पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Dausa News Rajasthan News Central School Of Dausa In Rented Building For 6 Years

दौसा का केंद्रीय विद्यालय 6 साल से किराए की बिल्डिंग में

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जिला मुख्यालय पर संचालित केंद्रीय विद्यालय काे खुद की बिल्डिंग बनने का इंतजार है। भवन रहित केंद्रीय विद्यालय के छात्र-छात्राएं 6 साल से उधारी की बिल्डिंग में पढ़ने काे मजबूर हैं। केंद्रीय विद्यालय की बिल्डिंग बनाने के लिए महेश्वरा खुर्द में 15 एकड़ जमीन अावंटित हुए करीब 5 साल हाे गए। उस जमीन के ऊपर से बिजली की हाईवाेल्टेज लाइन गुजर रही थी, उसे शिफ्ट कराए भी करीब 4 साल हाे गए। इसके बावजूद बिल्डिंग बनाने के प्रति केंद्रीय विद्यालय संगठन गंभीर नहीं है। अगले साल से 11 वीं क्लास भी शुरू हाेगी, तब कक्षा-कक्ष के साथ-साथ लैब के लिए भी कई अाैर कमराें की जरुरत पड़ेगी ताे परेशानी बढ़ेगी।

दाैसा में केंद्रीय विद्यालय का पदार्पण अगस्त 2015 में हुअा था। तब रामकरण जाेशी राउमावि में तत्कालीन मानव संसाधन राज्य मंत्री कथूरिया की अगुवाई में उद्घाटन हुअा था, तभी से केंद्रीय विद्यालय रामकरण जाेशी राउमावि में संचालित है।

आरंभ कक्षा 1 से 5 तक हुअा था, जाे अब बढ़ कर कक्षा 9 तक पहुंच गया है। अभी 9वीं क्लास तक 364 छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैं, जिनके लिए कक्षा-कक्षाें की उपलब्धता काम चलाऊ है। उधारी की बिल्डिंग के कारण छात्र-छात्राअाें काे खेलकूद के लिए ग्राउंड की कमी से जूझना पड़ रहा है। वहीं स्टाफ के लिए भी विद्यालय प्रागंण में क्वार्टर की सुविधा नहीं है, इससे स्टाफ काे शहर में किराए में रहना पड़ता है।

क्लास बढ़ने से कक्षा-कक्ष की परेशानी भी बढ़ेगी

केंद्रीय विद्यालय में नए सत्र 2020-21 से 10 वीं क्लास भी शुरू हाे जाएगी अाैर अगले साल से 11वीं क्लास भी शुरू हाे जाएगी। क्लास बढ़ने से कमराें की जरुरत भी बढ़ेगी। क्लास 11 में तीनों संकाय (साइंस/वाणिज्य/कला) तथा साइंस संकाय के अंतर्गत फिजिक्स-केमस्ट्री-जीव विज्ञान सब्जेक्ट की लैब के लिए भी कई अतिरिक्त कमराें की जरुरत पड़ेगी। कक्षा-कक्षाें की जरुरत के बारे में अभी से गंभीरता नहीं दिखाई ताे फिर दिक्कत हाेगी। रामकरण जाेशी राउमावि में कक्षा-कक्षाें की पहले ही कमी है, इसे देखते हुए केंद्रीय विद्यालय के लिए अाैर कमरे देना संभव नहीं हाेगा। इस बारे में चेयरमैन के नाते कलेक्टर के साथ-साथ सांसद जसकाैर मीणा काे भी अागे अाने की जरुरत है।

बजट की काेई समस्या नहीं है, मंत्री से बात हाे गई है

दाैसा केंद्रीय विद्यालय के लिए बजट की काेई समस्या नहीं है। पिछले दिनों मैं मंत्री से मिली थी अाैर केंद्रीय विद्यालय की बिल्डिंग निर्माण के बारे में चर्चा की थी। चर्चा में यह बात सामने अाई कि समस्या बजट की नहीं, बल्कि केंद्रीय विद्यालय संगठन की अनदेखी के कारण है। जल्द ही केबी संगठन से भी बात करूंगी अाैर जल्द से जल्द टेंडर प्रक्रिया पूरी कर बिल्डिंग निर्माण का काम शुरू कराया जाएगा।
-जसकाैर मीणा, सांसद, दाैसा

स्कूल के नाम जमीन पर बजट मिले ताे बने बिल्डिंग

केंद्रीय विद्यालय की अलग से नई बिल्डिंग बनाने के लिए करीब 5 साल पहले महेश्वरा खुर्द में 15 एकड़ जमीन अावंटित की गई थी। उस जमीन के ऊपर से बिजली की हाई वॉल्टेज लाइन के तार गुजर रहे थे, जिससे बिल्डिंग का निर्माण कार्य शुरू नहीं हाे सका। बाद में बिजली की लाइन शिफ्ट कर दी अाैर जमीन काे भी समतल कर दिया गया, लेकिन बिल्डिंग निर्माण के लिए अब तक नींव ही नहीं लगी है। इसके लिए बजट की कमी बताई जा रही है। बजट राज्य या केंद्र सरकार नहीं, बल्कि दिल्ली स्थित केंद्रीय विद्यालय संगठन के हैड अाॅफिस द्वारा जारी किया जाता है। एेसे में सांसद जसकाैर मीणा पहल करें ताे केंद्रीय विद्यालय की बिल्डिंग के निर्माण के लिए जल्द से जल्द बजट मिलना संभव हाेगा।

दौसा| केंद्रीय विद्यालय का भवन।
खबरें और भी हैं...