• Hindi News
  • Rajasthan
  • Degana
  • डेगाना में Rs.25 लाख से बन रहा फायर स्टेशन, तैयार होते ही मिलेगी दमकल
--Advertisement--

डेगाना में Rs.25 लाख से बन रहा फायर स्टेशन, तैयार होते ही मिलेगी दमकल

Degana News - डेगाना शहर व इसके अलावा क्षेत्र के करीब दो सौ गांवों को बड़ी सौगात मिली है। यहां पर फायर स्टेशन का निर्माण कार्य...

Dainik Bhaskar

Aug 09, 2018, 03:50 AM IST
डेगाना में Rs.25 लाख से बन रहा फायर स्टेशन, तैयार होते ही मिलेगी दमकल
डेगाना शहर व इसके अलावा क्षेत्र के करीब दो सौ गांवों को बड़ी सौगात मिली है। यहां पर फायर स्टेशन का निर्माण कार्य जोर-शोर से चल रहा है। वही टेंडर अनुबंध के मुताबिक अगले दो महीनों में यहां काम भी पूरा हो जाएगा।

जिससे क्षेत्र में कहीं पर भी आगजनी की घटना होने पर डेगाना से ही अग्निशमन गाड़ी मौके पर पहुंच सकेगी और आग पर काबू पा सकेगी। गौरतलब है कि अक्टूबर 2015 में शहर के एक डिपार्टमेंटल स्टोर में आग लग गई थी। शहर में अग्निशमन केंद्र नहीं होने से करीब 65 किलोमीटर दूर मेड़ता सिटी से अग्निशमन की गाड़ी मंगवाई गई थी। जिस कारण आग पर समय रहते काबू नहीं पाया जा सका था। जिस कारण लोगों में भी आक्रोश फैला और लोगों ने अग्निशमन केंद्र डेगाना में ही खोले जाने की मांग रखी। इसके बाद में भास्कर की ओर से भी शहर में अग्निशमन केंद्र नहीं होने की बात प्रमुखता से प्रकाशित की गई थी।

हमने प्रयास कर दिलवाई सौगात

सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने बताया कि डेगाना में अग्निशमन केंद्र खुलवाने के लिए उन्होंने यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी से मुलाकात की थी। इसमें उन्होंने उन्हें मौखिक स्वीकृति दी थी। इसके बाद विभाग ने तैयार किए प्रस्ताव में डेगाना को शामिल किया और डेगाना को फायर स्टेशन की सौगात मिल पाई।

क्या है अग्निशमन केंद्र खुलने की प्रक्रिया

फिलवक्त राज्य में अग्निशमन सेवाओं के संबंध में अधिनियम या नियम नहीं बने हुए है। स्टेंडिंग फायर एडवायजरी कमेटी, गृह मंत्रालय द्वारा जारी अभिशंषाओं के अनुसार कार्रवाई की जाती है। इसके अनुसार 2006 में निर्धारित मापदंड अनुसार शहरी क्षेत्र में प्रति 10 वर्ग किमी के दायरे में व ग्रामीण क्षेत्र में प्रति 50 वर्ग किमी क्षेत्र में एक अग्निशमन केंद्र की स्थापना की अनुशंषा की थी। जिसके बाद वित्त विभाग द्वारा स्वायत्त शासन विभाग द्वारा भेजे गए प्रस्तावों पर उपलब्ध वित्तीय संसाधनों अनुसार निर्णय लिया जाता है।

अभी 55 किलोमीटर दूर से आती है दमकल

गौरतलब है कि फिलहाल डेगाना क्षेत्र में दमकल नहीं है। मेड़ता दमकल को सूचित किया जाता है। मेड़ता से दमकल आने में करीब एक घंटा लग जाता है। तब तक आग से बड़ा नुकसान हो जाता है। तय मानदंड अनुसार प्रति 55,000 हजार आबादी से 3 लाख की आबादी तक एक अग्निशमन वाहन होना आवश्यक है। जबकि 2011 की जनगणना अनुसार डेगाना क्षेत्र के 200 गांवों में तकरीबन 5 लाख की आबादी है। ऐसे में क्षेत्र वर्षों से उपेक्षित रहा है।

छह कर्मचारी व अग्निशमन वाहन मिलेगा

डेगाना नगर पालिका अधिशाषी अधिकारी रामरतन चौधरी ने बताया कि शहर के झगड़वास क्षेत्र की सरकारी मॉडल स्कूल के पास अग्निशमन केंद्र का निर्माण शुरू हो गया है। जो करीब 25 लाख की लागत से बन रहा है। यहां 8000 लीटर क्षमता का टैंक भी बन रहा है। ईओ ने बताया कि दो महीने में फायर स्टेशन का काम पूरा हो जाएगा और उसी समय अग्निशमन वाहन भी मिल जाएगा। उन्होंने बताया कि यहां कंट्रोल रूम, वाटर स्टोरेज समेत अन्य जरूरी निर्माण होगा व 6 अधिकारी व कार्मिकों की पोस्टिंग की जाएगी।

X
डेगाना में Rs.25 लाख से बन रहा फायर स्टेशन, तैयार होते ही मिलेगी दमकल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..