पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sadas News Rajasthan News Yes Bank Founder Rana Kapoor Questioned In Money Laundering Case

यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर से मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इरडा ने तैयार किया प्रस्ताव

एसबीअाई ने कहा- पुनर्गठन
का मसाैदा मिला


प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर, प|ी और तीन बेटियों के खिलाफ जांच का दायरा बढ़ा दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक छापों के बाद शनिवार को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में राणा कपूर और अन्य लोगों से पूछताछ की। यह पूछताछ गैर बैंकिंग कंपनी डीएचएफएल घोटाले को लेकर हो रही है। इसे यस बैंक द्वारा कथित तौर पर नियमों को दरकिनार कर कर्ज दिया गया था। बाद में चुकाए न जाने से कर्ज एनपीए में तब्दील हो गया। इस बीच, एसबीआई चेयरमैन रजनीश कुमार ने शनिवार को कहा, ‘आरबीआई से इस निजी बैंक के पुनर्गठन के लिए योजना का मसौदा मिला है। एसबीआई बोर्ड ने यस बैंक में 49% स्टेक लेने के लिए सहमति जताई है। पहले चरण में 2450 करोड़ का निवेश होगा। एसबीआई 3 साल पूरे होने से पहले हिस्सेदारी 26% से कम नहीं करेगा।

डीएचएफएल को कर्ज बांटने से जुड़े सवाल पूछे

यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर काे मुंबई के बलार्ड इस्टेट स्थित दफ्तर में दोपहर को बुलाया गया, जहां उनसे कई घंटों तक पूछताछ की गई। रिपोर्ट में कहा गया है कि ईडी ने डीएचएफएल समेत अन्य कारोबारियों को कर्ज बांटने में कपूर की भूमिका और उसके बाद पैसे कथित तौर पर उनकी प|ी समेत परिवार के अन्य लोगों के खातों में जमा करने से जुड़े सवाल किए। इसके अलावा जांच एजेंसी उत्तर प्रदेश विद्युत निगम से जुड़े कर्मचारियाें के पीएफ में कथित तौर पर 2267 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी समेत अन्य वित्तीय अनियमितताओं की जांच कर रही है। हाल में सीबीआई ने भी पीएफ धोखाधड़ी मामले की जांच पूरी की है।

महाराष्ट्र के तीन प्रमुख नागरिक निकायों के 1,125 करोड़ रुपए के डिपॉजिट यस बैंक में फंस गए हैं। जिनका पैसा फंसा है, उनमें पिंपरी-चिंचवड़ नगर निगम (पीसीएमसी), नासिक नगर निगम (एनएमसी) और नासिक निगम स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एनएमएससीडीसीएल)शामिल हैं। इनके क्रमशः 800 करोड़, 310 करोड़ और 15 करोड़ रुपए जमा हैं।


इकोनॉमिक एडवाइजरी काउंसिल का गठन

जयपुर | सीएम अशोक गहलोत ने इकोनॉमिक ट्रांसफोर्मेशन एडवाइजरी काउंसिल के गठन को मंजूरी दी है। सीएम गहलोत इसके अध्यक्ष होंगे। सदस्यों में लक्ष्मी निवास मित्तल, डॉ. अशोक पनगडिया, नंदिता दास जैसी शख्सियतें हैं। -पेज 2 भी पढ़ें

डिजिलॉकर पर भी मिलेंगे यूएएन, पेंशन पेमेंट ऑर्डर


नई दिल्ली | अब पेंशन पेमेंट ऑर्डर और यूनिवर्स अकाउंट नंबर को डिजिलॉकर से भी एक्सेस किया जा सकेगा। यानी ईपीएफओ सदस्य डिजिलॉकर से यूएएन और पीपीओ डाउनलोड कर सकते हैं। इससे लाखों पेंशनभोगियों और पीएफ सदस्यों को लाभ मिलेगा।

डीजल 14, पेट्रोल आठ महीने के निचले स्तर पर


नई दिल्ली | शनिवार को दिल्ली में पेट्रोल 12 पैसे घटकर 71.02 रु. और डीजल 12 पैसे सस्ता होकर 63.69 रु. लीटर हो गया है। तीन दिनों में पेट्रोल 42 पैसे और डीजल 34 पैसे प्रति लीटर सस्ता हुआ है। इससे डीजल करीब 14 महीने तथा पेट्रोल
8 महीने के निचले स्तर पर आ गया।

24 मार्च से फाइबर के मंदिर में विराजेंगे रामलला


अयोध्या | 27 साल से तंबू में रह रहे रामलला विराजमान को 24 मार्च से फाइबर संरचना वाले मंदिर में रखा जाएगा। चैत्र नवरात्र 25 मार्च से 3 अप्रैल तक रहेगी। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र के महासचिव ने बताया कि दिल्ली में फाइबर मंदिर बन रहा है।

झुंझुनूं में हांगकांग की पर्यटक से इटली के दंपती में अाया संक्रमण, स्क्रीनिंग शुरू

जयपुर | जयपुर में भर्ती इटली के दंपती के झुंझुनूं के मंडावा में हांगकांग की महिला पर्यटक से काेराेना का संक्रमण अाने की जानकारी सामने अाई है। दूतावास ने राजस्थान के चिकित्सा विभाग को जानकारी दी गई है कि मंडावा के जिस हाेटल कैसल में ये दंपती रुके थे, उसी के पास वाले रूम में हांगकांग की महिला पर्यटक भी थी। अाशंका है कि उसी के संपर्क में अाने से दाेनाें काेराेना की चपेट में अाए। हालांकि, हांगकांग की पर्यटक लौट चुकी है। हांगकांग में हुई जांच में इस महिला में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। मामले की जानकारी मिलते ही चिकित्सा विभाग ने शनिवार काे ही एक रेस्पांस टीम मंडावा भेज दी। चिकित्सा विभाग के एसीएस रोहित कुमार सिंह ने कहा कि जहां-जहां हांगकांग की महिला पर्यटक गई और रुकी, उन सभी जगहाें और लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी। उधर, एसएमएस में दो और संदिग्ध भर्ती किए गए हैं।


जेईई एडवांस्ड 17 मई काे, ईडब्ल्यूएस का काेटा 4 से बढ़ाकर 10% किया

काेटा | देश की 23 आईआईटी की 12,463 सीटों के लिए जेईई-एडवांस्ड परीक्षा 17 मई को हाेगी। आईआईटी दिल्ली की अाेर से यह परीक्षा दो पारियों में सुबह 9 से 12 एवं दाेपहर 2ः30 से शाम 5ः30 बजे तक ली जाएगी। इसके लिए इन्फॉर्मेशन बुलेटिन जारी कर दिया गया है। इसके अनुसार इस वर्ष इडब्ल्यूएस कैटिगिरी के स्टूडेंट्स का आईआईटी में रिजर्वेशन 4% से बढ़ाकर 10% किया गया है। इस वर्ष कुल शीर्ष 2.50 लाख स्टूडेंट्स जेईई एडवांस्ड परीक्षा देने के लिए जेईई मेन के आधार पर क्वालिफाई होंगे, जोकि पिछले साल से 5 हजार अधिक हैं। काउंसलिंग एक्सपर्ट अमित आहूजा ने बताया कि इस वर्ष लड़कियों को सुपरन्यूमेरेरी सीटें मिलाकर 20% सीटें आवंटित होंगी। यह परीक्षा देश के 167 एवं विदेश में 4 शहरों में होगी। प्रदेश में यह परीक्षा अजमेर, अलवर, बीकानेर, जयपुर, जोधपुर, सीकर एवं उदयपुर में होगी।

आज ओला प्रभावित जिलों में जाएंगे मंत्री

जयपुर | सीएम अशोक गहलोत के निर्देश पर ओलावृष्टि से प्रभावित जिलों के प्रभारी मंत्री रविवार काे फसलों को हुए नुकसान का जायजा लेंगे। गहलोत ने कहा है कि प्रभावित जिलों के प्रभारी मंत्री पीड़ित किसानों से मुलाकात के साथ ही कलेक्टर एवं अन्य अधिकारियों से बैठक कर नुकसान का आकलन करेंगे।


महाराष्ट्र में 3 नगर निकायों के 1125 करोड़ रुपए फंसे


यस बैंक के बाहर लोगों की जमा भीड़।

यस बैंक की शाखाओं पर लंबी कतारें, अलवर में कैश खत्म होने पर हंगामा

रिजर्व बैंक द्वारा यस बैंक के खाताधारकों पर एक महीने में 50 हजार निकालने की सीमा तय करने के बाद से यस बैंक के एटीएम पर लोगों की लंबी लाइनें दिखीं। अलवर में भगतसिंह सर्किल के पास स्थित शाखा में दिनभर में महज 60 ग्राहकों को ही पैसा मिल सका। बैंक ने करीब 30 लाख रुपए का कैश ग्राहकों को बांटा। सुबह से शाम तक लाइनों में खड़े रहने के बावजूद जब पैसा नहीं मिला तो कुछ ग्राहकों की बैंक अधिकारियों के साथ नोंकझोंक भी हुई, लेकिन पुलिस ने समझाइश कर सभी को वापस भेज दिया। यहां सुबह 9 बजे से ही ग्राहकों की लाइन लग गई। करीब 70 ग्राहकों को पैसे निकालने के लिए 120 नंबर तक टोकन दिए गए।

ज़िंदगी में खुशियों के रंगों को और पक्का करने के लिए होली का त्योहार आ गया है। एक दिन बाद हर घर, गली, चौराहा और नुक्कड़ रंगों से सराबोर दिखेगा। आप भी खूब होली खेलिए, लेकिन अबीर और गुलाल के साथ। अबीर और गुलाल रिश्तों को और करीब लाएंगे। रिश्तों को मधुर बनाएंगे, साथ ही पानी भी बचाएंगे। खुशियांें का यह रंग अमिट होगा, जो होली के बाद भी बना रहेगा।

तो आइए, हम सब मिलजुलकर होली मनाएं। ज़िंदगी खुशियाें के गुलाल से रंगें।

होली की अग्रिम शुभकामनाएं।

भास्कर परिवार

जिस कब्र में कंकाल का सिर गायब हो, वहीं 360 साल सेदफन है दारा शिकोह, एक्स-रे इमेज तकनीक से लगाएंगे पता

अशोक गहलोत

मुख्यमंत्री, राजस्थान

काराें पर 162, दाेपहिया पर 248 रु. बढ़ेंगे

कार अभी प्रस्तावित

1000 सीसी तक 2070 2182

1000 सीसी से 1500 सीसी 3221 3383

1500 सीसी से ऊपर 7890 7890

दोपहिया

75 सीसी तक 482 506

75सीसी से 150सीसी 752 769

150सीसी से 350 सीसी 1193 1301

350 सीसी से ऊपर 2323 2571

नई दिल्ली | अप्रैल से कारों और दोपहिया वाहनों का थर्ड पार्टी बीमा महंगा हो सकता है। बीमा विनियामक संस्था (इरडा) ने थर्ड पार्टी प्रीमियम 12% तक बढ़ाने का प्रस्ताव पेश किया है। जिसके लागू हाेने के बाद यह बढ़ाेतरी एक अप्रैल से सकती है। बता दें कि इरडा 2011 से ही हर साल थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के प्रीमियम में बदलाव करता रहा है।

कार-बाइक का थर्ड पार्टी बीमा 12% महंगा होगा

फाल्गुन, शुक्ल पक्ष-14, 2076

देश में काेराेना के 33 रोगी हुए; पीएम बाेले- अफवाहाें से बचें

नई दिल्ली | इटली से अमृतसर लाैटे पंजाब के दाे लाेगाें में काेराेनावायरस पाॅजिटिव मिला। देश में काेराेना पीड़ित 33 हाे गए हैं। पीएम माेदी ने अफवाहाें से दूर रहने और सिर्फ डाॅक्टराें की सलाह मानने का आग्रह किया। कुवैत ने भारत सहित 7 देशाें के लिए उड़ानें रद्द कीं। चीन में पहली बार नए केस 100 से कम रहे। शनिवार काे यहां 99 नए मरीज सामने अाए। सिलिकाॅन वैली बंद हाेने जैसे हालात। एपल, फेसबुक, ट्विटर सहित कई कंपनियाें ने घर से काम करने काे कहा।

आइए, ज़िंदगी को

दें खुशी का गुलाल

वकीलों को गंभीर बीमारी के लिए अब 3 लाख रु.

कुल पृष्ठ 28 (रसरंग आज) | मूल्य ~ 5.00 | वर्ष 10, अंक 40, महानगर

}सरकार सामने लाना चाहती है दारा की विरासत, सबसे बड़ा सवाल- कैसे हो कब्र की पहचान

कोरोना }दूतावास ने दी जानकारी, चिकित्सा विभाग ने टीम भेजी

आप पढ़ रहे हैं देश का सबसे विश्वसनीय और नंबर 1 अखबार

(कोऑर्डिनेशन : भोपाल से हरेकृष्ण दुबोलिया)



भाई औरंगजेब ने दारा का सिर काटकर आगरा के
किले में लटका दिया था


गीता और 52 उपनिषदों का पहली बार संस्कृत से फारसी में अनुवाद कर पूरी दुनिया को भारतीय सनातन संस्कृति से रूबरू कराने वाले दारा शिकोह की कब्र कहां है, ये उनकी मौत के 360 साल बाद भी रहस्य ही है। इस सवाल का जवाब ढूंढ़ने के लिए विशेषज्ञ कमेटी बनी है।

कब्र का पता लगाकर करेंगे संरक्षण

दारा शिकोह की कब्र कौन सी है, इस बारे में अभी कुछ भी जानकारी नहीं है। इसकी खोज के लिए विशेषज्ञों की कमेटी गठित की गई है। कमेटी ही बताएगी कि किस तरह दारा शिकोह ही कब्र का पता लगाकर उसका संरक्षण किया जा सकता है।
टीजे अलोन, िनदेशक (स्मारक),
भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण


केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय ने बनाई है कमेटी केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय ने दारा शिकोह की कब्र की पहचान के लिए टीजे अलोन की अध्यक्षता में विशेषज्ञों की 7 सदस्यीय कमेटी बनाई है। केके मुहम्मद के अलावा इसमें एएसआई के पूर्व महानिदेशक आरएस बिष्ट, बीआर मणि, केएन दीक्षित, बीएम पांडेय, अश्विनी अग्रवाल, सैय्यद जमाल हसन भी शामिल हैं।

शाहजहां के बाद दारा शिकोह दिल्ली की गद्दी के उत्तराधिकारी थे। दारा पर कट्‌टरपंथियों ने बुतपरस्त (मूर्तिपूजक) होने का आरोप लगाया। इसका फायदा उठाकर औरंगजेब ने विद्रोह किया व खुद बादशाह बन गया। 30 अगस्त, 1659 को दिल्ली में दारा शिकोह को मौत की सजा दी गई। दारा का सिर काटकर आगरा ले जाया गया और धड़ को दिल्ली में हुमायूं के मकबरे के परिसर में दफनाया गया था।

दा रा शिकोह की मौत के 360 साल बाद अब इस मध्यकालीन विद्वान शासक को सम्मान दिलाने की केंद्र सरकार की कोशिश चर्चा में है। निश्चित ही भारत में दारा शिकोह का भव्य स्मारक होना चाहिए। कहां हो, कैसा हो और किस रूप में हो यह सरकार ही तय करेगी। जहां तक उनकी कब्र की तलाश का सवाल है, तो सरकार और एएसआई (भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण) हैंड हेल्ड एक्सरे डिवाइस की मदद से दिल्ली में हुमायूं के मकबरे के पीछे स्थित कब्रों की एक्स-रे इमेज ले सकते हैं। साथ ही ग्राउंड पेनिट्रेशन रडार सर्वे भी करा सकते हैं। एेेतिहासिक प्रमाणों के मुताबिक मुगलकाल में दारा के अलावा ऐसा कोई उदाहरण नहीं मिलता, जिसमें किसी मुगल शहजादे का सिर कलम कर सिर्फ धड़ दफनाया गया हो। एक्स-रे इमेज में जिस कब्र में बिना सिर वाला कंकाल नजर आए उसे ही दारा की कब्र मान लेना चाहिए।

केके मुहम्मद, पूर्व रीजनल डायरेक्टर, एएसआई

एक्सपर्ट रिपोर्ट

राजनीति के बदलते स्वरूप पर भास्कर की विशेष
सीरीज ‘सियासत के सिपहसालार\\\' में पढ़िए मुख्यमंत्री
अशाेक गहलोत का विशेष लेख-

राजस्थान आितथ्य, वीरता और विरासत की धरती है। आतिथ्य के मामले में हमारे दिल और दरवाजे सबके लिए खुले हैं, वीरता हमारी परंपरा है, विरासत हमारी शान। आतिथ्य की परंपरा के रहते पूरी दुनिया से मेहमान हमारी धरती को देखने आते हैं।

पिछले दिनों इटली से आए हमारे कुछ मेहमान राज्य में कोरोना वायरस की खौफनाक दस्तक भी साथ ले आए। दुनिया के कई देशों में भय फैला चुका यह जानलेवा वायरस भले ही हमारे यहां कदम रख चुका है लेकिन हमें डरने या घबराने की कतई जरूरत नहीं है। मुकाबला करके जीतना राजस्थान की पहचान है। हमारा जुझारूपन ही हमें पूरी दुनिया से अलग बनाता है। इसीलिए तो कोरोना वायरस के संदिग्ध दो रोगियों का पता चलते ही हमारा पूरा सिस्टम हरकत में आ गया और स्थिति पर नियंत्रण पा लिया गया। मैं खुद इसकी मॉनिटरिंग कर रहा हूं। आपके मुख्यमंत्री के नाते मैं आपको यकीन दिलाना चाहता हूं कि कोरोना को राजस्थान में जड़ से खत्म करने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। मेरी एक अपील भी है। प्रदेश के हर नागरिक से। कृपया अफवाहों से बचें। कोरोना वायरस से ज्यादा घातक इसके बारे में चल रही अनाप-शनाप अफवाहें हैं जो हमें अपना काम सही तरीके से करने से रोक रही हैं। स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह सजग है। जी-जान से अपने काम में जुटा हुआ है। समय-समय पर एडवाइजरी, सही जानकारियां, बचाव व इलाज के तरीके आप तक पहुंचाए जा रहे हैं।

कोरोना बीमारी को लेकर आज दुनिया भर में खौफ का माहौल बना हुआ है। हर कोई इस बीमारी के दस्तक देने से पहले ही सहमा हुआ हैं, लेकिन लोगों को डराने नहीं जागरूक करने की जरूरत है। फिलहाल इस बीमारी से बचने के लिए बचाव ही सबसे बेहतर उपाय है। इटली से राजस्थान घूमने आए दो पर्यटकों में यह बीमारी पाई गई, लेकिन राज्य सरकार ने मरीजों को तुरंत स्क्रीनिंग करके बीमारी फैलने से बचा लिया। यहीं हमारी जागरूकता है। ऐसी ही जागरूकता आम लोगों के भीतर भी होनी चाहिए। राजस्थान की ऐसी धरती है, जहां लड़ने की क्षमता है। दुश्मन को हराने की शक्ति है। इस बार भी कोरोना को राजस्थान के लोग अपनी जागरूकता से हराएंगे। यह मेरा अटूट विश्वास है।

मुख्यमंत्री बनने के बाद से यह मेरा प्रयास रहा है कि प्रदेश के लोग स्वस्थ रहे। इस बार के बजट में निरोगी राजस्थान अभियान शुरू करने का ऐलान किया गया है। इस अभियान से प्रदेश के हर नागरिक को जुड़ने की अपील करता हूं। इसीलिए निरोगी राजस्थान के तहत चिकित्सा अधिकारियों के 2 हजार नए पदों पर भर्ती की जाएगी। यही नहीं राज्य की आर्थिक सेहत ठीक करने के लिए रिप्स, एमएसएमई एक्ट, सोलर एंव विंड हाइब्रिड पॉलिसी और नई औद्योगिक नीति लाए हैं। इतनी बड़ी व व्यापक पॉलिसी लाने वाला राजस्थान देश का पहला राज्य है। आर्थिक तरक्की के साथ-साथ हमारा सामाजिक ताना-बाना भी मजबूत होना चाहिए। युवाओं के लिए इन्क्यूबेशन सेंटर की स्थापना कर रहे हैं, जिससे युवाओं को लाभ मिलेगा।

कोरोना को भी हराएंगे...मुकाबला करके जीतना राजस्थान की पहचान



12 राज्य | 65 संस्करण

भीलवाड़ा, रविवार, 8 मार्च, 2020

जयपुर | विधानसभा में शनिवार को अधिवक्ता कल्याण निधि संशोधन विधेयक पारित हो गया। विधेयक में अधिवक्ताअाें काे सामान्य बीमारी के लिए मिलने वाली राशि को 40 हजार रु. से बढ़ाकर 1 लाख, गंभीर बीमारी के लिए 1 लाख से बढ़ाकर 3 लाख रु. किया गया है। किसी अधिवक्ता की मृत्यु होने पर परिजनों को मिलने वाली आर्थिक सहायता राशि को ढाई लाख रु. से बढ़ाकर 8 लाख रु. किया गया है। इसके अलावा स्लैब वाइज पेंशन का प्रावधान किया गया है। इसमें 40 साल तक प्रेक्टिस करने के बाद सेवानिवृत्त हुए अधिवक्ता को 15 लाख रु. तक पेंशन दिए जाने का प्रावधान किया गया है। अधिवक्ताओं की आजीवन सदस्यता फीस को 17500 रुपए से बढ़ाकर 1 लाख रुपए कर दिया गया है। उधर, भाजपा ने बिल की प्रस्तावना और खंड में आर्थिक सहायता के अलग-अलग आंकड़े बताने का विरोध कर सदन से वाकआउट किया। उधर, बार काउंसिल के मैंबर भुवनेश शर्मा ने सदस्यता राशि बढ़ाए जाने का विराेध करते हुए इसे कुठाराघात बताया।


कल्याण निधि संशोधन विधेयक पारित
खबरें और भी हैं...