआ। जिलेभर के बांधों में भी पानी की आवक हुई है। जिले के बेगूं क्षेत्र स्थित खोकी बांध पर रविवार को चादर वल गई थी।

260.91 मिमी बारिश जिले में: पिछले साल से दोगुनी से अधिक... जिले में 8 जुलाई सुबह तक कुल बारिश 260.90 मिमी बारिश हो गई। जो कि पूरे सीजन की बरसात का 34.79 प्रतिशत है। पिछले साल इसी दिन तक बारिश का आंकड़ा 123.68 मिमी ही था।

9.2% पानी बांधों में आया, पिछले साल से यह भी 3 गुना...जल संसाधन विभाग के एईएन एसएन जीनगर के अनुसार आठ जुलाई सुबह तक जिले के छोटे बड़े 44 सिंचाई बांधों में कुल 9.2 प्रतिशत पानी आ चुका है। जबकि गत साल इसी दिन तक यह स्टोरेज 3.85 प्रतिशत ही था।

अब तक कहां कितनी बारिश

स्थान बारिश मिमी में

चित्तौड़गढ़ 370

गंगरार 217

राशमी 222

कपासन 365

बेगूं 300

निम्बाहेड़ा 255

भदेसर 261

डूंगला 195

बड़ीसादड़ी 268

भैसरोड़गढ़ 146

भूपालसागर 283

झरना चलने के साथ ही पहुंचे पिकनिक मनाने

झरना चलने के साथ ही पहुंचे पिकनिक मनाने

बेगूं | उत्तरी-पश्चिमी भारत का प्रमुख जल प्रपात है मेनाल। वर्षा ऋतु में यहां करीब 150 फीट ऊंचाई से गिरता झरना मन काे अानंदित कर देता है। बेगूं तहसील का पुरातात्विक व ऐेतिहासिक स्थल मेनाल प्रकृति का अनुपम उदाहरण है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी ने मन की बात में मेनाल के नैसर्गिक सौंदर्य की चर्चा की थी। चित्ताैड़गढ़-काेटा नेशनल हाईवे 27 पर जिला मुख्यालय से करीब 100 किमी स्थित मेनाल में इन दिनाें प्रकृति प्रेमियों का हरीतिमा के बीच पिकनिक मनाने के लिए तांता लगा है। हर काेई बारिश के भीगे मौैसम में मेनाल के मनमोहक पर्वतीय अंचल के सौंदर्य का लुत्फ उठाने काे आतुर है। काेई जल प्रपात के साथ सेल्फी लेने में ताे काेई नहाने का आनंद लेता है।

बेगूं | उत्तरी-पश्चिमी भारत का प्रमुख जल प्रपात है मेनाल। वर्षा ऋतु में यहां करीब 150 फीट ऊंचाई से गिरता झरना मन काे अानंदित कर देता है। बेगूं तहसील का पुरातात्विक व ऐेतिहासिक स्थल मेनाल प्रकृति का अनुपम उदाहरण है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी ने मन की बात में मेनाल के नैसर्गिक सौंदर्य की चर्चा की थी। चित्ताैड़गढ़-काेटा नेशनल हाईवे 27 पर जिला मुख्यालय से करीब 100 किमी स्थित मेनाल में इन दिनाें प्रकृति प्रेमियों का हरीतिमा के बीच पिकनिक मनाने के लिए तांता लगा है। हर काेई बारिश के भीगे मौैसम में मेनाल के मनमोहक पर्वतीय अंचल के सौंदर्य का लुत्फ उठाने काे आतुर है। काेई जल प्रपात के साथ सेल्फी लेने में ताे काेई नहाने का आनंद लेता है।

दो दिन पहले रीते पड़े कई बांधों में तेजी से आया पानी

शनिवार व रविवार को हुई व्यापक बारिश से जलाशयों में पानी की आवक तेजी से बढ़ी। सबसे बड़े गंभीरी बांध में तीन इंच, भावलिया बांध में आधा फीट पानी बढ़ा। खोकी बांध लबालब होने के बाद उस पर दो फीट चादर चल रही। घोसुंडा, बस्सी, बनाकिया बांधों में भी आवक हुई। दो दिन पहले खाली पड़े कालादेह में साढ़े तीन फीट, वागली में साढ़े छह फीट, आरनी में चार फीट व डिंडोली में 2.50 फीट पानी आ गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें