• Hindi News
  • Rajasthan
  • Churu
  • Churu News rajasthan news churu roadways depot is the only one in the state from where not a single ticket was cut in eight years passengers do not come to the depot premises

चूरू रोडवेज डिपो प्रदेश में एकमात्र जहां से आठ साल में नहीं कटा एक भी टिकट, यात्री नहीं आते डिपो परिसर में

Churu News - करीब 23 साल पुराने चूरू के केंद्रीय रोडवेज डिपो में पिछले 17 साल यात्रियों का आवागमन नहीं के बराबर रहा है। कभी-कभी तो...

Jan 24, 2020, 07:55 AM IST
Churu News - rajasthan news churu roadways depot is the only one in the state from where not a single ticket was cut in eight years passengers do not come to the depot premises
करीब 23 साल पुराने चूरू के केंद्रीय रोडवेज डिपो में पिछले 17 साल यात्रियों का आवागमन नहीं के बराबर रहा है। कभी-कभी तो यहां सन्नाटा सा पसरा नजर आता था। यात्रियों के नहीं आने से रोडवेज ने डिपो में बनाए गए टिकट विंडो को बंद कर दिया। करीब 8 साल से डिपो की विंडो से टिकट नहीं बनाई गई। डिपो में यात्रियों को लाने के लिए एक-दो बार प्रयास हुए, लेकिन वे नाकाफी साबित हुए। इसका कारण शहर में अस्थायी बस स्टैंड बन जाना व प्राइवेट और लोक परिवहन की बसों का उन अस्थायी स्टैंड से संचालन होना है।

ऐसा नहीं है कि चूरू डिपो शहर से बाहर है। डिपो के एक ओर पुलिस लाइन, दूसरी ओर सैनिक बस्ती है। सामने से रोड गुजरती है। सैनिक विश्राम गृह से डिपो मात्र 200 मीटर दूर है। सैनिक विश्रामगृह के आगे कलेक्ट्रेट-पंखा रोड गुजरती है, जहां से रतनगढ़, सरदारशहर, तारानगर को बसें जाती हैं। प्रदेश के 52 डिपो में चूरू ही एकमात्र ऐसा डिपो है, जहां शहर के अंदर होते हुए भी यात्री नहीं आते। रोडवेज मुख्यालय पीआरओ सुधीर भाटी का कहना है कि कुछ डिपो में यात्री नहीं पहुंचते, लेकिन उन बस डिपो को मेंटेन कर रखा है, ताकि यात्रियों को बसों में जाने के लिए कोई असुविधा नहीं हो।

शहर में बस के ठहराव के अलग-अलग अस्थायी स्टैंड बनने से हुई यह समस्या, अब इन्हीं स्टैंड से बस पकड़ते हैं यात्री

भास्कर

विशेष

हर शुक्रवार बड़ी खबर

ऐतिहासिक सफलता के 23 वर्ष

01 अप्रैल 1997 से चूरू डिपो संचालित।

69 बसों का वर्तमान में संचालन।

77 फीसदी यात्री भार सीकर जोन में प्रतिदिन।

17 से 18 हजार यात्रियों का प्रतिदिन आवागमन।

07 से 08 लाख रुपए प्रतिदिन आय।

अस्थायी स्टैंड बनने से वहां रोज जाम की स्थिति, प्रबंधक बोले-प्रशासन पहल करे तो आवागमन शुरू हो सकता है

चूरू से अलग-अलग दिशा में जाने वाली बसों के लिए अलग-अलग अस्थायी स्टैंड बन गए हैं। फिलहाल चूरू से जयपुर जाने वाले यात्री कलेक्ट्रेट के आगे, चूरू से झुंंझुनूं-दिल्ली व राजगढ़ जाने वाले यात्री धर्मस्तूप के पास से, चूरू से रतनगढ़-सरदारशहर, श्रीगंगानगर जाने वाले यात्री पंखा सर्किल व डिपो से 200 मीटर सैनिक विश्राम गृह के पास से बस पकड़ते हैं। तारानगर, भादरा व हनुमानगढ़ जाने वाले यात्री भी यहीं से बस पकड़ते हैं। इन अस्थायी बस स्टैंड पर बसों का आवागमन बढ़ने से जाम रहता है। एक-दो बार प्रशासन ने सख्त निर्णय लिया, बाद में वैसी ही स्थिति हो गई। जिला यातायात समिति की बैठक में निर्णय भी लिए जाते हैं, लेकिन क्रियान्विति नहीं होती। डीटीओ सोहनलाल का कहना है कि ये वास्तव बड़ी समस्या है, इसका समाधान भी प्रशासन, रोडवेज, परिवहन व ट्रैफिक पुलिस को मिलकर करना होगा। जल्द ठोस निर्णय के लिए माहौल बनाएंगे। पूर्व डिपो प्रबंधक आरके दईया का कहना है कि स्थापना से 2004 तक यात्रियों के लिए बसें यहीं से निकलती थी। यात्री भी डिपो में आते थे। हालांकि यात्रियों की संख्या कम ही थी और बाद में स्थिति बदल गई। चूरू डिपो के पूर्व डिपो प्रबंधक व रिटायर्ड जोनल मैनेजर एनएस कालिया का कहना है कि यात्रियों को डिपो से बाहर बसों के मिलने की सुविधा थी, ऐसे में डिपो में यात्रियों का आना कम हो गया।


2003 में एमडी ने कहा था- ये अजीब डिपो है जो राजस्व में प्रदेश में टॉप है, लेकिन यहां यात्री एक भी नजर नहीं आता

रिटायर्ड मुख्य डिपो प्रबंधक मदनसिंह राठौड़ ने बताया कि मैं 1997 से 2012 तक डिपो में वित्त प्रबंधक व 2014 से 2015 तक डिपो प्रबंधक रहा। 2003 में निरीक्षण करने के लिए आए तत्कालीन निगम एमडी मनजीतसिंह खाली (सूनसान) डिपो को देखकर कहने लगे कि ये अजीब डिपो है, जो राजस्व में प्रदेश में टॉप है, लेकिन यहां यात्री एक भी नजर नहीं आता। बस भी खड़ी नहीं होती है। तब से लेकर अब तक इस डिपो की यही स्थिति बनी हुई।

मदनसिंह राठाैड़

2018 में बसों के ठहराव स्टैंड तय किए तो हुआ झगड़ा

पूर्व चूरू व वर्तमान सरदारशहर डिपो प्रबंधक परमेश्वरलाल सैनी के कार्यकाल में जनवरी 2018 में प्राइवेट बसों का पुराने बस स्टैंड, लोक परिवहन की बसों का नए बस स्टैंड के पास (पुराने बस स्टैंड के लिए आबंटित जगह) व रोडवेज बसों का संचालन डिपो का करने का निर्णय हुआ। दो माह ठीक चलता रहा। इसी दौरान सवारियों को बैठाने को लेकर लोक परिवहन व रोडवेज के कार्मिकों के बीच झगड़ा हुआ। कोतवाली में मामला दर्ज हुआ। उसके बाद प्रशासन निष्क्रिय होते ही ये बसें वापस अस्थायी स्टैंड से संचालित होनी लगी।

इस तरह सन्नाटा पसरा रहता है रोडवेज डिपो में।

Churu News - rajasthan news churu roadways depot is the only one in the state from where not a single ticket was cut in eight years passengers do not come to the depot premises
X
Churu News - rajasthan news churu roadways depot is the only one in the state from where not a single ticket was cut in eight years passengers do not come to the depot premises
Churu News - rajasthan news churu roadways depot is the only one in the state from where not a single ticket was cut in eight years passengers do not come to the depot premises
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना