• Hindi News
  • Rajasthan
  • Degana
  • मोडी कलां में 231 किसानों का 53 लाख तो पालड़ी के 501 किसानों का 1.32 करोड़ का ऋण माफ

मोडी कलां में 231 किसानों का 53 लाख तो पालड़ी के 501 किसानों का 1.32 करोड़ का ऋण माफ / मोडी कलां में 231 किसानों का 53 लाख तो पालड़ी के 501 किसानों का 1.32 करोड़ का ऋण माफ

Degana News - भास्कर संवादददाता | डेगाना/हरसौर सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने कहा कि वसुंधरा सरकार ने किसान हितों को...

Bhaskar News Network

Aug 12, 2018, 04:05 AM IST
मोडी कलां में 231 किसानों का 53 लाख तो पालड़ी के 501 किसानों का 1.32 करोड़ का ऋण माफ
भास्कर संवादददाता | डेगाना/हरसौर

सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने कहा कि वसुंधरा सरकार ने किसान हितों को प्राथमिकता देते हुए सरकारी खजाना किसानों के लिए खोल दिया है। किसानों की 50 हजार रुपए तक की ऋण माफी, किसानों की फसलों का भुगतान सीधे किसानों के खाते में करने और कृषि ऋणों पर अनुदान बढ़ा ब्याज दर कम करने व किसानों का दुर्घटना बीमा 6 लाख तक किए जाने जैसे निर्णय किसान हित में ऐतिहासिक रहे है। सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने मोड़ी में आयोजित ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण शिविर के दौरान कहा कि वसुंधरा सरकार की नियत और नीति किसानों को लेकर एकदम साफ है। किसानों को उसकी फसल का लागत मूल्य मिलने, आय में बढ़ोतरी व सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित करना ही, इस सरकार का उद्देश्य रहा है। शनिवार को क्षेत्र के मोड़ी, बिखरनिया, पालड़ी व नथावड़ा में सहकारिता विभाग द्वारा ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण शिविर के लिए आयोजन किए गए। मंत्री के निजी सचिव रामावतार पारीक ने बताया कि इस दौरान नथावड़ा के 468 किसानों का 1 करोड़ 34 लाख, पालड़ी के 501 किसानों का 1 करोड़ 32 लाख, बिखरनिया के 539 किसानों का 1 करोड़ 80 लाख व मोड़ी कला के 231 किसानों का 53 लाख रुपए का लोन माफ किया गया। एमडी पीपी चौधरी ने बताया कि शिविर से किसानों को 50,000 तक के एकमुश्त ऋण माफी के लिए प्रमाण पत्र देने के साथ ही नए ऋण के लिए आवेदन भी लिए जा रहे है। वहीं किसानों का राज किसान कल्याण सहकार योजना के तहत 6 लाख का बीमा भी किया जा रहा है। वहीं क्षेत्र में आयोजित शिविरों में सामाजिक सुरक्षा के सिद्धांत का प्रतिपादन करते हुए मृतक किसान के परिवार को बीमा राशि शिविर में मौके पर ही देकर संबल देने का प्रयास किया जा रहा है। ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण के दौरान सहकारी बैंकों के अधिकारी कार्मिक, समितियों के सदस्य व व्यवस्थापक समेत लाभार्थी ग्रामीण उपस्थित रहे।

हरसौर. ऋण माफी शिविर मेेें प्रमाण-पत्र वितरित करते सहकारिता मंत्री किलक।

भास्कर संवादददाता | डेगाना/हरसौर

सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने कहा कि वसुंधरा सरकार ने किसान हितों को प्राथमिकता देते हुए सरकारी खजाना किसानों के लिए खोल दिया है। किसानों की 50 हजार रुपए तक की ऋण माफी, किसानों की फसलों का भुगतान सीधे किसानों के खाते में करने और कृषि ऋणों पर अनुदान बढ़ा ब्याज दर कम करने व किसानों का दुर्घटना बीमा 6 लाख तक किए जाने जैसे निर्णय किसान हित में ऐतिहासिक रहे है। सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने मोड़ी में आयोजित ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण शिविर के दौरान कहा कि वसुंधरा सरकार की नियत और नीति किसानों को लेकर एकदम साफ है। किसानों को उसकी फसल का लागत मूल्य मिलने, आय में बढ़ोतरी व सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित करना ही, इस सरकार का उद्देश्य रहा है। शनिवार को क्षेत्र के मोड़ी, बिखरनिया, पालड़ी व नथावड़ा में सहकारिता विभाग द्वारा ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण शिविर के लिए आयोजन किए गए। मंत्री के निजी सचिव रामावतार पारीक ने बताया कि इस दौरान नथावड़ा के 468 किसानों का 1 करोड़ 34 लाख, पालड़ी के 501 किसानों का 1 करोड़ 32 लाख, बिखरनिया के 539 किसानों का 1 करोड़ 80 लाख व मोड़ी कला के 231 किसानों का 53 लाख रुपए का लोन माफ किया गया। एमडी पीपी चौधरी ने बताया कि शिविर से किसानों को 50,000 तक के एकमुश्त ऋण माफी के लिए प्रमाण पत्र देने के साथ ही नए ऋण के लिए आवेदन भी लिए जा रहे है। वहीं किसानों का राज किसान कल्याण सहकार योजना के तहत 6 लाख का बीमा भी किया जा रहा है। वहीं क्षेत्र में आयोजित शिविरों में सामाजिक सुरक्षा के सिद्धांत का प्रतिपादन करते हुए मृतक किसान के परिवार को बीमा राशि शिविर में मौके पर ही देकर संबल देने का प्रयास किया जा रहा है। ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण के दौरान सहकारी बैंकों के अधिकारी कार्मिक, समितियों के सदस्य व व्यवस्थापक समेत लाभार्थी ग्रामीण उपस्थित रहे।

X
मोडी कलां में 231 किसानों का 53 लाख तो पालड़ी के 501 किसानों का 1.32 करोड़ का ऋण माफ
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना