--Advertisement--

6 लाख 72 हजार बीघा में से 51 हजार बीघा में ही हुई बुवाई

तहसील क्षेत्र में चना, गेहूं व सरसों की बिजाई इस बार पिछले साल के अनुपात में कम होने पर किसानों की चिंता बढ़नी शुरू...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 09:25 AM IST
Taranagar - sowing of 51 thousand bigha of 6 lakh 72 thousand bighas
तहसील क्षेत्र में चना, गेहूं व सरसों की बिजाई इस बार पिछले साल के अनुपात में कम होने पर किसानों की चिंता बढ़नी शुरू हो गई है। अभी तक बारिश नहीं होना किसानों के लिए मुश्किल है।

तहसील के नहरी इलाके में ही अब तक किसानों की सिंचित बुअाई हुई है। इसके अलावा अधिकतर खेत खाली पड़े हैं, क्योंकि चना, सरसों की बुअाई का समय पूरा हो चुका है। मात्र पांच-दस दिन में गेहूं बुअाई हो सकती है। राजस्व आंकड़ों के अनुसार तहसीलभर में 6 लाख 72 हजार बीघा काश्त जमीन है, जिसमें से 36 हजार बीघा भूमि का सिंचित क्षेत्र है। जहां पर लोगों ने नहरी खेती कर रखी है।

पिछले साल के अनुपात में असिंचित बुअाई कम हुई है। पिछले साल 15 हजार बीघा में बुअाई हुई थी, जबकि इस साल दस हजार बीघा भूमि पर ही किसानों ने काश्त की है। बारिश के अभाव के चलते तहसील की लाखों बीघा भूमि इस बार बिना बुवाई के रहने से किसान परेशान हैं। किसानों को इस साल दोहरी मार झेलनी पड़ेगी।

किसान क्रेडिट कार्ड के चलते उनको बैंकों से लिए गए ऋण का ब्याज व प्रीमियम भी देना होगा। तहसील कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार इस बार किसानों ने पिछले साल के अनुमान से बुअाई कम की है। असिंचित क्षेत्र में 15 हजार बीघा में बुवाई हुई है, जबकि 36 हजार बीघा अनुमानित क्षेत्र में सिंचित काश्त हुई है। हालांकि नहरी क्षेत्र में मूंगफली की खेती की पैदावार इस बार अच्छी हुई है। पिछले वर्ष से ज्यादा बुअाई हुई है। इस बार 18 हजार 3 हैक्टेयर भूमि में किसानों ने मूंगफली की खेती की है, जिसमें उन्हें 60 हजार 440 किलो अनुमानित मूंगफली का उत्पादन हुआ है। पिछले वर्ष की तुलना में दो हजार हैक्टेयर ज्यादा मूंगफली की खेती हुई है।

कमजोर फसल के चलते चारे के भावों में तेजी

इस वर्ष कमजोर फसल के चलते लोगों को पशु चारे के बढ़ते दामों के चलते दोहरी मार झेलनी पड़ सकती है। अनुमानित बुअाई से कम बुवाई होने के कारण फसल कमजोर, बारिश की कमी, कम उत्पादन के कारण पशुधन रखने वाले किसानों को महंगे भावों का चारा खरीदना पड़ रहा है। मूंगफली का चारा 700 रुपए क्विंटल, ग्वार का 500 रुपए, पराली 450 रुपए प्रति क्विंटल खरीदनी पड़ रही है। पिछले साल मूंगफली का चारा लगभग ढाई सौ रुपए, ग्वार का डेढ़ सौ रुपए था।

X
Taranagar - sowing of 51 thousand bigha of 6 lakh 72 thousand bighas
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..