Hindi News »Rajasthan »Chomu» दूदू जलदाय विभाग के बाबू का कार्मिक से पैर दबवाते वीडियो वायरल, सफाई- पेट दर्द हो रहा था जूनियर चपरासी ने मदद की

दूदू जलदाय विभाग के बाबू का कार्मिक से पैर दबवाते वीडियो वायरल, सफाई- पेट दर्द हो रहा था जूनियर चपरासी ने मदद की

मौजमाबाद. दूदू जलदाय विभाग के कार्मिक के वायरल वीडियो में पैर दबवाता बाबू । मौजमाबाद. दूदू उपखण्ड के जलदाय विभाग...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 13, 2018, 03:05 AM IST

दूदू जलदाय विभाग के बाबू का कार्मिक से पैर दबवाते वीडियो वायरल, सफाई- पेट दर्द हो रहा था जूनियर चपरासी ने मदद की
मौजमाबाद. दूदू जलदाय विभाग के कार्मिक के वायरल वीडियो में पैर दबवाता बाबू ।

मौजमाबाद. दूदू उपखण्ड के जलदाय विभाग के कार्मिक का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। वायरल वीडियो में जलदाय विभाग दूदू में कार्यरत बाबू रामअवतार सनाढ्य अपने जूनियर कर्मचारी से बेंच पर लेटे-लेट पैर दबवा रहा है। हालांकि वायरल वीडियो को लेकर कोई भी अधिकारी बोलने से कतरा रहा है। जलदाय विभाग मामले को दबाने में लगा हुआ है। बाबू रामअतार सनाढ्य ने बताया कि वायरल वीडियो मेरे को किसी ने ब्लैकमेल करने के उद्देश्य से बनाया है। उस दिन मेरा पेट दर्द ओर तबीयत खराब थी। इसलिए चपरासी चेनसिंह मेरी मदद कर रहा था जो एक मानवीय धर्म है। उधर, सहायक अभिंयता रूपचन्द वर्मा का कहना है कि वायरल वीडिओ में बाबू द्वारा पैर दबवाने की बात सही है लेकिन बाबू को असहाय दर्द में जूनियर द्वारा मदद करना मानवीय धर्म होता है। वीडियो किस ने बनाया मेरे को जानकारी नहीं है।

जलदाय विभाग के जेईएन बहाना बना रहे थे या सच कुछ और?

अंग्रेजी में लिखी शिकायत को नहीं पढ़ पा रहे थे

चौमू | शहर के जलदाय विभाग में कार्यरत कनिष्ठ अभियंता का सोशल मीडिया पर एक वीडियाे वायरल हो रहा है। इसमें कनिष्ठ अभियंता अंग्रेजी भाषा में लिखी समस्या को पढ़ पाने में असमर्थ दिखाई दे रहे है। वीडियो में दिखाई दे रही बात कनिष्ठ अभियंता द्वारा काम नहीं करने की मंशा से बहाना बनाना था या फिर सच में ही कनिष्ठ अभियंता घनश्याम मीणा की अंग्रेजी भाषा कमजोर है, लेकिन यह बात कनिष्ठ अभियंता की काबलियत पर एक सवाल खड़ा कर रही है। हालांकि कनिष्ठ अभियंता घनश्याम मीणा से इस संबंध में बात की गई, तो उन्होंने बताया कि जो अंग्रेजी भाषा में लिखकर समस्या लेकर आए व्यक्ति की हैंड राइटिंग इतनी खराब थी कि कुछ समझ में नहीं आ रहा था। इसलिए उन्होंने ऐसी बात कही है। हालांकि वीडियाे पुराना है और परिवादी अपने कनेक्शन करने के लिए जलदाय विभाग में जमा नहीं करवाना चाहता है। इसलिए उसने ऐसा किया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Chomu

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×