• Hindi News
  • Rajasthan
  • Chomu
  • चौमू में सब्जियों के बढ़े डेढ़ गुना भाव, रसोई का बजट गड़बड़ाया
--Advertisement--

चौमू में सब्जियों के बढ़े डेढ़ गुना भाव, रसोई का बजट गड़बड़ाया

Chomu News - बरसात का मौसम शुरू होने के बाद सब्जियों की पैदावार व आवक कम होने से धीरे -धीरे सब्जियों के भाव आसमान छूने लगे है।...

Dainik Bhaskar

Aug 09, 2018, 03:00 AM IST
चौमू में सब्जियों के बढ़े डेढ़ गुना भाव, रसोई का बजट गड़बड़ाया
बरसात का मौसम शुरू होने के बाद सब्जियों की पैदावार व आवक कम होने से धीरे -धीरे सब्जियों के भाव आसमान छूने लगे है। इससे रसोई का बजट गड़बड़ा गया है। सब्जियों के भाव डेढ़ गुना से अधिक बढ़े हुए है। हरी मिर्च जहां तेवर दिखा रही है, वहीं भिंडी भी टेड़ी चल रही है। इस बार आलू भी खुदरा में 20 रु प्रति किलोग्राम तक पहुंच गया है। जबकि एक माह पहले 10 से 15 रुपए के बीच ही चल रहा था।

सब्जियों का जायका बढ़ाने वाली तथा सलाद व रायते के काम आने वाली शिमला मिर्च भी इस बार खुदारा में 50 रुपए प्रति किलोग्राम तक पहुंच रही है। करेले ने भी भावों की दृष्टि से अपनी कड़वाहट बढ़ा दी है। पिछले माह खुदरा में जो करेला 20 रुपए किलो चल रहा था, वह अब 30 रुपए किलोग्राम से अधिक पहुंच गया है। पिछले दिनों जिस टमाटर के भाव नहीं लगने से सड़कों पर फेंका जा रहा था, वह भी 30 रुपए प्रति किलोग्राम के भाव से खुदरा में बिक रहा है।

बच्चों के टिफिन में भी बदलाव

शहर के रेलवे स्टेशन रोड रामनगर निवासी गृहिणी सरोज शर्मा ने बताया कि सब्जियों के भाव बढ़ जाने के कारण अब बच्चों के टिफिन में भी गिनी चुनी सब्जियां ही भिजवा पा रहे है। इंद्रा कॉलोनी के गणेश विहार निवासी गृहिणी नेहा तिवाड़ी ने बताया कि सब्जियां पंसद करने से पहले अब उनके भाव दुकानदार से पूछने पड़ रहे है। यदि भाव अधिक होता है, तो उस सब्जी को छोड़ना पड़ रहा है। इसके अलावा परिजनों के पसंद की सब्जी भी भावों के बढ़े होने के कारण कम बना पा रहे है। रींगस रोड आमलिया निवासी गायत्री देवी ने बताया कि सब्जियां महंगी होने से अब रसोई का बजट गड़बड़ाने लगा है।

गर्मी के मौसम में किसान नहीं लगाते है पौध

कृषि पर्यवेक्षक उद्यान सुभाष चंद सैनी ने बताया कि गर्मी के मौसम में किसान सब्जियों की पौध नहीं लगा पाते है। इस कारण सब्जियों का उत्पादन एक निश्चित हेक्टेअर में ही हो रहा है। इसके अलावा बरसात के दिनों में उत्पादन भी कम होता है। इससे आवक कम होने से भाव बढ़े हुए है।

सब्जी व्यापारी की दुकान पर रखी सब्जियां

खुदरा में सब्जियों के भाव

सब्जी एक माह पहले अब

आलू् 15 20 रु

हरी मिर्च 15 20

शिमला मिर्च 30 50

पालक 10 35

लाैकी 15 20

भिंडी 25 40

खीरा 20 30

बैंगन 15 25

ग्वार फली 20 30

करेला 20 30

तुरई 25 35

परवल 12 15

टिंडा 20 30

अरबी 25 32

कैरुंदा 20 28

गोभी 30 40

X
चौमू में सब्जियों के बढ़े डेढ़ गुना भाव, रसोई का बजट गड़बड़ाया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..