• Hindi News
  • Rajasthan
  • Degana
  • हमने किसान हितों के लिए जो किया, कांग्रेस 6 दशकों में भी नहीं कर पाई : मंत्री किलक

हमने किसान हितों के लिए जो किया, कांग्रेस 6 दशकों में भी नहीं कर पाई : मंत्री किलक / हमने किसान हितों के लिए जो किया, कांग्रेस 6 दशकों में भी नहीं कर पाई : मंत्री किलक

Degana News - सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने कहा कि हमारी भाजपा सरकार ने किसान हित में जो कार्य किया है, वो कांग्रेस सरकार ने...

Bhaskar News Network

Aug 07, 2018, 02:55 AM IST
हमने किसान हितों के लिए जो किया, कांग्रेस 6 दशकों में भी नहीं कर पाई : मंत्री किलक
सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने कहा कि हमारी भाजपा सरकार ने किसान हित में जो कार्य किया है, वो कांग्रेस सरकार ने आजादी के बाद के 6 दशकों में नहीं किया। भाजपा सरकार झूठे वादों के बजाय कर्म में विश्वास करती है यही कारण रहा है कि सहकारिता विभाग ने योजनाबद्ध कार्य कर किसानों को राहत दिलाई है। भंडारण की समस्या से जूझते प्रदेश में हर समिति स्तर पर गोदाम बनवाए, नए किसानों को ऋण प्रक्रिया से जोड़कर अधिकाधिक ऋण देने के रिकॉर्ड तोड़े है। वहीं अब मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने किसानों का 50 हजार रुपए तक का ऋण माफ कर बड़ी राहत प्रदान की है। मंत्री किलक ने क्षेत्र के बरना में आयोजित ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण शिविर के दौरान यह बात कही। वहीं चुई गांव में अनाज भंडारण के लिए गोदाम की आवश्यकता थी। सरकार की स्वीकृति के बाद जमीन की आवश्यकता होने पर गांव के केदारमल ओझा आगे आए और जमीन दान दी। जिस पर 10 लाख की लागत से गोदाम का निर्माण हुआ। मंत्री किलक ने सोमवार को गोदाम का लोकार्पण किया और भामाशाह ओझा का अभिनंदन किया। किलक ने भूमि दान करने पर केदारमल ओझा की प|ी केसरदेवी का भी शॉल ओढ़ाकर अभिनंदन किया। इस दौरान एसडीएम रविंद्र चौधरी, एमडी पीपी चौधरी, सरपंच जगदीश प्रजापत, राजेंद्र सिंह जाखेड़ा, हनुमानसिंह, जीएसएस अध्यक्ष बालूराम चोयल, झूमरराम चोयल, गंगासिंह चुई, पूरणमल गुर्जर, सांवरराम शर्मा, नाथूलाल विश्नोई, सुशील जांगिड़, मूलाराम बेनीवाल, छोटूलाल, किशन सिंह, युवा नेता नेमाराम गोदारा समेत अनेक व्यवस्थापक व सदस्य उपस्थित थे।

किसानों को मिल रहा तिहरा लाभ : किलक

मंत्री किलक ने सोमवार को ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण शिविर के दौरान कहा कि इन शिविरों में किसानों को तिहरा लाभ दिया जा रहा है। फसली ऋण में 50 हजार की राशि एकमुश्त माफ की जा रही है, वहीं मौके पर ही नए ऋण के लिए किसानों से आवेदन लिए जा रहे है। इसके अलावा शिविर में तीसरे लाभ के रूप में किसानों का 10 लाख का बीमा किया जा रहा है। जिसके लिए व्यवस्थापकों को पाबंद किया है।

3 गांवों का 5 करोड़ से अधिक का ऋण माफ

मंत्री किलक ने बताया कि शिविर में बरना के 436 किसानों का 1 करोड़ 25 लाख, चुई के 413 किसानों का 1 करोड़, डावोली मीठी के 331 किसानों का 1 करोड़, 5 लाख व जाखेड़ा के 532 किसानों का 1 करोड़ 80 लाख का ऋण माफ कर ऋण प्रमाण पत्र दिए। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में किसानों का ऋण माफ करना ऐतिहासिक है।

भास्कर संवाददाता | डेगाना

सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने कहा कि हमारी भाजपा सरकार ने किसान हित में जो कार्य किया है, वो कांग्रेस सरकार ने आजादी के बाद के 6 दशकों में नहीं किया। भाजपा सरकार झूठे वादों के बजाय कर्म में विश्वास करती है यही कारण रहा है कि सहकारिता विभाग ने योजनाबद्ध कार्य कर किसानों को राहत दिलाई है। भंडारण की समस्या से जूझते प्रदेश में हर समिति स्तर पर गोदाम बनवाए, नए किसानों को ऋण प्रक्रिया से जोड़कर अधिकाधिक ऋण देने के रिकॉर्ड तोड़े है। वहीं अब मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने किसानों का 50 हजार रुपए तक का ऋण माफ कर बड़ी राहत प्रदान की है। मंत्री किलक ने क्षेत्र के बरना में आयोजित ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण शिविर के दौरान यह बात कही। वहीं चुई गांव में अनाज भंडारण के लिए गोदाम की आवश्यकता थी। सरकार की स्वीकृति के बाद जमीन की आवश्यकता होने पर गांव के केदारमल ओझा आगे आए और जमीन दान दी। जिस पर 10 लाख की लागत से गोदाम का निर्माण हुआ। मंत्री किलक ने सोमवार को गोदाम का लोकार्पण किया और भामाशाह ओझा का अभिनंदन किया। किलक ने भूमि दान करने पर केदारमल ओझा की प|ी केसरदेवी का भी शॉल ओढ़ाकर अभिनंदन किया। इस दौरान एसडीएम रविंद्र चौधरी, एमडी पीपी चौधरी, सरपंच जगदीश प्रजापत, राजेंद्र सिंह जाखेड़ा, हनुमानसिंह, जीएसएस अध्यक्ष बालूराम चोयल, झूमरराम चोयल, गंगासिंह चुई, पूरणमल गुर्जर, सांवरराम शर्मा, नाथूलाल विश्नोई, सुशील जांगिड़, मूलाराम बेनीवाल, छोटूलाल, किशन सिंह, युवा नेता नेमाराम गोदारा समेत अनेक व्यवस्थापक व सदस्य उपस्थित थे।

X
हमने किसान हितों के लिए जो किया, कांग्रेस 6 दशकों में भी नहीं कर पाई : मंत्री किलक
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना