• Hindi News
  • Rajasthan
  • Dausa
  • Sikrai News rajasthan news teachers met with governor on problems accused of harassing under the guise of transfers

समस्याओं को लेकर राज्यपाल से मिले शिक्षक, तबादलों की आड़ में प्रताड़ित करने का आरोप

Dausa News - राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत के प्रतिनिधिमंड़ल ने प्रदेश में शिक्षा मंत्री द्वारा बिना किसी नीति एवं नियमों के...

Jan 16, 2020, 10:55 AM IST
Sikrai News - rajasthan news teachers met with governor on problems accused of harassing under the guise of transfers
राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत के प्रतिनिधिमंड़ल ने प्रदेश में शिक्षा मंत्री द्वारा बिना किसी नीति एवं नियमों के प्रधानाचार्य, प्रधानाध्यापक एवं व्याख्याताओं का तबादला कर प्रताडि़त करने एवं स्कूलों में शिक्षण व्यवस्था प्रभावित करने का आरोप लगाते हुए विभिन्न मांगों एवं समस्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा।

संघ के प्रदेशाध्यक्ष चंद्रशेखर शर्मा व कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष रामस्वरूप चतुर्वेदी के नेतृत्व में राज्यपाल कलराज मिश्र से मिले शिक्षक नेताओं के प्रतिनिधिमंड़ल ने ज्ञापन में बताया कि प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद सरकार ने प्रदेश के बिना कोई नियम व नीति लागू किए विधायकों की डिजायर के आधार पर प्रधानाचार्य, प्रधानाध्यापक एवं व्याख्याताओं को राजनैतिक द्वेषता के कारण स्थानांतरित कर प्रताडि़त किया गया है। उन्होंने बताया कि सरकार व विभाग को श्रेष्ठ परिणाम देने वाले स्कूलों के शिक्षकों के भी बिना कारण ही स्थानांतरण कर दिए, जिससे स्कूलों में प्रभावित व्यवस्थाओं को लेकर स्कूलों में तालाबंदी व राजमार्ग जाम की घटनाएं हुई। उन्होंने बताया कि सरकार शिक्षकों के साथ बंधुआ मजदूरों जैसा व्यवहार कर रही है। आए दिन असंगत आदेश जारी कर सार्वजनिक बाल सभा, प्रशिक्षण सहित अन्य गतिविधियों के नाम पर सार्वजनिक अवकाश के दिन भी शिक्षकों को उपस्थित होने के लिए बाध्य किया जा रहा है। उन्होंने राज्यपाल से स्थानांतरण सहित अन्य सात बिंदुओं पर सरकार से रिपोर्ट लेकर समीक्षा कर कार्रवाई की मांग की। इस दौरान प्रांतीय सभाध्यक्ष सुरेश पारीक, उपाध्यक्ष दामोदर शर्मा, रविंद्र दौसा सहित अन्य शिक्षक नेता मौजूद थे।

गैर शैक्षणिक कार्याें से मुक्त करने की भी उठाई मांग

संघ के कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष रामस्वरूप चतुर्वेदी ने बताया कि राज्यपाल को ज्ञापन देकर सर्वोच्च न्यायालय व उच्च न्यायालय के द्वारा शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्यों से पूर्णतया मुक्त रखने के निर्णय की पालना कराने की मांग की। उन्होंने बताया कि प्रदेश में न्यायपालिका के निर्णय के बावजूद भी शिक्षकों को मिड डे मील, भवन निर्माण, बीएलओ, आर्थिक गणना सहित अन्य गैर शैक्षणिक कार्यों में लगा रखा है। जिससे स्कूलों में शिक्षण व्यवस्था प्रभावित हो रही है। 21 सूत्री मांग पत्र सौंपा कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष चतुर्वेदी ने बताया कि संघ के प्रतिनिधिमंड़ल की ओर से राज्यपाल को शिक्षकों की 21 लंबित प्रशासनिक एवं आर्थिक मांगों को लेकर ज्ञापन दिया गया। जिसमें स्कूलों का समय परिवर्तन, एक जुलाई से 15 मई तक शिक्षण दिवस एवं 16 मई से 30 जून तक ग्रीष्मावकाश घोषित किए जाने, शिक्षक प्रशिक्षण शिविर गैर आवासीय व गृह जिले में आयोजित कराने, एकीकरण के नाम पर बंद स्कूलों को पुन: चालू करने, पीपीपी मोड पर दिए स्कूलों के आदेशों को निरस्त करने, प्रबोधक पद के स्थान पर अध्यापक में परिवर्तित कर वरिष्ठता सूची में शामिल करने, जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालयों में विधि सहायक का पद स्वीकृत करने सहित अन्य मांगों को लेकर जल्द कार्रवाई की मांग की।

X
Sikrai News - rajasthan news teachers met with governor on problems accused of harassing under the guise of transfers
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना