पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Dausa News Rajasthan News Tree Plant Is The Identity Of Progressive Nation

पेड़ पौधे ही प्रगतिशील राष्ट्र की पहचान

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज | दौसा ग्रामीण

दैनिक भास्कर की और से शुरू किए एक पेड़ एक जिंदगी अभियान कार्यक्रम के तहत बुधवार को राजकीय माध्यमिक विद्यालय गढ़ परिसर में पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित किया गया। पौधारोपण कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि के पद से बोलते हुए जिला परिषद सदस्य हीरालाल सैनी ने कहा कि पेड़ पौधे ही प्रगतिशील राष्ट्र की पहचान है। जिसकी सुरक्षा रखने के लिए हमें संकल्प लेना चाहिए । प्रधानाचार्य लटूरमल बैरवा ने कहा कि मनुष्य को अपने जीवन की हर खुशी को यादगार बनाने के लिए खुशी के मौके पर एक पौधा अवश्य लगाना चाहिए । ताकि पौधे के बढ़ने के साथ साथ जीवन की खुशी भी यादगार बनती रहे।

बसन्तीलाल मीणा ने कहा कि पर्यावरण के संतुलन रखने के लिए पौधारोपण बहुत जरूरी है । पौधों के माध्यम से ही मनुष्य को स्वस्थ्य रहने के लिए शुद्व वायु मिलती है । भरतलाल मीणा ने कहा कि पौधों को लगाना तभी सार्थक माना जावेगा जब पौधे की परवरिश पुत्र के समान कर उसे पाले। पौधे लगाना पुण्य कमाने से भी बड़ा पुनीत कार्य होता है। इस दौरान कमलेश मीणा, मुरारीलाल शर्मा,दीपक पाराशर, रमेश चन्द्र बैरवा, हिम्म्तसिंह, कजोड़सिंह, कैलाश चन्द्र मीणा, महेश चन्द्र शर्मा, सत्यनारायण शर्मा आदि मौजूद थे ।

स्कूल में लगाए पौधे

पापड़दा | दैनिक भास्कर एक पेड़ एक जिंदगी अभियान के तहत मंगलवार को राजकीय प्राथमिक विद्यालय सती वाली ढाणी खवारावजी में स्कूली बालकों व शिक्षकों ने विद्यालय परिसर में पौधे लगाए। पीईओ राम जांगिड़ के हाथों यहां पौधरोपण कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। उन्होंने ने बालको को अपने घर पर एक पौधा लगाने के लिए प्रेरित किया। प्रधानाचार्य कुबेर सिंह गुर्जर ने बताया कि विद्यालय में नीम करंज केशर श्यामा अशोक आदि के पेड लगाए गए। इस अवसर पर अध्यापक रोशन शर्मा अंकित शर्मा सहित स्कूली बालकों ने विद्यालय में कुल 48 पौधे लगाए। गौरतलब है कि दैनिक भास्कर की पहल पर जहां लोग गर्मियों में पक्षियों के लिए परिंडा लगाते हैं। तो अभी आम आदमी भी इस से प्रेरित होकर पेड लगा रहे हैं। इसी तरह जौंण गांव किले के समीप श्मशान घाट में ग्रामीणों द्वारा पेड लगाए। जिसमें पीपल नीम शहतूत आदि के पौधे पक्षियों के लिए लगाए गए।

दौसा (ग्रामीण) | पौधरोपण करते शिक्षक व विद्यार्थी।

खबरें और भी हैं...