• Home
  • Rajasthan News
  • Deeg News
  • भारत बंद का व्यापारियों और अनारक्षित वर्ग ने किया कड़ा विरोध, रैली निकाली
--Advertisement--

भारत बंद का व्यापारियों और अनारक्षित वर्ग ने किया कड़ा विरोध, रैली निकाली

कस्बा भुसावर के बरपाड़ा मोहल्ला स्थित ब्राह्मण धर्मशाला पर व्यापार महासंघ एवं समता आंदोलन समिति के संयुक्त...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:25 AM IST
कस्बा भुसावर के बरपाड़ा मोहल्ला स्थित ब्राह्मण धर्मशाला पर व्यापार महासंघ एवं समता आंदोलन समिति के संयुक्त तत्वावधान में अनारक्षित वर्ग सर्व समाज की बैठक नत्थूसिंह की अध्यक्षता हुई। बैठक में उपस्थित सैकड़ों लोगों ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा हाल ही में एससी एसटी एक्ट को लेकर दिए गए फैसले का समर्थन किया और अनुसूचित जाति जनजाति वर्ग द्वारा 2 अप्रैल को भारत बंद का विरोध कर ज्ञापन सौंपा।

जनूथर | कस्बा की अंबेडकर धर्मशाला में एससी-एसटी मोर्चा की बैठक पंच बाबूलाल धोबी अध्यक्षता में हुई जिसमें दलितों के साथ हो रहे अत्याचार के विरोध में 2 अप्रैल को होने वाले भारत बंद का कोली समाज, हरिजन, जाटव, धोबी समाज की सहमति से समर्थन करने का निर्णय लिया गया।

वैर | भारत बंद को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक थाना परिसर में हुई जिसमें सोमवार को भारत बंद के दौरान पुलिस व्यवस्था चाक चौबंद रखने पर चर्चा की गई।

भुसावर. रैली में शामिल लोग।

व्यापारी खोलेंगे बाजार, समिति निकालेगी रैली

बयाना | व्यापार महासंघ ने बाजार खुले रखने का निर्णय लिया है। व्यापार महासंघ के महामंत्री ओमप्रकाश लहचोरा ने बताया कि कार्यकारिणी ने बाजार खुले रखने का निर्णय लिया। वहीं एससी, एसटी वर्ग संघर्ष समिति की ओर से सोमवार को बाजारों में होकर रैली निकाली जाएगी। डीग | पुलिस कोतवाली पर रविवार को डीग सेक्टर से जुड़े विभिन्न थानों के पुलिस थानाधिकारियों की बैठक डीग के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कविया ने लेकर निर्देश दिए कि 2 अप्रैल को प्रस्तावित भारत बंद के दौरान कानून व्यवस्था नहीं बिगड़नी चाहिए।

कुम्हेर बंद का आह्वान

कुम्हेर | इंदिरा पार्क में रविवार को दोपहर 1 बजे अनुसूचित जाति एवं जनजाति एकता मंच की बैठक नगर पालिका चेयरमैन महेंद्रसिंह जाटव की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में भारत बंद का आह्वान किया गया। बैठक में 2 अप्रैल को कस्बा कुम्हेर के मुख्य बाजार एवं सब्जी मंडी जैसे प्रतिष्ठानों को शांतिपूर्ण तरीके से बंद करने का निर्णय लिया गया।