चिकित्सकों के नहीं मिलने पर मरीजों ने किया हंगामा

Dausa News - भास्कर न्यूज | दौसा ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थय केन्द्र कुंडल पर चिकित्सकों व कर्मचारियों के नहीं मिलने पर...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 08:10 AM IST
Dausa News - rajasthan news patients created ruckus when doctors were not found
भास्कर न्यूज | दौसा ग्रामीण

प्राथमिक स्वास्थय केन्द्र कुंडल पर चिकित्सकों व कर्मचारियों के नहीं मिलने पर अस्पताल पहुंचे मरीजों ने अस्पताल में जमकर हंगामा कर विरोध जताया।

सुबह एक भी कर्मचारी के नहीं मिलने पर दुर्घटना में घायल का इलाज कराने पहुंचे परिजनों ने जमकर हंगामा किया। लोगों ने बताया कि केन्द्र पर 16 कर्मचारियों व पांच चिकित्सकों की नियुक्ति होने के बाद भी एक भी कर्मचारी के रात्रि को नहीं ठहरने की शिकायत करने पर कार्यरत कर्मचारी आए दिन मरीजों को थाने में बंद कराने की धमकी देकर दबाए जाने का प्रयास करते हैं। तीन पहले भी अस्पताल 11 बजे ही बंद हो गया तथा कार्यरत चिकित्सक मेडिकल स्टोर पर जाकर बैठकर फीस लेकर मरीज देख रहे थे। बाद में मौके पर पहुंचे चिकित्साधिकारी ने कोलवा थाना पुलिस को बुला लिया तथा मुकदमे में फंसाने की धमकी दी।

कैलाश मीणा भावती ने बताया कि दो दिन पहले प|ी जम्बूरी देवी को तबीयत खराब होने पर अस्पताल में ले जाकर भर्ती कराया था। कार्यरत चिकित्सक ने पहले भर्ती करके हाथ में बोतल भी लगा दी, लेकिन बीच में ही डॉक्टर द्वारा फीस दिए जाने की मांग की। फीस के पैसे नहीं देने पर प|ी के साथ चिकित्सक ने गाली गलौज करके अभद्रता की तथा हाथ में लगी ड्रीप की नली तक को हटाकर अस्पताल से बाहर धक्का देकर निकालने की धमकी दे दी। जिसकी शिकायत कलेक्टर को की। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे। सरपंच राजेन्द्र शर्मा ने जब अस्पताल प्रभारी से 8:45 बजे तक नहीं आने का कारण जानना चाहा तो अस्पताल प्रभारी ने सरपंच तक से अभद्रता कर दी। सरंपच के साथ हुई अभद्रता की सूचना लगते ही मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई।

डॉक्टरों व कर्मचारियों के आवास पर लाखों खर्च

अस्पताल परिसर के पास ही डॉक्टरों व कर्मचारियों को रहने के लिए अस्पताल परिसर के पास ही लाखों की लागत से आवासों का निर्माण कराया गया था, लेकिन आवासों के निर्माण के बाद से ही आवास सूने पड़े हुए हैं।

जांच कराकर पाबंद किया जाएगा

सीएमएचओ डॉ.ओ.पी. बैरवा का कहना है कि रात्रि को सभी चिकित्सकों को मुख्यालय पर ही रहने को पाबंद कर रखा है। रात्रि को अस्पताल में चिकित्सक व कर्मचारियों के नहीं ठहरने की अभी शिकायत मिली थी। जांच कराकर कर्मचारियों काे मुख्यालय पर रहने के लिए पाबंद किया है।

मरीजों को थाने में बंद करा देने की धमकी देता है स्टाफ

दौसा ग्रामीण| सीएमएचओ के समक्ष शिकायत करता सरपंच।

अधिकारियों को सुनाई खरी-खोटी

गुस्साए लोगों ने मौके पर पहुंचे अधिकारियों को जमकर खरी खेटी सुनाई तथा चिकित्सक निर्मल कुमार मीणा के खिलाफ मौके पर ही जनप्रतिनिधियों के साथ की गई अभद्रता पर कारवाई की मांग की। लोगों ने बताया कि सीएमएचओ द्वारा चिकित्सकों व कर्मचारियों को संरक्षण दे रखा है। लोगों ने बताया कि शाम 6 बजे बाद ही कर्मचारियों के दौसा चले जाने के कारण अस्पताल पर ताले लटक जाते है। कर्मचारी दौसा से अपडाउन करता है जो 9 बजे अस्पताल पहुंचते है तथा तीन चार बजे वापिस कार से रवाना हो जाता है। जिसके चलते सड़क मार्ग पर होने वाली दुर्घटना के घायलो व आसपास के गांवों से रात्रि को आने वाले मरीजों को इलाज के लिए दौसा जाना पड़ता है।

X
Dausa News - rajasthan news patients created ruckus when doctors were not found
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना