पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sardarshar News Rajasthan News Demand Of Churu Withdrawing The Case Filed On Asha Sahyoginis Memorandum Given

चूरू की आशा सहयोगिनियों पर दर्ज किए मुकदमे वापस लेने की मांग, ज्ञापन दिया

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
उदासर. सरदारशहर में धरनास्थल पर विरोध जताती आशा सहयोगिनी। इसके बाद एसडीएम को ज्ञापन दिया।

मानदेय बढ़ाने व नियमित करने की मांग को लेकर आशाओं का धरना जारी

भास्कर न्यूज | सरदारशहर

राजस्थान आशा-सहयोगिनी संगठन की ओर से मानदेय बढ़ाने व राज्य कर्मचारी का दर्जा दिए जाने की मांग को लेकर किया जा रहा आंदोलन व धरना बुधवार को जारी रहा। धरने पर बैठी आशा सहयोगिनियों ने बुधवार को जिला मुख्यालय चूरू में प्रदर्शन कर रही आशा सहयोगिनियों पर पुलिस की ओर से दर्ज किए गए मामले का विरोध जताया। कलेक्टर के नाम एसडीएम को ज्ञापन देकर पुलिस द्वारा दर्ज किए गए मामले वापस लेने की मांग की।

ज्ञापन में बताया गया है कि चूरू में आंदोलन को दबाने के लिए पुलिस की ओर से आशा सहयोगिनियों पर झूठे मामले दर्ज करवाए जा रहे हैं, जो गलत है। इस दौरान ब्लाॅक अध्यक्ष शिवानी शर्मा, मैना देवी फोगा, रामकृष्ण छींपा, बिमला भंवरिया, गीता देवी, सरोज, सावित्री धेतरवाल, प्रेम देवी गिड़िगचिया, रोशनी, विनोद बैदा काकलासर, माया, द्रोपती, मंजू, जमकौरी, उमा, तारामणी, ममता, गोमती देवी आदि उपस्थित थी।

रतनगढ़ | आशा सहयोगिनियों ने मानदेय बढ़ाने के लिए उपखंड कार्यालय पर प्रदर्शन करते हुए एसडीएम अर्पिता सोनी को ज्ञापन दिया। राजलदेसर सेक्टर की आशा सहयोगिनियों ने उपखंड कार्यालय पर प्रदर्शन करते हुए राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। सहयोगिनियों ने ज्ञापन में लिखा है कि 24 घंटे सेवा देने के बाद भी उन्हें सिर्फ ढाई हजार रुपए मानदेय के रूप में दिए जाते हैं। आशा सहयोगिनियों को 300 रुपए प्रतिदिन का मानदेय दिया जाना चाहिए और साथ ही उन्हें स्थाई कर्मचारी का दर्जा भी दिया जाए। ज्ञापन पर सुमित्रा, सीमा कंवर, अन्नू कंवर, कौशल्या, अमिता कंवर, अमरीदेवी, भंवरी कंवर, प्रेमदेवी, शांति, भगवती, द्रोपती, अनिता, सरला, बिमला सहित कई आशा सहयोगिनियों के हस्ताक्षर हैं।

रतनगढ़. उपखंड कार्यालय में विरोध-प्रदर्शन करती आशा सहयोगिनी।

खबरें और भी हैं...